आइए आज जाने अंजीर के फायदे और नुस्खे | Aaiye aaj jaane anjeer ke faayde aur nuskhe | Know the health benefits of figs

आइए आज जाने अंजीर के फायदे और नुस्खे | Aaiye aaj jaane anjeer ke faayde aur nuskhe | Know the health benefits of figs

 

अंजीर उन फलों में से एक है जिसके गुणों को हजारों साल पहले पहचान लिया गया था। आदि काल से यह फल उपयोग (used from very long time) में लाया जा रहा है। आज सूखे मेवों में यह एक महत्त्वपूर्ण स्थान (important place in dry fruits category) रखता है। भारत में Anjeer  महाराष्ट्र , गुजरात (gujarat), कर्नाटक, उत्तर प्रदेश (uttar pradesh) और तमिलनाडु आदि राज्यों में उगाया जाता है। इसकी फसल साल में दो बार मई-जून (may- june) तथा दिसंबर-जनवरी (december- january) में आती है। दिसंबर (december) में आने वाला Anjeer मीठा और श्रेष्ठ  होता है।

यदि आपने सिर्फ सूखा अंजीर (dry anjeer) ही खाया है तो ताजा पके अंजीर का अनोखा स्वाद आपको चौंका देगा। पर ताजा Anjeer जल्दी ख़राब हो जाता है। अतः इसे सुखाकर बाजार में बेचा (selling in market) जाता है। सूखे हुए अंजीर में विटामिन व खनिज लवण की मात्रा ताजा Anjeer की अपेक्षा अधिक होती है। सूखा Anjeer क्षारीय होता है। जो शरीर के पीएच बैलेंस (maintain the PH balance of the body) को बनाये रखने में मदद करता है।

अंजीर- Anjeer की तासीर गर्म होती है। लेकिन इसे भिगोकर खाने (dip in water) से इसकी तासीर ठंडी हो जाती है। Anjeer को कई प्रकार की स्वादिष्ट मिठाई (delicious sweets) जैसे अंजीर की बर्फी , खजूर अंजीर मावा रोल , अंजीर-खजूर की गुझिया , तथा आइसक्रीम (ice cream), शेक (shake) आदि बनाने में काम लिया जाता है। Anjeer का तेल भी  निकाला जाता है। जो कई प्रकार की दवा तथा अन्य उपयोग (used in various types of medicine) में लाया जाता है।

 CLICK HERE TO READ: भगवान का पुरुषों के लिए वरदान है सर्दियों में गाजर

अंजीर के लाभदायक तत्व – Know about Nutrition’s in figs – Anjeer ke labhkari tatva

अंजीर में घुलनशील और अघुलनशील दोनों प्रकार के फायबर प्रचुर मात्रा (good quantity of fiber) में होते है। घुलनशील फायबर रक्त में ग्लूकोज़ (glucose) की मात्रा कम करने तथा मोटापा कम करने में (reducing body fat) और अघुलनशील फायबर पेट साफ करके कब्ज मिटाने में सहायक (helpful in constipation) होता है।

इसके अलावा Anjeer  में कई प्रकार के विटामिन और खनिज (vitamins and minerals) पाए जाते है जो शरीर के लिए बहुत लाभदायक (good for body) होते है। इसमें कार्बोहाइड्रेट (carbohydrates), प्रोटीन , थाइमिन , राइबोफ्लाविन , विटामिन K ,  विटामिन A  , विटामिन C , विटामिन B 6 , पोटेशियम , कैल्शियम (calcium), मैगनीज , कॉपर , फास्फोरस (phosphorus), आयरन तथा ज़िंक पर्याप्त मात्रा में पाए जाते है। इसमें पाए जाने वाले एंटीऑक्सीडेंट (antioxidant) उच्च क्वालिटी के होते है। यह शरीर के प्रत्येक अंग की पौष्टिकता प्रदान करने में सक्षम है।

अंजीर के फायदे – lets know Benefits of figs – jaaniye Anjeer ke fayde ke baare mein

CLICK HERE TO READ: एक मीठा फल – जामुन, जानिये यह फ्रूट कब खाना चाहिए और कब नहीं, जानिये जामुन के घरेलू नुस्खे

कब्ज – Constipation

Anjeer में फाइबर बहुत होता है। इसे खाने से आँतों की सफाई होती ही कब्ज दूर होती है। यह आँतों की क्रिया शीलता (increase activeness in body) बढ़ाता है। रात को 2 -3 अंजीर पानी में भिगो दें। सुबह ये Anjeer अच्छे से चबाकर  खा लें। फिर ये पानी भी पी जाएँ। इससे कुछ दिनों में कब्ज (removes constipation) मिट जाती है।

ब्लड प्रेशर – Blood Pressure

Anjeer में पोटेशियम बहुत होता है। पोटेशियम ब्लड प्रेशर कम करने में मददगार (helpful in reducing blood pressure) होता है। अतः Anjeer खाना अधिक ब्लड प्रेशर वाले लोंगों के लिए फायदेमंद होता है। यह रक्त में ट्राई ग्लेसराइड लेवल को कम करके ह्रदय रोग (save from heart problems) से भी बचाता है।

SEMrush

दमा – Asthama

दमा यानि अस्थमा होने पर  Dry Anjeer नियमित खाना लाभदायक (helpful) हो सकता है। इसकी तासीर गर्म होने के कारण इसे खाने से फेफड़ों (lungs) से कफ (cough) आदि कम होकर दमा में आराम  मिलता है।

यौन शक्ति – Sex power benefits

अंजीर यौन शक्ति बढ़ाने का काम करता है। इसके लिए 3 -4 अंजीर तीन कप दूध (boil the milk) के साथ उबालें। जब दो कप रह जाये तब गुनगुना रहने पर Anjeer  निकाल कर खा लें। ऊपर से यह दूध घूँट घूँट करके पी लें। यह रात को सोने से आधा घंटे पहले लें। 15 दिन लगातार लेने से बहुत फर्क महसूस (feel the difference) होता है। इस प्रयोग से शारीरिक दुर्बलता (relief from physical weakness) दूर होती है। यह स्नायु की दुर्बलता को भी ठीक करता है।

बवासीर – Piles

अंजीर में पाए जाने वाले लाभदायक तत्व तथा अधिक मात्रा में पाया जाने वाला फायबर बवासीर को मिटाने में कारगर सिद्ध होता है। कुछ दिन नियमित रूप से सुबह शाम (regular use in morning and evening) Anjeer को भिगोकर खाने व इसका पानी पीने से बवासीर ठीक हो जाते है।

 
हड्डी की मजबूती – Strength in bones

Anjeer  में काफी मात्रा में केल्शियम (good quantity of calcium) होता है। इसका कैल्शियम आसानी से शरीर में अवशोषित हो जाता है। इसलिए अंजीर के लगातार सेवन करने से हड्डिया मजबूत (strengthens the bones) होती है।

 
दाँत – Teeths

कैल्शियम की मात्रा अधिक होने के कारण दांतो की रक्षा (helpful for teeths too) करने में Anjeer मदद करता है। उन्हें मजबूत बनाता है (makes teeths strong) जिससे दाँत में कीड़ा लगना आदि समस्याओं से बचाव होता है।

त्वचा- Skin

अंजीर से  मिलने वाले विटामिन व खनिज त्वचा को कोमल (soft), सुन्दर (beautiful) और ग्लोइंग (glowing) बनाते है। इसमें स्किन को स्वस्थ (making skin healthy) बनाने वाले लगभग सभी तत्व मौजूद होते है। इसके नियमित उपयोग से आयरन की कमी नहीं होती , यह भी त्वचा को लाभ (benefits the skin) देता है।

 
बालों के लिए – For hair use

Anjeer में कॉपर (copper) होने के कारण बालों को काला बनाये रखने में मदद करता है। Anjeer का तेल बालों में लगाकर भी इसका लाभ लिया जा सकता है। हेयर मास्क (hair mask) में 10 बूँद अंजीर के तेल की मिलाकर बालों पर लगाकर धोने से बाल शाइनी और मुलायम (soft and shiny) हो जाते है। Anjeer का तेल 5 -7 बूँद कंडीशनर (conditioner) के साथ लगाकर रखने से भी बाल बहुत अच्छे हो जाते है।

CLICK HERE TO READ: जानिये कैसे नये जैसे रहेंगे आपके ऊनी कपड़े

एंटी ओक्सिडेन्ट – Anti Oxidant

अंजीर में पाये जाने वाले एंटीऑक्सीडेंट (antioxidant) शरीर के लिए बहुत लाभदायक (good for body) होते है। इसके पोलीफेनोल तत्व फ्री रेडिकल्स को कंट्रोल करके कैंसर जैसी गंभीर रोग से रक्षा (it saves from serious diseases like cancer)करते है।

 
अंजीर कब ना खाएँ – When not to eat

  • जिन लोगों को किडनी की समस्या (problem of kidney) हो उन्हें Anjeer नहीं खानी चाहिए क्योंकि इसमें ऑक्जेलिक एसिड (acid) होता है।
  • जिन्हें Anjeer से एलर्जी (allergy) हो उन्हें इसका उपयोग नहीं (dont use) करना चाहिए।
  • सूखे Anjeer में शक्कर की काफी मात्रा होती है (good quantity of sugar) अतः डायबिटीज वालों को डॉक्टर की सलाह (use it with the suggestion from doctor) से ही इसे खाना चाहिए।

gharelu nuskhe, dadi maa ke nuskhe, desi nuskhe, दादी माँ के नुस्खे , देसी नुस्खे,is fruit good for you, is fruit bad for you, weight loss fruits

Loading...

Loading...
, , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , ,

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *