क्या आप जानते है भारतीय मुद्रा रुपया से जुड़े 31 अजब-ग़ज़ब रोचक तथ्य | kya aap jaante hai bhartiya mudra rupaye se jude 31 ajab- gajab rochak tathya

Ajab Gajab/ Rochak Baatein/ Facts in Hindi

क्या आप जानते है भारतीय मुद्रा रुपया से जुड़े 31 अजब-ग़ज़ब रोचक तथ्य | kya aap jaante hai bhartiya mudra rupaye se jude 31 ajab- gajab rochak  tathya

 

1. भारत में करंसी का इतिहास (history) 2500 साल पुराना हैं। इसकी शुरूआत एक राजा (king) द्वारा की गई थी।

2. अगर आपके पास आधे से ज्यादा (51 फीसदी) फटा हुआ नोट है तो भी आप बैंक (bank) में जाकर उसे बदल सकते हैं।

3. बात सन् 1917 की हैं, जब 1 रुपया 13$ डाॅलर के बराबर हुआ करता था। फिर 1947 में भारत आजाद हुआ, 1 = 1$ कर दिया गया. फिर धीरे-धीरे भारत पर कर्ज (loan) बढ़ने लगा तो इंदिरा गांधी (indira gandhi) ने कर्ज चुकाने के लिए रूपये की कीमत कम करने का फैसला लिया उसके बाद आज तक रूपये की कीमत घटती आ रही हैं।

4. अगर अंग्रेजों का बस चलता तो आज भारत की करंसी पाउंड (pound) होती. लेकिन रुपए की मजबूती के कारण ऐसा संभव नही हुआ।

5. इस समय भारत में 400 करोड़ रूपए के नकली नोट (duplicate currency) हैं।

6. सुरक्षा कारणों की वजह से आपको नोट के सीरियल नंबर (serial numbers) में I, J, O, X, Y, Z अक्षर नही मिलेंगे।

CLICK HERE TO READ: यह है धन प्राप्ति के कुछ अचूक उपाय, जो हर किसी की सोई किस्मत को जगाये

7. हर भारतीय नोट पर किसी न किसी चीज की फोटो छपी (photo printed) होती हैं जैसे- 20 रुपए के नोट पर अंडमान आइलैंड की तस्वीर है। वहीं, 10 रुपए के नोट पर हाथी, गैंडा और शेर छपा हुआ है, जबकि 100 रुपए के नोट पर पहाड़ और बादल की तस्वीर (picture) है। इसके अलावा 500 रुपए के नोट पर आजादी के आंदोलन से जुड़ी 11 मूर्ति की तस्वीर छपी हैं।

8. भारतीय नोट पर उसकी कीमत 15 भाषाओं (languages) में लिखी जाती हैं।

9. 1 में 100 पैसे होगे, ये बात सन् 1957 में लागू की गई थी। पहले इसे 16 आने में बाँटा (divide) जाता था।

10. RBI, ने जनवरी 1938 में पहली बार 5 की पेपर करंसी छापी थी. जिस पर किंग जार्ज-6 (king george) का चित्र था। इसी साल 10,000 का नोट भी छापा गया था लेकिन 1978 में इसे पूरी तरह बंद कर दिया गया।

11. आजादी के बाद पाकिस्तान (pakistan) ने तब तक भारतीय मुद्रा का प्रयोग किया जब तक उन्होनें काम चलाने लायक नोट न छाप लिए।

12. भारतीय नोट किसी आम कागज के नही, बल्कि काॅटन (cotton) के बने होते हैं। ये इतने मजबूत होते हैं कि आप नए नोट के दोनो सिरों को पकड़कर उसे फाड़ नही सकते।

13. एक समय ऐसा था, जब बांग्लादेश (Bangladesh) ब्लेड बनाने के लिए भारत से 5 रूपए के सिक्के मंगाया करता था. 5 रूपए के एक सिक्के से 6 ब्लेड बनते थे. 1 ब्लेड की कीमत 2 रूपए होती थी तो ब्लेड बनाने वाले को अच्छा फायदा होता था. इसे देखते हुए भारत सरकार ने सिक्का बनाने वाला मेटल (metal) ही बदल दिया।

14. आजादी के बाद सिक्के तांबे (copper) के बनते थे। उसके बाद 1964 में एल्युमिनियम (aluminium) के और 1988 में स्टेनलेस स्टील के बनने शुरू हुए।

15. भारतीय नोट पर महात्मा गांधी (mahatma gandhi) की जो फोटो छपती हैं वह तब खीँची गई थी जब गांधीजी, तत्कालीन बर्मा और भारत में ब्रिटिश सेक्रेटरी (british secretary) के रूप में कार्यरत फ्रेडरिक पेथिक लॉरेंस के साथ कोलकाता स्थित वायसराय हाउस में मुलाकात करने गए थे। यह फोटो 1996 में नोटों पर छपनी शुरू हुई थी। इससे पहले महात्मा गांधी की जगह अशोक स्तंभ छापा जाता था।

16. भारत के 500 और 1,000 रूपये के नोट नेपाल (nepal) में नही चलते।

17. 500 का पहला नोट 1987 में और 1,000 पहला नोट सन् 2000 में बनाया गया था।

18 भारत में 75, 100 और 1,000 के भी सिक्के (coins) छप चुके हैं।

CLICK HERE TO READ: सावधान कहीं आपके साथ भी तो ऐसा नही हो रहा

19. 1 का नोट भारत सरकार (indian government) द्वारा और 2 से 1,000 तक के नोट RBI द्वारा जारी किये जाते हैं.

20. एक समय पर भ्रष्टाचार से लड़ने के लिए 0 का नोट 5th pillar नाम की गैर सरकारी संस्था (non government association) द्वारा जारी किए गए थे।

21. 10 के सिक्के को बनाने में 6.10 की लागत आती हैं.

22. नोटो पर सीरियल नंबर इसलिए डाला जाता हैं ताकि आरबीआई (RBI) को पता चलता रहे कि इस समय मार्केट (market) में कितनी करंसी हैं।

23. रूपया भारत के अलावा इंडोनेशिया, मॉरीशस, नेपाल, पाकिस्तान और श्रीलंका (srilanka) की भी करंसी हैं।

24. According to RBI, भारत हर साल 2,000 करोड़ करंसी नोट छापता हैं।

25. कम्प्यूटर (computer) पर  टाइप करने के लिए ‘Ctrl+Shift+$’ के बटन को एक साथ दबावें.

26.  इस चिन्ह को 2010 में उदय कुमार (uday kumar) ने बनाया था। इसके लिए इनको 2.5 लाख रूपयें का इनाम भी मिला था।

27. क्या RBI जितना मर्जी चाहे उतनी कीमत के नोट छाप सकती हैं ?

ऐसा नही हैं, कि RBI जितनी मर्जी चाहे उतनी कीमत के नोट छाप सकती हैं, बल्कि वह सिर्फ 10,000 तक के नोट छाप सकती हैं। अगर इससे ज्यादा कीमत के नोट छापने हैं तो उसको रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया एक्ट (reserve bank of india act) , 1934 में बदलाव करना होगा।

28. जब हमारे पास मशीन हैं तो हम अनगणित नोट क्यों नही छाप सकते ?

हम कितने नोट छाप सकते हैं इसका निर्धारण मुद्रा स्फीति, जीडीपी ग्रोथ, बैंक नोट्स के रिप्लेसमेंट (replacement) और रिजर्व बैंक के स्टॉक (stock) के आधार पर किया जाता है।

29. हर सिक्के पर सन् के नीचे एक खास निशान बना होता हैं आप उस निशान (sign) को देखकर पता लगा सकते हैं कि ये सिक्का कहाँ बना हैं.

*.मुंबई – हीरा [◆]
*.नोएडा – डाॅट [.]
*.हैदराबाद – सितारा [★]
*.कोलकाता – कोई निशान नहीं.

30. जानिए, एक नोट कितने रूपयें में छपता हैं।
*.1 = 1.14
*.10 = 0.66
*.20 = 0.94
*.50 = 1.63
*.100 = 1.20
*.500 = 2.45
*.1,000 = 2.67

31. रूपया, डाॅलर के मुकाबले बेशक कमजोर (weak) हैं लेकिन फिर भी कुछ देश ऐसे हैं, जिनकी करंसी के आगे रूपया काफी बड़ा हैं आप कम पैसों में इन देशों में घूमने का लुत्फ (enjoy) उठा सकते हैं.
*.नेपाल (nepal) (1 = 1.60 नेपाली रुपया)
*.आइसलैंड (1 = 1.94 क्रोन)
*.श्रीलंका (1 = 2.10 श्रीलंकाई रुपया)
*.हंगरी (1 = 4.27 फोरिंट)
*.कंबोडिया (combodia) (1 = 62.34 रियाल)
*.पराग्वे (1 = 84.73 गुआरनी)
*.इंडोनेशिया (1 = 222.58 इंडोनेशियन रूपैया)
*.बेलारूस (1 = 267.97 बेलारूसी रुबल)
*.वियतनाम (vietnam) (1 = 340.39 वियतनामी डॉन्ग).

gharelu nuskhe, dadi maa ke nuskhe, desi nuskhe, दादी माँ के नुस्खे , देसी नुस्खे, Gazabpost, dunya news, अजब गज़ब

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *