जानिये आजीवन स्वस्थ रहने के लिए इन 19 घरेलू नुस्खे के बारे में | Jaaniye aajeevan swasth rehne ke liye in 19 gharelu nuskho ke baare mein

General Baatein/ Jaroori Baatein

जानिये आजीवन स्वस्थ रहने के लिए इन 19 घरेलू नुस्खे के बारे में | Jaaniye aajeevan swasth rehne ke liye in 19 gharelu nuskho ke baare mein

 

(1) खड़े -खड़े पानी पीने से घुटनों में दर्द की बीमारी (pain  in knees) होती है इसलिए खाना पीना बैठ कर करना चाहिए।

(2) नक्क्सीर आने पर तुरंत नाक में देशी घी (desi ghee) लगाना चाहिए, नाक से खून (bleeding from nose) आना तुरंत बंद हो जाता है

(3) बच्चों को पेशाब (toilet) ना उतारे तो स्नान घर में ले जाकर टूटी खोल दें पानी गिराने की आवाज़ सुनकर बच्चे का पेशाब उतर जायेगा

(4) बस में उलटी (vomiting) आती हो तो सीट पर अखबार (newspaper) रखकर बैठने से, उलटी नहीं आती

(5) कद बढ़ाने (height gain) के लिए अश्वगंधा व मिश्री बराबर मात्र में चूरन बना कर 1 चम्मच भोजन के बाद लें (after food)

CLICK HERE TO READ: जानिये खाने से पहले उसके चारों तरफ आखिर क्यों छिड़कते हैं पानी

(6) बाल गिरने (hair fall) लगें हों तो 100 ग्राम नारियल तेल (coconut oil) में 10 ग्राम देशी कपूर मिलाकर जड़ों में लगायें

(7) सर में खोरा हो, शरीर पर सूखी खुजली हो तो भी इसी तेल को लगाने से लाभ (help) मिलता है

(8) दिन में दो बार खाना, तो दो बार शौच (washroom) भी जाना चाहिए, क्योंकि “रुकावट” ही रोग होता है

(9) आधा सर दर्द (headache) होने पर, दर्द होने वाली साईड की नाक में 2-3 बूँद सरसों का तेल जोर से सूंघ (smell) लें

(10) जुकाम होने पर सुहागे का फूला 1 चम्मच, गर्म पानी (hot water) में घोल कर पी लें 15 मिनट में जुकाम गायब

(11) चहरे को सुन्दर (to make face beautiful) बनाने के लिए 1 चम्म्च दही में 2 बूंद शहद मिला कर लगायें 10 मिनट बाद धो लें

(12) इसी नुसखे को पैरो की बिवाईयों में भी प्रयोग कर सकतें हैं, लाभ होगा

CLICK HERE TO READ: अगर आप मरते दम तक फिट और फाइन रहना चाहते हो तो करे यह 3 काम, निरोगी काया धन से अधिक महत्वपूर्ण है

(13) हाई बी.पी. (high BP) ठीक करने के लिए 1 चम्मच प्याज़ का रस में 1 चम्मच शहद मिलाकर चाटें (सुगर के रोगी भी ले सकतें हैं)

(14) लो बी.पी. (low BP) ठीक करने के लिए 32 दाने किसमिस के रात को कांच के गिलास में भिगो दें सुबह 1-1 दाना चबा-चबा कर खाएं (रोज़ 32 दाने खाने हैं 32 दिनों तक)

(15) कब्ज़ (constipation) ठीक करने के लिए अमलताश की फली (2 इंच) का काढ़ा बनाकर शाम को भोजन के बाद पियें

(16) कमर में दर्द (back pain) होने पर 100 ग्राम खसखस में 100 ग्राम मिश्री मिला कर चूर्ण बनायें, भोजन के बाद 1 चम्मच गर्म दूध से लें

(17) सर चक्कर आने पर 1 चम्मच धनियाँ चूर्ण में 1 चम्मच आंवला चूर्ण (amla churan) मिलाकर ठन्डे पानी (cold water) से लें

(18) दांतों में दर्द (tooth pain) होने पर 1 चुटकी हल्दी, 1 चुटकी काला नमक, 5 बूंद सरसों तेल मिलाकर लगायें

(19) टौंसिल (tonsils) होने पर अमलताश की फली के काढ़े से गरारे करें, ठीक हो जायेगें।

gharelu nuskhe, dadi maa ke nuskhe, desi nuskhe, दादी माँ के नुस्खे , देसी नुस्खे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *