शरीर के इन हिस्सो को छूने पर हो सकती है घातक बीमारियाँ | Shareer ke in hisso ko chhune par ho sakti hai ghaatak bimariyan.

General Baatein/ Jaroori Baatein

शरीर के इन हिस्सो को छूने पर हो सकती है घातक  बीमारियाँ | Shareer ke in hisso ko chhune par ho sakti hai ghaatak bimariyan.

 

हॉवर्ड स्‍कूल ऑफ डेंटल मेडीसिन (haward school of dental medicine) में हुए अध्‍ययन से एक निष्‍कर्ष (result of a research) सामने आया है कि हमारे शरीर के मुँह वाले हिस्‍से में लगभग 615 प्रकार के बैक्‍टीरिया (bacteria in mouth) होते हैं जो मुँह को बहुत गंदा बना देते हैं। अगर आपसे आपके शरीर के गंदे हिस्‍से (bad parts of body) के बारे में पूछा जाएं तो नि:संदेह आप गुदा यानि एनस को शरीर का सबसे गंदा हिस्‍सा (most dirtiest part of our body) बताएंगे।

लेकिन सच्‍चाई इससे (but truth is far away from this) परे है। अपने शरीर के बारे में जानिये कुछ छुपे हुए रहस्‍य हॉवर्ड स्‍कूल ऑफ डेंटल मेडीसिन में हुए अध्‍ययन से एक निष्‍कर्ष सामने आया है कि हमारे शरीर के मुँह वाले हिस्‍से (part of a mouth) में लगभग 615 प्रकार के बैक्‍टीरिया होते हैं जो मुँह को बहुत गंदा (make mouth more dirty) बना देते हैं।

CLICK HERE TO READ: जानिये किसे बचाने के लिये हनुमान जी को करना पड़ा अपने ही प्रिय पुत्र से युद्ध

CLICK HERE TO READ: अगर बड़ी उमर में भी जवान दिखना चाहते हो तो अभी शुरू करें इन 5 चीजों को खाना

आइए जानते हैं कि शरीर के और कौन से हिस्‍से बेहद गंदे हैं जो आम इंसान की नज़र से कहीं दूर हैं। Lets know those body parts which are more dirty in our body which might be no one knows before.

  1. मुँह – Mouth- आपके मुँह में लगभग 600 बैक्‍टीरियों का वास (home of bacteria) होता है। ये कोई मज़ाक की (not a joke) बात नहीं; बल्कि गंभीर समस्‍या (serious problem) है। इससे पता चलता है कि शरीर में होने वाले संक्रमण (infection) के लिए यहीं बैक्‍टीरिया जिम्‍मेदार होते हैं।
  1. बगल – Armpit- जिसे आर्मपिट भी कहा जाता है, में लगभग 80 हजार बैक्‍टीरिया होते हैं। यहीं कारण है कि आपको पसीना (sweat) आने के बाद बगल से दुर्गंध (smell) आने लगती है। इसीलिए, आपको हर दिन अपनी बगल को अच्‍छे से साफ करना चाहिए (wash it properly) और नियमित रूप से बालों को हटा (remove the hairs) लेना चाहिए।
  1. कान -Ear- कान, शरीर का सबसे गंदा हिस्‍सा (dirtiest part of body) होते हैं। इनमें जा होने वाले वैक्‍स (ear wax) की वजह से कान में बैक्‍टीरिया पनपने लगते हैं। इसलिए आपको कानों को साफ रखना चाहिए और इसके लिए इयरबड का इस्‍तेमाल (use earbuds) करना चाहिए।
  1. जीभ – Tongue- आप देखेंगे कि कुछ लोगों की जीभ बहुत साफ (very clean tongue) होती है और कुछ लोगों की जीभ में पीलापन (yellowish tongue) होता है। ये पीलापन या गंदगी, बैक्‍टीरिया के कारण होती है जो जीभ का रंग ही बदल (bacteria can change the color of tongue) देती है। इसलिए, हर दिन सुबह ब्रश (brush) करने के साथ अपनी जीभ को भी टंग क्‍लीनर (clean with tongue cleaner) से साफ करें।
  1. नाखून – Nails- आपने अक्‍सर डॉक्‍टर्स (mostly doctors) को नाखून लम्‍बे न रखने की सलाह देते हुए (suggestions of small nails) सुना होगा। ऐसा वो सफाई के लिहाज़ से कहते हैं। क्‍योंकि नाखूनों में लगभग हजारों की संख्‍या में बैक्‍टीरिया (thousands of bacteria’s in nails) रहते हैं। नाखूनों को साफ रखें और उन्‍हें नियमित रूप से काटते (cut the nails regularly) रहें।
  1. सिर -Head- आपका सिर बैक्‍टीरिया का घर (home of bacteria) होता है। आप इसे हर दूसरे दिन साफ करें ताकि वो टिक न पाएं। आपको जानकर आश्‍चर्य होगा कि रूसी के साथ मिलकर बैक्‍टीरिया सिर में खुजली (increase itching in the head) को बढ़ाता रहता है।
  1. नाभि – Navel- नाभि देखने में बेहद साफ लगती है लेकिन वो साफ (not clean) होती नहीं है। इसमें कई सारे बैक्‍टीरिया छुपकर बैठे होते हैं। इसलिए, नहाने के दौरान इसे अच्‍छे से साफ (wash your navel while bathing) करें।
  1. पिछला हिस्‍सा -Back part of body-  शरीर का पिछला हिस्‍सा, खासकर एनस गंदा (anus is dirty) होता है। इसमें काफी सारे बैक्‍टीरिया वास (lots of bacteria’s living their) करते हैं।

9. नाक – Nose- नाक के रास्‍ते में बालों के कारण डस्‍ट पार्ट्स रूक (dust particles stop in nose) जाते हैं और इस वजह से बैक्‍टीरिया पैदा होने लगते हैं। इसलिए, नाक को दिन में दो से तीन बार साफ पानी से साफ कर लें।

gharelu nuskhe, dadi maa ke nuskhe, desi nuskhe, dadi maa ke nuskhe in hindi,gharelu nukshe in hindi

loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *