अगर आपके पेट में अल्सर इन्फेक्शन है तो इन 7 चीज़ों से करना पड़ेगा परहेज़ | Agar aapke stomach mein ulcer infection hai to in 7 cheejo se karna padega parhej

अगर आपके पेट में अल्सर इन्फेक्शन है तो इन 7 चीज़ों से करना पड़ेगा परहेज़ | Agar aapke stomach mein ulcer infection hai to in 7 cheejo se karna padega parhej

 

आज आपको कुछ ऐसे खाद्य पदार्थों के बारे में बता रहे हैं जिनका आपको सख्ती से परहेज (avoid them strongly) करना है। स्वस्थ खान-पान (healthy food) और तनावमुक्त जीवनशैली (stress-less lifestyle) आपके स्वास्थ में बहुत अंतर (can change your health) ला सकती है।

पेट का अलसर कुछ ख़ास किस्म के छाले होते हैं जो आपके पाचन तंत्र की दीवारों (block your digestion system) पर एक झिल्ली बना लेते हैं। नवीनतम शोध (new research shows) के हिसाब से भारत में 90 लाख से ज्यादा लोग इस बीमारी से पीड़ित (infected from this) हैं।

हालाँकि इसका इलाज है (it has treatment) लेकिन इस दशा में पेट में भयानक दर्द और असहजता (heavy pain and discomfort) होती है। इसके अलावा अन्य बहुत सारे लक्षण जैसे सूजन (swelling), मिचली आना (vomiting), एसिडिटी (acidity) भी इस दशा को और तकलीफदायक (make it more painful) बना देते हैं। इसलिए ज़रूरी है कि अपने खान-पान पर ध्यान रखा (be careful about your diet) जाए जिससे दर्द ना बढ़े। कुछ खाद्य पदार्थ पेट में एसिड की मात्र बढ़ा देते हैं (some eating products increases acid in your stomach) जिससे आपकी समस्या बढ़ सकती है। फिर भी अगर आपकी तकलीफ बढती जा रही है (if the problem is still increasing or remaining) तो डॉक्टर से सलाह लेकर (consult doctor) ज़रूरी इलाज करवाएं जिससे यह बीमारी और ना बढ़े।

यह भी पढ़ें :- जानिये कैंसर के लक्षण एवं घरेलु देसी नुस्खे

यह भी पढ़ें :- जानिये पेट की मालिश के सेहत के लिए यह 9 फायदे

  1. कॉफ़ी- Coffee: कैफीन के सेवन से आपके पेट में एसिड की मात्र (increases acid in stomach) बढती है। इस कारण पेट के अलसर के मरीज को कॉफ़ी से परहेज़ करना चाहिए (patients has to avoid coffee) ताकि आपके पेट में एसिड की मात्र ना बढ़े। साथ ही आपके स्वास्थ में जल्दी सुधार हो।
  1. मिर्च-मसालेदार भोजन- Spicy Food: कई शोधों से यह पता चला है कि (lots of researches says) मसलेदार भोजन से अलसर बढ़ते हैं और स्थिति और खराब हो जाती (situation goes worst from bad) है। छालों में जलन (burn) होती है। अतः मसालेदार भोजन से परहेज़ (avoid them) करें।
  1. बेक किये हुए खाद्य पदार्थ – Baked Food: बेक किये हुए खाद्य पदार्थों में ट्रांस वसा की मात्रा बहुत होती है (too much of trans fat) इस कारण यह पेट के एसिड को बढाता (increases acid) है। इसे अलसर में जलन होती है। अतः ऐसे पदार्थों से परहेज़ (Avoid these products) ज़रूरी है।
  1. सफ़ेद ब्रेड- White bread: यह भी एक ऐसा खाद्य पदार्थ है जिससे अलसर की स्थिति और बिगड़ (situation can go wrong while eating it more) सकती है। अतः अपने भोजन से सफ़ेद ब्रेड को पूरी तरह से हटा देना स्वास्थकर (remove from your diet is good) होता है।
  1. लाल मांस- Red meat: लाल मांस में वसा की मात्रा बहुत (too much of fat) अधिक होती है। इस कारण यह अलसर की स्थिति को और विकट (it makes situation worst) बना देता है। अतः हर हाल में लाल मांस से परहेज़ ज़रूरी है।    यह भी पढ़ें :- सिरदर्द से निपटने के लिए कुछ घरेलू नुस्खे
  1. शराब- Wine: शराब का अत्यधिक सेवन आपके पाचन तंत्र को (digestion system) खराब कर देता है। अतः जिन लोगों को पेट में अलसर है उन लोगों को बहुत अधिक शराब नहीं पीनी (infected people avoid drinking) चाहिए। इसके अलावा यह भी देखा गया है कि अधिक शराब पीने वाले लोगों में अलसर होने का खतरा अधिक (increase the chances of ulcer) होता है।
  1. डेयरी उत्पाद- Diary products: डेयरी उत्पादों का सेवन पेट में एसिडिटी (dairy products increases acidity) बढाता है। अलसर की स्थिति में हालत और भी बिगड़ (situation can be more bad) सकती है। अतः जब तक अलसर ठीक ना हो जाये, दूध और अन्य डेयरी उत्पादों (avoid diary products for sometime) से दूरी बना ले।

gharelu nuskhe, dadi maa ke nuskhe, desi nuskhe, dadi maa ke nuskhe in hindi,gharelu nukshe in hindi

, , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , ,

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *