जानिये आखिर क्या है मसल्स बढ़ाने के लिए उचित आहार- Know about the Proper Diet to Gain Muscles

जानिये आखिर क्या है मसल्स बढ़ाने के लिए उचित आहार- Know about the Proper Diet to Gain Muscles

अच्छी बॉडी (good body) वाले व्यक्ति अपने डायट (diet) में ऐसे खास आहार लेते हैं जिससे उनकी बॉडी मसल्स (body muscles) तुरंत बने। पर्दे पर फिल्मी स्टार (film stars) की बॉडी युवाओं को खूब (very attractive) लुभाती है और जिम जाने वाला हर युवा (every youngster) उनके जैसा ही बनना चाहता है. जिम में घंटों पसीना (sweat) बहाना और डाइट सप्लीमेंट (diet supplements) लेना नई जेनरेशन (new generation) को बहुत पसंद है|लेकिन जिम (gym) में जा कर केवल पसीना बहाने से कुछ नहीं (nothing going to happen) होने वाला है। अगर आपको अच्छी बॉडी (good physique) चाहिये तो, प्रोटीन (protein) और पोषक (nutrients) तत्वों से भरे आहार (diet) लेने होंगे। बॉडी बिल्डिंग के लिये आपको चीनी (sugar), कार्ब (carb) और अतरिक्त वसा (extra fat) वाले भोजन पर रोक (stop) लगानी होगी। अगर आप भी बॉडी बिल्डिंग का शौक (hobby of body building) रखते हैं तो हम आपको ऐसे आहारों की जानकारी (information) देगें, जिसे नियमित खाने (regular eating) से आपकी बॉडी जल्द बनेगी। साथ ही आपका इम्मयून सिस्टम (immune system) भी मजबूत रहेगा |

CLICK HERE TO READ: हर हिन्दु हर धर्म का इंसान जानना चाहेगा प्रभु श्रीराम के जीवन से जुड़े 9 रहस्य अवश्य पड़े

CLICK HERE TO READ: सुंदरकांड की यह करिश्माई चौपाई आपको हर मुसीबत से बचा सकती है

अंडे- Eggs:-

बॉडी बिल्डिंग के लिये अंडे से अच्छा (nothing is good than eggs) कुछ नहीं हो सकता क्योंकि इसके सफेद भाग (white portion) में 84 प्रतिशत प्रोटीन और 0 प्रतिशत वसा होती है। अंडे को हमेशा उबाल (always boil and eat) कर ही खाना चाहिये।दिन में दो से तीन बार 2 – 4 अंडे दूसरे खाद्य पदार्थों जैसे नट्स (nuts), दूध (milk) आदि के साथ लेना चाहिए |

माँसाहारी भोजन – Non Veg. Food:-

अधिक मसल्स का निर्माण करने लिए माँसाहारी भोजन (non veg food is good) काफी लाभदायक (helpful) होता है | मांस, चिकन (chicken) और टर्की लीन मीट (turkey lean meat) प्रोटीन के सबसे अच्छे स्रोत हैं। इनमें प्रोटीन के साथ-साथ अमीनो एसिड (amino acid) भी प्रचुर मात्रा में उपलब्ध होता है जो हमारे शरीर के मसल्स को (helps in making muscle) बनाने में मदद करते हैं। हफ्ते में एक बार मटन (eat mutton once a week) जरुर खाएं लेकिन कोशिश यह करें कि मटन फ्राई ना (without fried) किया हुआ हो। मटन प्रोटीन (protein), आयरन (iron), जिंक (zinc) और विटामिन बी (vitamin B) से भरा होता है। मछली (fish) आपकी मासपेशियों को बढाने (growth of muscles) के लिये मोनो सैचुरेटेड फैट (mono saturated fat) की आवश्यकता होती है। वर्कआउट (workout) करते समय शरीर का सारा फैट बर्न (fat burn) हो जाता है तो ऐसे में शरीर में जमा मोनो सैचुरेटेड फैट ही शरीर में (increases energy) एनर्जी बढाता है।

पनीर-Paneer :-

इसमें बिल्कुल भी फैट नहीं (no fat) होता और काफी मात्रा में प्रोटीन (good source of protein) होता है। इसलिये यह बॉडी बिल्डिंग के लिये (good for body building) अच्छा होता है।

ब्रॉकली- Broccoli :-

इसमें विटामिन सी (vitamin C) होता है जो कि शरीर में सैल्स (body cells) को तुरंत खराब नहीं होने देती और शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता (strengthen the immune system) को बढाती है।

ग्रीन टी – Green Tea:-

इसकी सबसे अच्छी बात यह है कि यह शरीर में अच्छे बैक्टीरिया को जन्म (give birth to good bacteria) देती है जिससे बॉडी बिल्डर्स (body builders) का इम्मयून सिस्टम मजबूत होता है और बीमारियां (diseases) दूर होती हैं।

SEMrush

मशरूम- Mushroom :-

डॉक्टरों का कहना है कि मशरूम का (eating mushroom) सेवन मानव सेहत के लिए (very effective) रामबाण है। सफेद रंग के मशरूम लाभदायक (more benefit) होते हैं। इसमें बहुत सारा पोषण (nutrients) होता है जिससे मासपेशियां बनने में (helps in making muscles) मदद मिलती है। मशरूम में मौजूद एंटी ऑक्सीडेंट हमें भंयकर फ्री रेडिकल्स (dangerous free radicals) से बचाता है। इसको खाने से शरीर में एंटीवाइरल (anti viral) और अन्य प्रोटीन की मात्रा (increase) बढती है, जो कि कोशिकाओं को रिपेयर (repair the tissues) करता है। मशरूम में लीन प्रोटीन (lean protein) होता है जो कि वजन घटाने (weight loss) में बडा़ कारगर (very effective) होता है।

केला- Banana :- 

इसे खाने से शरीर की प्रतिरक्षा (immunity increases) बढती है और यह प्रोटीन बढाने (increases protein) में भी मददगार होता है। केला ऊर्जा का बहुत अच्छा स्रोत (good source) माना गया है, इसमेँ औसतन 105 कैलोरी पायी जाती हैं जो शरीर को किसी भी प्रकार की (saves from any type of weakness) कमजोरी से बचाती है। अगर आप  व्यायाम (lazy after exercise) करने के बाद थक जाते हैं, तो तुरन्त एक केला खा लीजिए यह रक्त में ग्लूकोज का स्तर (increases glucose in blood) बढ़ा कर आपको शक्ति देगा।

शकरकंद- Sweat Potato :-

इसमें सेहतमंद कार्बोहाइड्रेट (healthy carbohydrates) मिलता है जिसकी बॉडी बनाने वालों को सख्त जरुरत (must needed) होती है क्योंकि इससे उन्हें वर्कआउट (workout) करने के लिये स्टैमिना (stamina) मिलता है।

पाइनएप्पल- Pineapple :-

अच्छी मसल्स बनाने के लिए ताजे पाइनएप्पल (pineapple is very good) का सेवन बहुत फायदेमंद है| इससे वर्कआउट के लिये  (energy for workout) एनर्जी मिलती है।

बादाम- Almonds :-

बॉडी बिल्डिंग के लिये बादाम (almonds are good snacks) बहुत अच्छे स्नैक्स माने जाते हैं। इसमें बहुत सारा अमीनो एसिड (amino acid) होता है जो कि मसल्स बनाने में (helpful in making muscles) उपयोगी होते हैं। बादाम खाने से न कॉलेस्ट्रॉल (cholesterol) बढ़ेगा न वजन | बादाम प्रोटीन का अच्छा (good source) स्त्रोत है | सौ ग्राम बादाम में 21 ग्राम के आसपास (nearby) प्रोटीन होता है।

CLICK HERE TO READ: शराब का अधिक सेवन करवाती है इंसान से ये बुरे काम

CLICK HERE TO READ: कुछ नुस्खे पुरुषों के हाजमे को दुरुस्त रखने के लिए

हरी सब्जियां- Green Vegetables:-

पालक (spinach) और अन्य हरी सब्जियां (green vegetables) मसल्स के लिए बहुत फायदेमंद (good for muscles) होती हैं। सब्जियों में एंटीऑक्सीडेंट्स (anti oxidants) भारी मात्रा में पाए जाते हैं, इसलिए मसल्स के लिए सब्जियां (vegetables) बहुत जरूरी हैं। भारी वर्कआउट (heavy workout) करने के बाद मसल्स को आराम (muscles need rest) की जरूरत होती है। ये सब्जियां मसल्स को रिलेक्स (helps to relax in muscles) करने में भी मदद करती हैं।

साबुत अनाज- Whole Grains : –

यदि उचित मात्रा में कार्बोहाइड्रेट्स (carbohydrates) न मिले, तो ऊर्जा (energy) के लिए मांसपेशियों का टूटना (break) शुरू हो जाता है। इसलिए हमारे शरीर को कार्बोहाइड्रेट्स की (body needs carbohydrates)  आवश्यकता होती है, जो सभी तरह के अनाज जैसे चावल (rice), गेंहू, बाजरा, दलिया  (oats) आदि से मिलता है। अगर आपके पास ऊर्जा अधिक (extra energy) होगी तो ही आप ज्यादा व्यायाम (more exercise) कर पाएंगे।

मांसपेशियों के सही ढंग (proper working) से काम करने के लिए प्रोटीन (protein), मिनरल्स (minerals), विटामिन्स (vitamins) और कार्बोहाइड्रेट (carbohydrates) का बहुत महत्व होता है। इसलिए फिट रहने के लिए जिम करने वाले को न्यूट्रीशन्स (nutrition’s) से भरपूर डाइट लेनी चाहिए। मसल्स बनाने के लिए संतुलित भोजन (balanced diet) की आवश्यकता होती है।

आयुर्वेदिक उपचार, घरेलू उपचार, gharelu nuskhe in hindi for health, alternative medicine in hindi,health tips in hindi for man body, build muscle at home, bodybuilding diet

Loading...

Loading...
, , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , ,

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *