Jaaniye body banaane ke 15 asaan nuskhe

जानिये बॉडी बनाने के 15 आसान नुस्खे | Jaaniye body banaane ke 15 asaan nuskhe

Body/ Shareer Banane ke Nuskhe

जानिये बॉडी बनाने के 15 आसान नुस्खे | Jaaniye body banaane ke 15 asaan nuskhe

शीघ्रता से मांस पेशियाँ (muscles) बनाने का तरीका यह है कि आप भूल जाएँ कि आपको शरीर को भारी बनाना है तथा इस बात पर ध्यान केन्द्रित करें कि अपनी जीवन शैली में किस प्रकार का परिवर्तन (can change your life style) करके आप दिए गए समय में मांस पेशियाँ बना सकते हैं। स्वस्थ आहार तथा व्यायाम (healthy diet and exercise) के द्वारा आप स्वस्थ पद्धति से मांस पेशियाँ बना सकते हैं। यह रातों रात नहीं होता परंतु यदि आप निम्नलिखित लेख (below written posts) का उपयोग एक मार्गदर्शिका के रूप में करें तो आप कुछ ही सप्ताह में फर्क महसूस (see difference in a week) करेंगे।

शरीर सौष्ठव के लिए मांस पेशियाँ बनाना तथा मांस पेशियों का वज़न बढ़ाने के तरीके दोनों महत्वपूर्ण हैं। यहाँ मांस पेशियों का वज़न बढ़ाने के 15 तरीके दिए गए हैं जिसमें आहार और व्यायाम (diet and exercise) दोनों का संयोजन है।

मज़बूत और आकार सहित मांसपेशियां पाने के लिए इन नियमों का पालन (follow these below written rules and regulation) करें। याद रखें, मांस पेशियों का वज़न स्वस्थ शरीर की पहचान है।

यह भी पढ़ें :- ऐसे जबरदस्त रोचक तथ्य और जानकारी जो अपने पहले कभी नहीं पढ़ी होंगी

कितनी कैलोरी खाएं: How many calories to eat daily

मांसपेशियाँ बनाने के लिए यह आवश्यक है कि कैलोरी की अधिक मात्रा ग्रहण की जाए (Take more calories in food) क्योंकि शीघ्र वज़न प्रशिक्षण में ऊर्जा की बहुत आवश्यकता (need more energy in gym exercise) होती है। परंतु यह संभव है कि उच्च कैलोरी युक्त भोजन लेने के कारण आपके शरीर पर चर्बी (फैट-fat will increase) जम जाए। अतिरिक्त चर्बी खाने से बचने के लिए प्रतिष्ठित फिटनेस सलाहकार (take suggestions from famous fitness consultant) से सलाह लें।

यौगिक व्यायाम : Yoga Exercise

ऐसे व्यायाम जो एक से अधिक मांसपेशियों के समूह या एक से अधिक जोड़ का उपयोग करते हैं उन्हें यौगिक व्यायाम कहते हैं। यौगिक व्यायाम मांसपेशियाँ बनाने के (perfect for making muscles) लिए उपयुक्त हैं। मांसपेशियों का वज़न बढ़ाने के लिए इन व्यायामों में वज़न और केबल्स (use weight and cable) का उपयोग किया जाता है।

सुबह व्यायाम करें : Morning Exercise

मांसपेशियाँ बनाने के लिए सुबह व्यायाम करना (morning exercise is good) बहुत अच्छा होता है। जब आप सुबह खाली पेट व्यायाम करते हैं तो (empty stomach exercise) यह आपकी मांसपेशियों को स्फूर्ति देता है (gives energy) तथा उनका द्रव्यमान बढ़ाता है।

पाचक एंजाइम्स : Digestive Enzymes

जब आपका उद्देश्य मांसपेशियों का निर्माण करना होता है तब प्रशिक्षण के लिए लगने वाली ऊर्जा प्राप्त करने के लिए तथा मांसपेशियों की वृद्धि के लिए आप अपने आहार की मात्रा (increase diet for doing heavy exercise) बढ़ाते हैं। अत: आपके शरीर को भोजन को पचाने के लिए विशेष रूप से पोषक तत्वों का अवशोषण करने के लिए सहायता की आवश्यकता होती है।

यह भी पढ़ें :- महिलाओं में डिप्रेशन की एक वजह गर्भनिरोधक गोलियां भी है?

हाईड्रेटेड रहें : Hydrate rahe

शरीर सौष्ठव के लिए तथा मांसपेशियां बनाने के लिए दिन भर तरल पदार्थ और बहुत सारा पानी पीना (liquid diet and water is very important) महत्वपूर्ण है। अपने आप को तृप्त रखने के लिए व्यायाम करते समय दिन भर बहुत सारा पानी पीयें। व्यायाम के दौरान भी हर 15 – 20 मिनिट में पानी पीयें क्योंकि निर्जलीकरण (lack of water- पानी की कमी) के कारण शरीर प्रभावित होता है।

स्क्वाट्स : Squats

मांसपेशियां बनाने के लिए स्क्वाट्स आवश्यक हैं (squats are must) परंतु गलत तरीके से इसे करने के कारण घुटनों की समस्या (bu doing it wrong increse problem in knees) हो सकती है।

डेडलिफ्ट्स : Dead lifts

डेडलिफ्ट्स मांसपेशियां बनाने का एक अन्य तरीका है। शरीर सौष्ठव के अपने नियमित कार्यक्रम (regular exercise) में वज़न उठाने को शामिल करें। मांसपेशियां बनाने के लिए वज़न प्रशिक्षण महत्वपूर्ण है।

प्रोटीन: protein

जब आप व्यायाम करते हैं विशेष रूप से जब वज़न प्रशिक्षण लेते हैं तथा अपने शरीर पर दबाव डालते हैं तो मांसपेशियों की टूट फूट से बचने के लिए तथा मांसपेशियों के निर्माण के लिए आपके शरीर को प्रोटीन की (protein is must while doing gyming cause of strengthen your muscles) आवश्यकता होती है। प्रोटीन शरीर में जाकर एमिनो एसिड्स (amino acids) में टूटता है, जिसका उपयोग व्यायाम के दौरान शरीर में आसानी से कर लिया जाता है। इससे हमारे शरीर की मरम्मत आसानी से और प्रभावी रूप से होती है।

यह भी पढ़ें :- अर्ध्नारि यानी के किन्नरों के बारे में कुछ ऐसे तथ्य जिन्हें सुनकर आप चौंक जायेंगे

उचित तरीका: Proper Way

मांसपेशियां बनाने के लिए वज़न प्रशिक्षण महत्वपूर्ण है परंतु अधिक महत्वपूर्ण यह है कि सही और उचित तरीका (take proper and right way for exercise) अपनाया जाए।

प्रशिक्षण के बाद खाएं : Eat after exercise

मांसपेशियां बनाने के लिए व्यायाम करने के बाद कार्बोहाइड्रेट और प्रोटीन युक्त (carbohydrate and protein diet) आहार लेना अच्छा माना जाता है। एमीनो एसिड्स के कारण कार्बोहाइड्रेट से इन्सुलिन बढ़ता है जिससे मांसपेशियों में वृद्धि होती है।

नींद : Sleep

वज़न पढ़ने के लिए तथा शरीर को तरोताज़ा रखने के लिए पर्याप्त मात्रा में (take proper sleep for freshness) नींद लें। आपके शरीर को कम से कम आठ घंटे के आराम की आवश्यकता (need 8 hours of proper sleep) होती है।

मांसपेशियां बनाने के लिए आहार: Diet for making muscles

लाल मांस में आयरन प्रचुर (red meat has lot of iron) मात्रा में मिलता है जो मांसपेशियों के निर्माण के लिए बहुत महत्वपूर्ण है। शरीर सौष्ठव के लिए अंडे भी बहुत महत्वपूर्ण (eggs are important) हैं। शरीर के लिए आवश्यक पोषक तत्वों के लिए प्रोटीन के विभिन्न स्त्रोतों का सेवन करें।

स्वस्थ वसा से न बचें: Dot stay away from healthy fat

ऊर्जा प्राप्त करने के लिए स्वस्थ वसा जैसे मेवे और मछली खाएं (eat dry fruits and fish)। शरीर को उचित तरीके से कार्य करने के लिए वसा की आवश्यकता होती है।

कार्डियो की आवश्यकता: Need cardio

अपने व्यायाम में कार्डियो को भी शामिल करें (Add cardio in your exercise) क्योंकि यह आपको मांसपेशियों का वज़न बढ़ाने से रोकता नहीं है।

इस बात को समझे की बॉडी बनाने में समय लगता है: New body builder needs some time to understand

अनुभवी बॉडी बिल्डर की तुलना में नौसिखिये को अलग प्रशिक्षण की आवश्यकता (new kids need a professional trainer) होती है। यदि आप नौसिखिये हैं तो सफल बॉडी बिल्डर बनने के लिए मूलभूत बातों (understand the basics properly) को अच्छी तरह समझ लें।

आयुर्वेदिक उपचार, घरेलू उपचार, dadi maa ke nuskhe in hindi, gharelu nukshe in hindi, ayurvedic gharelu upchar in hindi,health tips in hindi for man body, build muscle at home, bodybuilding diet

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *