Mota Hone Ki Tips In Hindi | वजन बढ़ाने के घरेलू उपाय, मोटा होने के उपाय जानिए

आपने अक्सर लोगों को सुना होगा कि वे अपने बढ़ते हुए वजन (मोटापे) से परेशान हैं और अपना वजन कम (weight loss) करने के लिए कई प्रकार के प्रयास करते हैं. वहीं आपको बहुत से लोग ऐसे भी मिलेंगे जो अपने दुबले पतले (skinny) शरीर को लेकर चिंताग्रस्त (tensed) रहते हैं और अपने शरीर का वजन बढ़ाने के लिए तरह तरह के उपाय करते हैं. ऐसे लोग हमेशा मोटापा बढ़ाने का तरीका  (motapa badhane ka tarika) ढूँढते रहते हैं और नित नए नए  मोटे होने के टिप्स (mota hone ki tips in hindi) को अपनाते हैं.

यह भी पढ़ें :- जानिये आखिर क्या है मसल्स बढ़ाने के लिए उचित आहार

आजकल अखबारों (newspapers) में, टीवी (TV) पर ऐसे लुभावने विज्ञापनों (advertisements) की भरमार है जो आपको कोई खास प्रोडक्ट (product) खाने की हिदायत देते हैं और दावा करते हैं कि आप कुछ ही दिनों में अपने शरीर का वजन बढ़ा (weight gain) लेंगे. लेकिन सच्चाई यह है कि ऐसे महंगे प्रोडक्ट्स (products) आपका वजन तो बढ़ा देंगे, परंतु इनका कोई दीर्घकालिक प्रभाव (long term effect) नहीं होता और साथ ही साथ इन प्रोडक्ट्स (products) के हानिकारक साइड इफेक्ट्स (side effects) आपको किसी अन्य बीमारी का शिकार बना सकते हैं. अतः व्यर्थ में पैसा, समय व सेहत गँवा कर मात्र पछतावे के कुछ हासिल नहीं होता. यदि आप भी अपने दुबलेपन से परेशान हैं तो यह लेख आपके लिए ही है. इस लेख में हम आप को बतायेंगे प्राकृतिक रूप से मोटा होने के नुस्खे (mota hone ke nuskhe) और वजन बढ़ाने का तरीका (weight badhane ka tarika).

दुबली पतली काया के कुछ कारण हो सकते हैं, जिनमें से मुख्य कारण है.
  1.  अनुवांशिकता (genetical)
  2.  असंतुलित हार्मोंस (hormonal imbalance)
  3.  पाचन तंत्र का सही से काम ना करना (digestion problem)
  4.  चुल्लिका ग्रंथि (thyroid gland) का कमजोर होना व ठीक से काम ना करना.
  5.  आँतो में कीड़ों की समस्या का होना
  6.  किसी बीमारी का शिकार होना, जैसे कि शुगर (sugar), हाइपरथयरॉइड (hyperthyroidism), अनिमिया (anemia), अपच (indigestion), तनाव (stress) आदि.

Mota Hone Ki Tips In Hindi

जल्दी वजन बढ़ाने के 10 आसान घरेलू उपाय और तरीके
(motapa badhane ke gharelu upay in hindi)

Burn Melt Fat Easily With These Things- जानिये पेट का फैट गलाने वाली सस्ती चीजों की बारे मे

  1.  अधिक बार भोजन करें – पूरे दिन में तीन बार की जगह 5 से 6 बार भोजन करने की आदत डालें. एक ही समय में पेट भर के भोजन ना करें. अपने भोजन में 300-400 तक अतिरिक्त calories intake रखें. अपने आहार में वसा (fat), कार्बोहाइड्रेट (carbohydrates) व प्रोटीन (protein) की मात्रा बढ़ायें. प्रोटीनयुक्त और वसायुक्त भोजन वजन बढ़ाने में बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं.
  1.  अधिक मात्रा में पानी पीयें – पूरे दिन में कम से कम 12-14 गिलास पानी पियें. अधिक मात्रा में पानी पीने से आपका digestion अच्छा रहता है. फलस्वरूप आपको भूख अधिक लगेगी और भोजन आपके शरीर को लगेगा. भोजन करने से तुरंत पहले और तुरंत बाद में पानी कभी ना पीये. भोजन से पहले पानी पीने से आपका पेट आधा भर जाएगा फलस्वरूप आप भोजन कम करेंगे. भोजन के बाद पानी पीने से जठराग्नि मंद पड़ जाती है जिससे कि भोजन ठीक से पचता नहीं. भोजन करने से आधा घंटा पहले और भोजन करने के 45 मिनट बाद ही पानी पियें.
  1.  जंक फूड (junk food) व फास्ट फूड (fast food) ना खायें – कई लोग सोचते हैं कि जंक फूड (junk food) व फास्ट फूड (fast food) खाने से वजन बढ़ता है. यह बात काफी हद तक ठीक भी है. ऐसे खाद्य पदार्थों को खाने से मोटापा बढ़ता है लेकिन इसका एक दूसरा पहलू यह भी है कि ऐसे खाद्य पदार्थ कई प्रकार की बीमारियों को आमंत्रित करते हैं. चाय (tea), कॉफी (coffee), कोल्ड ड्रिंक (cold drink) आदि का सेवन भी ना करें. क्योंकि इससे भूख खत्म हो जाती है. अधिक मसालेदार व तीखे (spicy) भोज्‍य पदार्थों का सेवन ना करें. क्योंकि इससे कैलोरी (calories) की मात्रा कम होती है और कब्ज (constipation) की समस्या भी हो सकती है.
  1.  तनाव (stress) लेने से बचें – दुबलेपन का एक कारण तनाव (stress) भी है. अधिक चिंता (tension) करना, मानसिक (mental) व भावनात्मक (emotional) तनाव (stress) लेना आपके वजन बढ़ने में रुकावट है. कहा भी गया है कि ‘चिंता चिता समान होती है’. अतः स्वयं को तनावपूर्ण वातावरण से दूर रखें और हमेशा खुश रहें. तनावमुक्त जीवनशैली अपनायें.
  1.  योग व व्यायाम (Yoga and Exercise) करें – योग व व्यायाम (Yoga and Exercise) को अपनी दिनचर्या में शामिल करें. व्यायाम करने से आपको भूख खुल के लगती है और पाचन क्रिया (digestion) दुरुस्त रहती है. योग में सर्वांगासन, हलासन, भुजंगासन, विपरितकरणी, भ्रामरी प्राणायाम विशेष रूप से लाभदायी हैं. इससे आपकी चुल्लिका ग्रंथि (thyroid gland) पर सकारात्मक असर पड़ता है. फलस्वरूप चयापचय की क्रिया (metabolism) सक्रिय रहती है. जो वजन बढ़ाने में सहायक है.
तेजी से मोटा होने के उपाय, वजन बढ़ाने के तरीके

Know What to Eat to Gain Weight- जानिये तुरंत वेट बढाना हो तो कौन से आहार खाए

तो अब सवाल यह उठता है कि मोटा होने के लिए क्या खाये (mota hone ke liye kya khaye)?? ऐसा क्या खाये जिससे तेजी से मोटापा बढ़े? तेजी से वजन बढ़ाने के लिए आपको प्रतिदिन अपने भोजन में 700-1000 अतिरिक्त कैलोरी की मात्रा लेनी चाहिए. नीचे आपको 5 ऐसे खाद्य पदार्थ सुझाए गए हैं जिनका सेवन करने से आप तेजी से अपना वजन बढ़ा सकते हैं.

जल्दी वजन बढ़ाने और मोटा होने के 5 घरेलू उपाय
(mota hone ke gharelu nuskhe)

जानिये आखिर क्या है मसल्स बढ़ाने के लिए उचित आहार- Know about the Proper Diet to Gain Muscles

  •  अश्वगंधा चूर्ण – प्रतिदिन सुबह और शाम को एक गिलास दूध के साथ 5 ग्राम अश्वगंधा चूर्ण लेने से वजन जल्दी बढ़ता है.
  •  शतावरी चूर्ण – प्रतिदिन सुबह और शाम को एक गिलास दूध के साथ 5 ग्राम शतावरी चूर्ण लेने से तेजी से वजन  बढ़ता है.

हाई फैट डाइट से शरीर को होते हैं यह 8 नुकसान- 8 Loss to Body from High Fat Diet

  •  दूध और केला – प्रतिदिन सुबह के नाश्ते में दूध और केले का सेवन करने से तेजी से वजन  बढ़ता है. आप चाहें तो banana shake (या mango shake) बना कर भी पी सकते हैं. दूध से निर्मित अन्य dairy products जैसे पनीर, दही, मक्खन, घी आदि भी तेजी से वजन बढ़ाने में सहायक है.

 

  • आलू – आलू में वसा (fat) भरपूर मात्रा में पाया जाता है. प्रतिदिन 6-7 उबले हुए आलू खाने से लाभ होता है. आलू की सब्जी के साथ यदि चावल या मक्के की रोटी का सेवन किया जाए तो वजन बहुत जल्दी बढ़ता है.

 

  • अंडा – अंडे में प्रोटीन (protein) बहुत अधिक मात्रा में पाया जाता है, जो कि वजन बढ़ाने में सहायक है. प्रतिदिन 3-4 उबले हुए अंडे सुबह और शाम को खाने से बहुत जल्दी वजन में वृद्धि होती है. इसके साथ साथ रेड मीट (red meat), मछली आदि का सेवन करने से भी लाभ होता है.

7 Low Fat Diets Jinse Bachna Chahiye

यदि आप शाकाहारी है तो इसकी जगह सोयाबीन, बीन्स, साबुत दालें, साबुत अनाज और ड्राइ फ्रूट्स (dry fruits) आदि लेने से वजन में शीघ्र ही वृद्धि होती है.

उपरोक्त उपायों के साथ साथ आप को 7-8 घंटे की नींद लेना भी बहुत आवश्यक है. प्रत्येक व्यक्ति की शारीरिक संरचना (body structure) अलग होती है. अतः किसी अन्य व्यक्ति के शरीर से अपने शरीर की तुलना ना करें और किसी हीनभावना (inferiority) के शिकार ना हो. खुश रहें व अपनी सोच सकारात्मक (positive thinking) रखें और  तनावमुक्त जीवनशैली (stress free lifestyle)  अपनायें.

4 Tips Jinse Pata Lagaye Ke Weight Lose Ya Fat Kam Hua Ke Pet Mein Sirf Pani Kam Hua

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *