सर्दियों में नहाने के लिए जाने यह 4 स्मार्ट बातें, 4 Smart reasons to take Bath in Winters

सर्दियों में नहाने के लिए जाने यह 4 स्मार्ट बातें- 4 Smart reasons to take Bath in Winters

Baalo (Hairs) Ke Nuskhe

सर्दियों में नहाने के लिए जाने यह 4 स्मार्ट बातें- 4 Smart reasons to take Bath in Winters

इस कड़कड़ाती ठंड (shivering cold) में अगर हम अपनी गरमा-गरम रजाई (hot blanket) के अंदर हों और जोरों से प्यास (feeling thirsty) भी लगी हो तो शायद हम रजाई से बाहर (cant go out of blanket) निकलने की बजाए प्यासे रहना ज्यादा पसंद करेंगें.

फिर नहाना (bathing) या न नहाना (or no bathing) ये सवाल रह-रह कर सताता है. ना नहाने पर डरावने कमेंट (fear of horrible comments) झेलने का भय है उसे मन से निकालना इतना असान नहीं होता. लोगों के सामने ये स्वीकार (accepting) करना कि अपने नहाया नही है किसी आत्महत्या (not less than a suicide) से कम नहीं होता.

पर यहां कुछ ऐसी जानकारीयां (information) है जिनसे आप सीना ठोक कर नहीं नहाने की वकालत कर सकते हैं. ज्ञानी बाबा बनकर अब सबको ज्ञान दीजिए कि नहीं नहाना सेहत (bath in winter is good for health and skin) और त्वचा के लिए फायदेमंद है.

12 नुस्खे यात्रा के वक्त तरोताज़ा दिखने के

यह भी पढ़े:- बालों के लिए कौन सा तेल है उत्तम

  1. अच्छे बैक्टीरिया को बचा कर रखें – Save Good bacteria

हमारे शरीर को अच्छे बैक्टीरिया की (our body always need good bacteria) हमेशा जरूरत होती है जो हमारे पेट के कीटाणुओं (killing germs in stomach) को खत्म करने पाचन शक्ति को बढ़ाने (increases digestion) और हमारी त्वचा को साफ रखने में बहुत मदद (help) करता है.

अच्छे बैक्टीरिया अपकी त्वचा कोशिकाओं (tissues of skin) को बेहतर रखने के लिए एक एंटीबायोटिक दवा (antibiotic medicine) की तरह काम करते हैं. तो फिर अगर नहाएंगे तो ये बैक्टीरिया भी पानी के साथ धुल जाएंगे (cleans with bath) और अगर नहीं नहाया तो स्किन साफ (clean skin) रखने के लिए ये बैक्टीरिया हैं न.

  1. त्वचा के लिए जरूरी हैं प्राकृतिक तेल – Natural Oil is important for Skin

हमारी शरीर की त्वचा में नमी पानी (moisture comes from water) के द्वारा आती है. अब ऐसे में ज्यादा गर्म पानी (avoid more hot water use warm water only) का इस्तेमाल करना उस नमी को नुकसान पहुंचा सकता है.

गरम पानी से त्वचा में रूखाई (rough) और सूखापन (dryness) आ सकता है . डैमेज त्वचा (damaged skin) में ये कीटाणु आसानी से जगह बना कर त्वचा को नुकसान (loss to skin) पहुंचा सकते हैं. इसलिए सर्दियों में ज्यादा गर्म पानी इस्तेमाल करने की बजाए गुनगुना पानी (use warm water only) इस्तेमाल करना चाहिए.

3.शरीर से ज्यादा कीटाणु कपड़ों में – Germs are in Clothes not in Body

हमारे शरीर से ज्यादा कीटाणु हमारे कपड़ों (germs in our clothes) में होते हैं. अगर हमें बीमारियों से अपना बचाव (save yourself from infection) करना है, तो अपने कपड़ों की साफ-सफाई (wear clean clothes only) का ध्यान जरूर रखना चाहिए. रोजाना कपड़ों की धुलाई नहाने (wash clothes timely) से ज्यादा कारगर साबित हो सकती है. पर नहाने और रोजाना शरीर की सफाई (bathing and regular clean of body) से हम बहुत सी बीमारीयों से छुटकारा पा सकते हैं.

जानिये मच्छरों के प्रकोप से बचने के नुस्खे

यह भी पढ़े:- बालों के लिए कौन सा शैम्पू  है बढ़िया

4.बालों पर अत्याचार- Torture on Hairs

नहाते समय बालों को रोज-रोज धोने से हमारे सिर की त्वचा रूखी (rough hair scalp) हो जाती है और बाल झड़ने और टूटने (break) की समस्या बढ़ (problem increases) जाती है. यह समस्या और भी गंभीर रूप ले लेती है जब हम रोजाना सिर धोने के लिए शैम्पू (using shampoo on hairs)का इस्तमाल करते हैं.

शैम्पू का इस्तमाल करने से बालों में डैंड्रफ (dandruff) और एक्ने (acne) होने की संभवनाए बढ़ (possibilities increases) जाती हैं. इसलिए हमें रोजाना बाल (Avoid using soap or shampoo on hairs regularly) धोने से बचना चाहिए.

home remedies in hindi, घरेलू उपचार, gharelu nuskhe in hindi for health, घरेलू नुस्खे, alternative medicine in hindi

1 thought on “सर्दियों में नहाने के लिए जाने यह 4 स्मार्ट बातें- 4 Smart reasons to take Bath in Winters

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *