Stone – Symptoms, Cure and Treatment – किसी भी तरह की पथरी के लक्षण, बचाव और इलाज

Stone – Symptoms, Cure and Treatment – किसी भी तरह की पथरी के लक्षण, बचाव और इलाज

Stone Symptoms Cure Treatment

पथरी होना आजकल एक आम समस्या. (Normal problem) बन गयी है अगर किसी को पथरी हो जाये तो उसको बहुत तकलीफ झेलनी. (Very painful) पढ़ती है इसीलिए आज हम आपको इस health article में पथरी के इलाज के बारे में बताएँगे जो एकदम सरल और प्रभावी. (Easy and effective)  भी है पथरी औरतों की अपेक्षा मर्दों में तीन गुना अधिक पाई जाते है और ज़्यादातर पथरी 20 से लेकर 30 साल तक के लोगों. (Peoples) में देखने को मिलते है अगर आप जानना चाहते हैं के पथरी के लक्षण. Symptoms of stone) क्या होते हैं और इसका इलाज कैसे संभव है तो इस health post को अंत तक पढ़िए.

यह भी पढ़ें :-  यह है वह 10 तरिके जिनसे बहुत तेज रफ्तार से बढ़ता है मेटाबॉलिज्म

पथरी के लक्षण – Pathri Ke Lakshan In Hindi

पेट के निचले हिस्से (below stomach) में आपको पथरी के लक्षण देखने को मिलते हैं मतलब टुंडी से नीचे और गुप्तांग के ठीक ऊपर के हिस्से में इसका दर्द. (Pain in that part) होता है और ये दर्द कभी बहुत तेज़ होता है तो कभी धीरे धीरे और ये दर्द. (Very painful) कभी कुछ देर के लिए होता है और कभी कभी बहुत लम्बे समय तक लगातार बन रहता है बीच बीच में इस दर्द में थोड़ी रहत  (relief from pain) भी रोगी को मिलती रहती है. पथरी के लक्षण का एक और रूप देखने को मिलता है जिसमे रोगी को उल्टी होनेकी शिकायत. (Symptoms of vomiting in stone) या जी मचलाने लगता है.

सामान्य तोर पर पथरी के लक्षण शुरुआती तोर. (Early stage) पर ही पहचान लिए जाते हैं इसमें शामिल हैं बार बार पेशाब आना, पेशाब. (urine) करते वक़्त दर्द का होने, या रुक रुक कर पेशाब आना, एकदम से बहुत तेज़ी से पेशाब आना और पेशाब करने पर बूँद बूँद, या थोड़ा थोड़ा पेशाब. (Slow urination) निकलना. कुछ लोगों को अंडकोषों में दर्द होने की शिकायत होती है और पेशाब का रंग असामान्य हो जाता है ये पथरी के प्रमुख लक्षण होते हैं.

Stone Symptoms Cure Treatment

पथरी होने के प्रमुख कारण – Main reason of stone problem

वैसे तो सामान्यतः पथरी किसी को भी हो सकती है. (Anyone can be victim) लेकिन अधिकतर इसका एक मुख्य कारण ये देखा गया है की जब किसी खान पान की वजह से. (Thick urine) मूत्र गाढ़ा हो जाता है तो पथरी बनना चालू हो जाती है और ये गाढ़े पेशाब के कण धीरे धीरे जमा. (Collects in the body slowly) होने लगते हैं और कुछ दिनों में वो पथरी का रूप ले लेते हैं. और जब ये मूत्र मार्ग में रुकावट. (Problem) डालते हैं मतलब के पेशाब करने पर दर्द महसूस होने लगता है तब रोगी को इसका एहसास (feel) होता है के उसको पथरी हो गयी है.

रोज़ खाना खाते वक़्त या हमारे शरीर में पाचन क्रिया. (Digestion system)  के ठीक से न होने के कारण जो केल्शियम और फास्फेट के कण रह जाते हैं वो धीरे धीरे हमारे गुर्दे में. (Collects in kidney) जमा होने लगते हैं  कैल्शियम, फॉस्फेट के छोटे छोटे सूक्ष्म कण तो पेशाब के ज़रिये. (Come out through urine) बाहर निकलते रहते हैं और जो नहीं निकल पाते वो धीरे धीरे एक दुसरे से मिलकर जमा (collects) होते रहते हैं और एक दिन ये गुर्दे की पथरी के रूप में नज़र आते हैं.

पथरी होने का मुख्य कारण. (main reason) आपके शरीर मे ज़रूरत से ज़्यादा मात्रा मे कैलशियम. (More calcium) का होना है इसका सीधा ये मतलब है के जिनको पथरी हुई है उसके शरीर मे जरुरत से ज़्यादा मात्रा मे कैलशियम. (Calcium) है लेकिन वो किसी वजह से शरीर मे पच (digest) नहीं रहा है और जिनको किसी भी तरह की पथरी हो उन्हें कभी भी केल्शियम यानि के चूना नहीं. (Avoid chuna) खाना चाहिए. वो तत्काल चूना खाना बंद कर दें तो ज़्यादा अच्छा (good for them)  रहेगा.

Stone Symptoms Cure Treatment

कभी बीमार नहीं होगे अगर करोगे यह काम

पथरी का इलाज – Pathri – Stone Ka Ilaj In Hindi

आपने सुना हो शायद कभी पखानबेद नाम का एक छोटा सा. (Small plant) पौधा होता है ! कुछ लोग उसे स्थानीय भाषा में पत्थरचट्टा. (Pattharchat plant) भी बोलते है ! जिनको पथरी है वो इस पखानबेद पौधे (पत्थरचट्टा पौधा) के पत्तों को पानी. (Boil water by adding few leaves) मे अच्छी तरह से उबाल कर के काढ़ा बना लें और ठंडा. (Cold) करके पिएं इससे मात्र 10 से 15 दिन मे पूरी पथरी पेशाब के रस्ते गलकर.  (Melt) बाहर निकल जाती है. और कई बार तो इससे भी जल्दी खत्म (finishes soon) हो जाती है.

पथरी का होमियोपेथी इलाज – Homeopathy treatment of stone

पथरी के लिए होमियोपेथी (homeopathy medicine)  की एक दवा है ये आपको किसी भी होमियोपेथी की दुकान. (Shop) पर मिल जाएगी इस दवा का नाम हे वलवेरिस वलगेरिस “BERBERIS VULGARIS” आपको ये दवा के आगे लिखना है. MOTHER TINCHER मतलब इस तरह से “berberis vulgaris mother tincture” ये उसकी पोटेंसी. (potency) है और आप इस नाम से यह दवा मांगेंगे और दुकानदार. (shopkeeper) से बोलना के “मदर टिंचर” में दो तो वो दुकान वाला समझ जायेगा यह दवा आप होमियोपेथी की दुकान. (homeopathy shop) से ले आइये.

अब इस दवा की 10-15 बूंदों को एक चौथाई (1/ 4) कप में गुन गुने पानी. (warm water) मे मिलाके रोज़ाना दिन मे चार. (3-4 times) टाइम लेना है (सुबह,दोपहर,शाम और रात) को! इस दवा को आप लगातार एक से डेढ़ महीने तक इसी तरह से लेना है कभी कभी आराम पढ़ने. (2-3 months to relief) में दो महीने भी लग सकते हैं !

Stone Symptoms Cure Treatment

पत्थरचट्टा पौधे (pattharchatta plant)

आपकी जानकारी (for your information) के लिए यहाँ बता दें के ये जो दवा है वो पत्थरचट्टा पौधे. (pattharchatta plant) से ही बनी हुयी है यहाँ फर्क बस इतना है ये Dilutions liquid Form में पत्थरचट्टा पौधे का Botanical नाम “BERBERIS VULGARIS” वलवेरिस वलगेरिस ही है इस दवा. (medicine) को लेने के बाद जितने भी Stones हैं वो चाहे गॉलब्लेडर. (Gall Bladder) में हो या किडनी मे हो,या युनिद्रा के आसपास हो,या फिर मुत्रपिंड. (testicle) मे हो| वो सभी पथरी के Stones को गलाकर. (melt and throw out) बहार निकाल देती है !

ज़्यादातर 80% केस मे डेढ़ से दो महीने मे ही सब स्टोन टूट टूट. (stone breaks) के बहार निकल जाते हैं कभी कभी हो सकता हे तीन महीने. (3 months) भी लग जाएँ आप 45 दिन के बाद सोनोग्राफी करवा लें जिससे यह पता चल जायेगा के कितना स्टोन टूट. (home much it breaks) गया है और कितना बाकी रह गया है. अगर कुछ स्टोन रह गया हो तो इस दवा को कुछ दिन और ले सकते हैं इस दवा का कोई. (no side effect) साइड इफेक्ट नहीं है.

पथरी के निकल जाने के बाद आप क्या करें? – What to do when stone removes

एक बार जब सारी पथरी गलकर. (when it comes out) बहार निकल जाय Stone फिरसे दोबारा आपके शरीर में भविष्य. (future) मे ना बने उसके लिए आप एक और होमियोपेथी की दवा. (homeopathy medicine) ले लें यह दवा का नाम है. CHINA 1000 प्रवाही स्वरुप की इस दवा को आप एक ही दिन सुबह-दोपहर-शाम. (2 drops twice) मे दो-दो बूंद करके सीधे जीभ पर डाल लीजिए फिर कभी भी भविष्य. (in future) मे आपको स्टोन नहीं बनेगा. ये दवा इसीलिए ज़रूरी है क्योंकि कुछ लोगों को बार बार. (problem of stone so many times) पथरी की शिकायत होती है.

Stone Symptoms Cure Treatment

विस्तार से जानिये क्या है पूर्ण हेल्थ चेक-अप और उसके फाय्दे

Disclaimer – नोट:–

ये जानकारी (information) जो हमने आपको यहाँ शेयर की है ये सोशल मीडिया. (social media) से ली गयी है इसका सेवन करने से पहले आप किसी चिकत्सक. (consult the doctor) की सलाह अवश्य ले लें. अभी आप पढ़ रहे थे हेल्थ टिप्स इन हिंदी. (health tips in hindi) में पथरी के लक्षण और पथरी का इलाज अगर अच्छा लगे तो शेयर ज़रूर करें ताकि वो हॉस्पिटल के महंगे इलाज. (costly treatment of hospital) के खर्चे से बचे धन्यवाद.

Stone Symptoms Cure Treatment

One thought on “Stone – Symptoms, Cure and Treatment – किसी भी तरह की पथरी के लक्षण, बचाव और इलाज

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *