जानिये शादी की पहली रात यानी के सुहागरात को लवमेकिंग क्यूं बन जाती है बहुत ही खास | Jaaniye shaadi ki raat yani ke suhaagraat ko lovemaking kyon ban jaati hai khaas.

Relation- Family ke Nuskhe

जानिये शादी की पहली रात यानी के सुहागरात को लवमेकिंग क्यूं बन जाती है बहुत ही खास | Jaaniye shaadi ki raat yani ke suhaagraat ko lovemaking kyon ban jaati hai khaas.

 

नवविवाहित जोड़े (newly married couples) के लिए, सुहागरात को लवमेकिंग करने से ज्‍यादा सुखद (good/ happy feeling) कुछ और नहीं हो सकता है। इस रात का हर दम्‍पत्‍ती को बेसब्री से (everyone waiting for this night eagerly) इंतजार रहता है। चूंकि दोनों पहली बार शारीरिक सम्‍बंध बनाने जा रहे होते हैं तो दिल में उमंग (exaltation) और मन में तरंग (love wave) होती हैं।

कई दम्‍पत्तियों को इस दिन बहुत नर्वसनेस (nervousness) भी होती है कि आखिर कैसे क्‍या होगा। लम्‍बे सेलिब्रेशन (after long celebration) के बाद, ये सुखद एहसास बहुत खास होता है जब आप दोनों एक दूसरे ही बाहों (in arms of each other) में होते हैं। वाकई ये एक ग्रेट आईडिया है कि:

CLICK HERE TO READ: किसी भी कार्य में सफलता पाने के लिए अप्नाये यह 8 सूत्र

CLICK HERE TO READ: जानिये के लड़कियों के सामने भद्र पुरुष की तरह कैसे पेश आएं और कैसे उन्हे इम्प्रेस करे

  1. आप एक दूसरे के साथ कमीटेड हो जाते हैं- Aap ek dusre ke saath committed ho jaate hai- Committed to each other

जब आप अपने पार्टनर के साथ सुहागरात पर होते हैं और एक अंदरूनी कमीटमेंट (connected with inner commitments) हो जाता है। जो सामान्‍य स्थितियों (not breaking in normal situations) में कभी नहीं टूटता है।

हर किसी की कोशिश रहती हैं कि उसे बनाए रखा जा सकें। इस दौरान दो शरीर नहीं बल्कि दो मन और दो आत्‍माएं (two bodies and two souls connected together) भी मिल जाती हैं। एक नया रिश्‍ता तैयार हो जाता है और आप इसे रात भर में ही स्‍वीकार्य (Accepted in this night) कर लेते हैं।

  1. भरोसा- Bharosa- Trust

सुहागरात के बाद, कपल्‍स में इंटरनल बॉन्डिंग (internal bonding) बन जाती है और उनके बीच एक भरोसा तैयार (trust created in them) हो जाता है। जिसे वो कभी भी एक दूसरे से न तोड़ने के बारे में मन ही मन सोच लेते हैं।

  1. एक-दूसरे की केयर करना- Ek doosre ki care karna- caring about each other

जब आप किसी को प्यार करते हैं तो आपके मन में अंदर से उसके लिए केयर (cares) आती है। ऐसा ही सुहागरात के बाद होता है। इस रात के बाद पति और पत्नी दोनों के मन में एक दूसरे के लिए प्यार आ (love for each other) जाता है। साथ ही दोनों के मन में एक दूसरे के लिए बहुत सारी फीलिंग्स (feeling about each other) भी आ जाती हैं। लेकिन इसके बाद वो दोनों बहुत ज्यादा सेंसिटिव (more sensitive) हो जाते हैं।

4 . एक-दूसरे की बॉडी को लेकर सेंसिटिव होना – Ek Doosre ki body ko lekar sensitive hona- Sensitive together each other body

लव मेकिंग बहुत ही जेंटल मूवमेंट (its a gentle movement) होता है जिसके बाद पति और पत्नी एक-दूसरे की बॉडी को लेकर बहुत ज्यादा सेंसिटिव हो जाते हैं। उनके बीच में स्वीटनेस (sweetness comes between two) आ जाती है और ये फीलिंग्स कुछ देर के लिए नहीं बल्कि लंबे समय (this feeling comes for really long time) के लिए होती है।

CLICK HERE TO READ: सावधान कहीं आपके साथ भी तो ऐसा नही हो रहा ?

  1. एक साथ पहला एडवेंचर – Ek Saath Adventure- Adventure Together

सुहागरात किसी एडवेंचर से कम नहीं (honey is not less than adventure) है। दोनों ही नर्वस होते हैं कि वो सही से परफॉर्म (perform better) कर पाएंगे या नहीं। ऐसे में यह दिन उन्हें हमेशा याद रहता है और उनकी लाइफ पर एक मार्क (mark on a life) छोड़ देता है। दोनों के लिए यह एक स्पेशल रात होती है (special night for both) जिसका आनंद उठाकर वो उसे हमेशा याद (both remember this for always) रखना चाहते हैं।

gharelu nuskhe, dadi maa ke nuskhe, desi nuskhe, dadi maa ke nuskhe in hindi,gharelu nukshe in hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *