जानिये दही खाने से भी ठीक हो सकती है एसिडिटी | Know about curd can reduce or finishes acidity

Acidity / Gas ke Nuskhe

 जानिये दही खाने से भी ठीक हो सकती है एसिडिटी | Know about curd can reduce or finishes acidity

 

एसिडिटी एक आम समस्‍या है (acidity is a normal problem) जो जीवन में किसी ना किसी को एक बार जरुर होती है। एसिडिटी को चिकित्सकीय भाषा में गैस्ट्रोइसोफेजियल रिफलक्स डिजीज (GERD) के नाम से जाना जाता है। आयुर्वेद (ayurveda) में इसे अम्ल पित्त कहते हैं। आपमें से कई लोग जानते होंगे कि दही खाने से एसिडिटी और जलन काफी हद तक (curd calm the acidity and burn शांत हो जाती है।

यह भी पढ़ें :- पुराण के अनुसार इस तरह के लोगों का पुनर्जन्म नहीं होता है

चलिये जानते हैं यह बात कहां तक सच साबित होती है?  एसिडिटी के लिये आजमाएं घरेलू उपचार?

अगर सरल भाषा (easy language) में बात की जाए तो एसिडिटी की समस्‍या तब पैदा होती है जब पेट में खाना पचाने वाला अम्‍ल जरुरत से ज्‍यादा बनने लगे (make more acid in stomach) और रोगी के सीने या छाती में जलन पैदा करें। अगर आपको भी एसिडिटी की गंभीर समस्‍या है (serious problem) तो मसालेदार और भारी भोजन खाने से बचें (avoid spicy and heavy food) क्‍योंकि यह एसिडिटी को और भी ज्‍यादा बढ़ावा देता है।

यह भी पढ़ें :- अगर टूथब्रश शेयर करते हो तो सावधान हो सकती है यह चार खतरनाक बीमारियां

एसिडिटी का कारण और निवारण?

दही एक डेयरी प्रोडक्‍ट है (curd is a dairy product) जो कि दूध को जमा कर बनाई जाती है। दूध में काफी मात्रा में कैल्‍शियम (good source of calcium) पाया जाता है, जो कि एसिड बनने से रोकता है और एक दवा के रूप (works like a medicine) में काम करता है। दही में मौजूद अन्य पोषक तत्व आसानी से पच (easily digest) जाते हैं। साथ ही दही खाए गए अन्‍य खाद्य पदार्थों के पोषक तत्‍वों को भी अवशोषित (helps in digestion) करने में सहायक होती है, जिससे पाचन क्रिया मजबूत (strengthen the digestion system) होती है। दही में प्रोबायोटिक होता है, जो खाने पचाने में मदद करता है और एसिडिटी नहीं होने देता। इसलिये अपने भोजन में दुपहर के समय दही (must take curd in lunch) को जरुर शामिल करें।

natural remedies in hindi, alternative medicine in hindi, natural healing in hindi, household remedies in hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *