जानिये योग से जुड़ी ऐसी बातें है जो आप शायद नहीं जानते | Jaaniye yog se judi aisi baatein jo aap ahayad nahi jaante

जानिये योग से जुड़ी ऐसी बातें है जो आप शायद नहीं जानते | Jaaniye yog se judi aisi baatein jo aap ahayad nahi jaante

योग के आश्चर्यजनक तथ्‍य – Incredible facts about yoga

योग मन और शरीर को अनुशासन (discipline) में लाने का एक रास्‍ता है। वर्षों से योगा एक्‍सरसाइज करने और शरीर को सही आकार में रखने का एक लोकप्रिय तरीका (famous trick) है। योग करने से शारीरिक लाभ (physical health gain) तो प्राप्‍त होते हैं, साथ ही साथ यह मानसिक स्‍वास्‍थ्‍य (improves mental health) के लिए भी अच्‍छा होता हैं। योग से जुड़ी बहुत सी ऐसी बातें है जिनसे आप अनजान (you are unknown)।

आइए ऐसी ही कुछ बातों के बारे में जानें, lets know about few of the things.

मन को लचीला होने की जरूरत है शरीर को नहीं – Your thoughts need flexibility not your body

लचीलेपन के अभाव (lack of flexibility) के कारण बहुत से लोग योग नहीे करते हैं, क्‍योकि उनको मानना है (people think that) कि योग करने के लिए शरीर में लचीलेपन की जरूरत होती है। लेकिन क्‍या सच (does it true?) में योग करने के लिए लचीलेपन की जरूरत होती है। योग करने से पहले यह बात जानने बहुत जरूरी होता है (what you have to know first is) कि आपको लचीलेपन की जरूरत कहां है। शरीर में या दिमाग में। योग में शरीर में लचीलेपन के अलावा मन में भी लचीलापन विकसित करने की कला (art to develop) होती है।

यह भी पढ़ें :- क्या आपके पति भी पराई महिलाओं को घूरघूर कर देखते है

हर कोई आरंभक के रूप में शुरू करता है – Everyone starts as a learner

पहले कभी न करने के कारण अगर योग आपको चुनौती (look like a challenging work) का काम लग रहा है। तो ऐसा नहीं है क्‍योंकि ऐसा सभी के साथ होता है। सभी लोग कहीं न कहीं से शुरूआत (everyone starts from somewhere) करते हैं। इसके लिए आप योग का अभ्‍यास या एक्‍सरसाइज (exercise) किसी फिटनेस सेंटर (fitness center) में कर सकते हैं। एक बार इससे परिचित (known) हो जाने के बाद आपके लिए चीजें आसान (things getting easy) हो जाएगी।

सबसे महत्वपूर्ण अंग फेफड़ा है – lungs are the most important part of the body

दिल को शरीर का सबसे महत्‍वपूर्ण अंग (heart is the important part of the body) माना जाता है, लेकिन योगी ऐसा नहीं मानते हैं। योग के अनुसार, शरीर का सबसे महत्‍वपूर्ण कार्य सांस (breathing is the important part) लेना है। इसलिए उनका मानना हैं कि उन्‍नत योग अभ्‍यास (advance level of yoga practice) करने के बाद भी दिल के कार्य हमारे नियंत्रण से बाहर हैं (we cant control heart) लेकिन फेफड़ों के कार्य हमारे नियंत्रण के दायरे (can control lungs) में है।

योग 24 x 7 का अभ्यास है – Yoga is a 24×7 practice

सच्‍चे योगी दिन में हर पल योग का अभ्‍यास (feeling yoga all the time) करते है। उनका मनाना है कि योग आपको शांति और मानसिक ऊर्जा (give you peace and mental energy) के साथ आपके जीवन में अधिक उपयोगी चीजों को करने के लिए निर्देश (direction) भी देता है। योग द्वारा आप वैसे व्‍यक्ति बन सकते हो जैसा बनने की चाह रखते हो।

योग का दृष्टिकोण अंतहीन हैं – Yoga has an endless views

योग को करने के लिए बहुत सारी शैलियां उपलब्‍ध (tricks available) है। इसलिए जब आप योग करने के बारे में सोचते हैं तो इसे करने के लिए आपको ढेर सारी शैलियों में से किसी को चुनना (you have to choose few of them) होता है। योग की कुछ शैलियां बुनियादी और सौम्‍य हैं (basic and easy) जबकि दूसरी बहुत तेज और अधिक पुष्‍ट होती है। योग के दौरान आप कई प्रकार की शैलियों (can do lots of yoga tricks) को कर सकते हैं।

बहुत ज्‍यादा पसीना आने की संभावना – Possibility of more sweat

योग करना बहुत आसान (looking easy) लगता है, लेकिन ऐसा होता नहीं है क्‍योंकि योग में भी मैराथन (like marathon) के जैसे बहुत अधिक फिजिकल प्रयास (physical try) किये जाते हैं। यहां तक कि बुनियादी योग मुद्राओं में तो बहुत अधिक पसीना (too much sweat) भी आता है। इसलिए अगर पसीना आ रहा है तो घबराए (nothing to fear) नहीं, बल्कि आरामदायक (keep calm) होकर पसीने के लिए तैयार रहें।

यह भी पढ़ें :- जानिये लड़कों की किस तरह की ड्रैसिंग सेंस पर फिदा होती है लड़कियां

चोट लग सकती हैं – You can be injured

योग एक चिकित्सा कला (yoga is a type of medical art) का रूप है, लेकिन इसको करते समय कई बार चोट (sometimes you can injured yourself) भी लग सकती हैं। इसलिए चोटों से बचने और इन्‍हें रोकने के लिए आपको इस कला में महारत हासिल (need to be professional by trying it again and again) करने की जरूरत होती है। जब आप घायल (injured) होते हैं, तो इसके बारे में अपने ट्रेनर को जरूर बताएं (tell your trainer) और शरीर पर ज्‍यादा दबाव न डालें।

बदलाव को स्‍वीकार करना सिखाता हैं – Teach you to accept the change

योग हमें बहुत कुछ सिखाता (yoga teaches us so many things) है। साथ ही ऐसी चीजों से दूर रहना भी जो आपके हित (not in your side) में नहीं हैं। योग आपको जीवन में हो रहें बदलाव के एहसास को स्‍वीकार कराने (helps you to accept changes in life) में मदद करता है और आपके मन में शांति लाता है। योग के माध्‍यम से आप अपने भीतर की आवाज को सुन पाते हैं (listen the sound) और अपने अनुसार चीजों के बारे में फैसला कर पाते हैं।

यह भी पढ़ें :- ग्रीन टी फेशियल लगाइये और बेजान त्वचा को ब्राइट और रिफ्रेश पाइये

स्वास्थ्य में सुधार लाता है – Improves your health

योग के द्वारा शरीर में मौजूद तंत्रिका तंत्र (nervous system) और प्रतिरक्षा प्रणाली (immune system) ठीक प्रकार से कार्य करती हैं और इनके ठीक से कार्य करने से आपके स्‍वास्‍थ्‍य में सुधार (improves your health) होता है। इसके अलावा योग गठिया, स्ट्रोक (stroke), एचआईवी (HIV cancer), स्तन कैंसर (breast cancer), तनाव विकार (stress and depression) और अन्‍य कई प्रकार की चिकित्सा मुद्दों को रोकने में भी मदद करता हैं।

योग से खुशी मिलती है – Yoga gives you smile and happiness

हम अक्‍सर चीजों और लोगों में खुशी (searching happiness) को ढूढ़ते हैं। हमारा मानना है कि बहुत अधिक पैसा (more money), सब कुछ अच्‍छा होना या कुछ ऐसा या वैसा करना हमें खुशी का एहसास (give us a feel of happiness) करवाता है। लेकिन योग के अनुसार, यह सब सच्‍ची खुशी का नेतृत्‍व (not leads happiness) नहीं करते। बल्कि आसानी से प्राप्‍त होने वाली सच्‍ची खुशी तो आपके (its inside you) भीतर हैं। बस जरूरत है तो इसे पहचानने (just need to understand) की और यह हमें योग सिखाता है।

natural remedies in hindi, alternative medicine in hindi, natural healing in hindi, household remedies in hindi

, , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , ,

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *