One Sad Story- My Daughter is Angry- एक दर्द भरी कहानी – बेटी नाराज हो गयी

One Sad Story- My Daughter is Angry- एक दर्द भरी कहानीबेटी नाराज हो गयी

Sad Story – पापा जब ऑफिस (office) जाने लगे, बेटी जिद (insist) पर अड़ी रही, activa के लिए, वो भी आज papa ने मजबूरी दिखाई, पर बेटी माने तब न.

बेटी ने जिद में आकर papa से बात करना बंद (stop talking) कर दी.

पापा बेचारे क्या करे, बहुत कोशिश (tried so much) की, papa ने, office से बेटी को मनाने की,पर बेटी phone उठाये तब न. mood ख़राब हुआ पापा का, छाती में दर्द (chest pain) होने लगा

immediate गया boss के पास, urgent loan पास करवाया, showroom गया, बेटी की ख़ुशी (happiness) के लिए, activa खरीद ली.

यह भी पढ़ें :-  ख़ूबसूरत टीचर और शादी – Beautiful Teacher and Marriage

Sad Story

बेटी को फिर फ़ोन (phone) किया ये बताने के लिए कि उसकी activa शाम को आ रही है

पर बेटी अब भी नाराज (angry) मुंह फूलाये बैठी थी, जिदी थी, papa से अब भी नाराज थी पापा शांत (father was calm) हो गए

chest pain बढ़ने लगा, बहुत प्यार (so much love) करता था बेटी से बेटी ने phone नहीं उठाया, और दर्द बढ़ने लगा.

activa तो पहुंच चुकी घर (house) पर papa को attack आ गया, office में ही.
घर पर activa देखकर बहुत खुश (happy) हुई बेटी,

हद से ज्यादा पर पापा (father) नहीं दिखे

पीछे पीछे कोई ambulance आ गयी,

सब परेशान (tense), कौन था उसमें
Body बाहर निकाली गयी
Daughter ने देखा, वो papa थे.
Office staff ने बताया
सुबह (from morning) से बहुत परेशान थे
activa के लिए, बेटी (daughter) के लिए

Urgent loan पास करवाके activa तक book की
घर पे बेटी को फ़ोन (phone) किया पर शायद बेटी नाराज (angry) थी इसलिए फ़ोन नहीं उठाया
ये upset हो गए, बेटी से बहुत प्यार (love) करते थे

phone न उठाने के कारण उसे chest pain होने लगा, कुछ ही seconds में वही लेट गए
वही पर ढेर (die) हो गए।

जानिये सफलता पाने के 8 सूत्रों के बारे में

Sad Story

सोचिये, उस वक़्त बेटी की क्या (situation of daughter) हालत हुई होगी
जार जार रो (cry) रही थी
माफ़ (forgive me papa) कर दो पापा, बहुत बड़ी गलती 9big mistake) हो गयी मुझसे
मुझे नहीं पता, पापा, आप इस बेटी को बहुत प्यार (loving so much) करते हो, माफ़ कर दो पापा.
पर अब क्या हो सकता था ?

ACtiva बाहर खड़ी थी
PApa की dead body भी वहीं थी
बेटी सिर्फ पछता सकती थी, अपनी ज़िद (insist) पर, पापा से नाराज (angry) होकर.

काश, वो फ़ोन (phone) उठाती
तो papa आज जिन्दा (alive) होते
हर बेटी से request
घर की हैसियत (status) देखिये
dad की salary देखिये
आप जो demand करते हो

क्या आपके पापा capable हैं, नहीं तो थोड़ा सब्र (have some patience) कीजिये
पापा (father) कभी भी बच्चों की बातें ignore नहीं करते
खास कर बेटियों (daughters) की.
उन्हें force न करें, ज़िद न करें, अभी चाहिए, ये न कहें
उन्हें घर भी (run the home) चलाना होता है|

One thought on “One Sad Story- My Daughter is Angry- एक दर्द भरी कहानी – बेटी नाराज हो गयी

  • September 24, 2017 at 5:11 pm
    Permalink

    very sad story.

    i am still crying after reading it 30 minutes back 🙁

    god, never happen this with anyone in real

    live happy with family

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *