जानिये भारत में सुहाग रात से जुडे़ हुए कुछ विचित्र रिवाजों के बारे में | Honeymoon related interesting traditions in india

Hindu Dharam ke Kisse kahaniya

जानिये भारत में सुहाग रात से जुडे़ हुए कुछ विचित्र रिवाजों के बारे में | Honeymoon related interesting traditions in india

शादी के साथ शुरू होते ये रिवाज़ शाम ढलते समाप्त होते हैं (tradition ends in the late night) और इन्हें निभाते विवाहित दंपति थक (married couple feel tired) जाते हैं। ऐसे स्थिति में सुहाग रात से जुडे रिवाज अजीब लगते हैं।

भारतीय शादियों में रीति-रिवाज का अपना एक अलग स्थान (traditions, culture has its own place) है। यहां रिवाज़ केवल विवाह तक ही नहीं बल्कि विवाह के बाद संबंधित परंपराओं (marriage related traditions) से भी जुडे नज़र आते हैं।

हालांकि, ये जिस दौर में बनाए गए थे उस दौर के लोगों की अपनी एक सोच रही होगी। परंतु आज की बीग फैट वेडिंग (big fat wedding) में ये बेबुनियाद नज़र आते हैं।

पुराने जमाने में शादी में केवल कुछ गिने चुने लोगों को बुलाया जाता था (very selected person invited on marriage) परंतु आज महमानों की लिस्ट में हजारों लोग शामिल रहते (thousands of peoples invited in marriages these days) हैं।

यह भी पढ़ें :- महिलाओं में डिप्रेशन की एक वजह गर्भनिरोधक गोलियां भी है?

यदि आप इन  अजीब रिवाज़ों के बारे में जानना चाहते हैं तो इस लेख को आगे पढें।

1 दूध का गिलास – Glass of a milk- नव विवाहित दंपति अपनी ऊर्जा को बढाने के लिए दूध पीते (drinking milk for gaining energy) हैं। इस रस्म को आपने कई फिल्मों (seen this in so many movies) में देखा होगा। इस रस्म में पत्नी पति को दूध का गिलास देती हैं और आधे बचे दूध को खुद पीती है। यह विवाह के बाद की एक आम रस्म (normal ritual) है।

2 पान खाना – Eating Pan- दूध की तरह दंपति को पान भी बांटकर खाना (eating pan together) होता है। पान की महक (essence of pan) दोनों को करीब लाती है। परंतु आज के आधुनिक (modern) युग में शायद की कोई पान खाने वाले के करीब जाना पसंद करेगा।

3 कौमार्य टेस्ट – Potency test- आज भी यह परंपरा भारत के कई गांवों में प्रचलित हैं (famous) और दुल्हन की कौमार्य का परीक्षण करने के लिए बिस्तर पर सफेद रंग की चादर बिछाई (laid bed sheet) जाती है। इस चादर पर पड़ने वाली सिलवटे (creases) और मिट्टी के निशान दुल्हन की कौमार्य के प्रतीक के रूप में माने जाते हैं। यह सबसे अजीब रिवाज़ (different rituals) जो आज भी भारत के कई हिस्सों (famous in some parts of india) की एक परंपरा है।

यह भी पढ़ें :- कुछ ऐसी बीमारियां जो महिलाओं से ज्यादा पुरुषों को प्रभावित करती हैं

4 मैली चादर की पूजा करना – Praying old clothes- सुहाग रात की सेज पर बिछी सफेद चादर जब दुल्हन की कौमार्य को बयान करती है। तब दुल्हन की सास सिलवटों से भरी सुहाग रात की चादर को धोने से पहले पूजती (mother in law praying the honeymoon bed sheet) है। यदि चादर पर सिलवटे ना हों तो क्या दुल्हन से सवाल किए जाएँगे.

5 काल रात्रि – Bengali Tradition- शादी से जुडी यह परंपरा बंगालियों में काफी लोकप्रिय (very famous in kolkatta) है। इस परंपरा के अनुसार नव विवाहित जोडे को शादी की पहली रात अलग-अलग कमरों में बितानी (spend night in different rooms) होती है तथा उन्हें एक दूसरे को देखने की भी अनुमति (not giving them permission) नहीं दी जाती। दुल्हन अगली सुबह अपने परिवारवालों से मिलकर उन्हें यह विश्वास दिलाती है (giving confidence to them) कि वह अपना बाकी जीवन अपने नए परिवार वालों के साथ व्यतीत करना चाहती है। इसके बाद ही जोडे को एक साथ रहने की अनुमति (then get permission) दी जाती है।

आयुर्वेदिक उपचार, घरेलू उपचार, dadi maa ke nuskhe in hindi, gharelu nukshe in hindi, ayurvedic gharelu upchar in hindi

loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *