हर तरह की पथरी के रामबाण घरेलू नुस्खे , Har tarah ki patthari ke rambaan gharelu nuskhe
हर तरह की पथरी के रामबाण घरेलू नुस्खे , Har tarah ki patthari ke rambaan gharelu nuskhe

हर तरह की पथरी के रामबाण घरेलू नुस्खे | Har tarah ki patthari ke rambaan gharelu nuskhe

हर तरह की पथरी के रामबाण घरेलू नुस्खे | Har tarah ki patthari ke rambaan gharelu nuskhe

 

किडनी में स्‍टोन की समस्‍या (problem of kidney stone) आजकल आम हो चली है। इसकी बड़ी वजह खान-पान की गलत आदतें (bad eating habbits) होती हैं। जब नमक एवं अन्य खनिज (जो हमारे मूत्र में होते हैं) वे एक दूसरे के संपर्क (contact) में आते है या अगर किसी कारण से पेशाब गाढा हो जाता है तो किडनी के अन्दर छोटे-छोटे पत्थर जैसी कठोर वस्तुएं (hard things) बन जाती हैं जिन्हे गुर्दे की पथरी के रूप में जाना जाता है।

गुर्दे की पथरी अलग अलग आकार (different sizes) की हो सकती है| कुछ पथरी रेत के दानों की तरह बहुत हीं छोटे आकार के होते हैं तो कुछ बहुत हीं बड़े। आमतौर पर छोटे मोटे पथरी मूत्र के जरिये शरीर के बाहर निकल जाया करते हैं लेकिन जो पथरी आकार में बड़े होते हैं वे बाहर नहीं निकल पाते एवं मूत्र के बाहर निकलने में बहुत ही बाधा डालते हैं उससे बहुत हीं ज्यादा पीड़ा उत्पन्न (heavy pain) होती है। पथरी का दर्द कभी-कभी बर्दाश्त (unbearable pain) से बाहर हो जाता है। इसमें पेशाब करने में बहुत दिक्कत होती है और कई बार पेशाब रूक जाता है। पथरी होने की कोई उम्र नहीं होती है, यह किसी भी उम्र (any age) में हो सकती है।

CLICK HERE TO READ: गुर्दों में पथरी के नुस्खे – Kidney Stone | जानिये पथरी का घरेलू इलाज और नुस्खे

यहाँ पर हम आपको पथरी के कुछ आसान घरेलू नुस्खे के बारे में जानकारी देते हैं।

1. नारियल का पानी पीने (drink coconut water) से पथरी में फायदा होता है। पथरी होने पर नारियल का प्रतिदिन पानी पीना चाहिए।

2. करेला वैसे तो बहुत कड़वा होता है परन्‍तु पथरी में यह रामबाण की तरह काम करता है। करेले में मैग्‍नीशियम और फॉस्‍फोरस (magnesium and phosphorus) नामक तत्‍व होते हैं, जो पथरी को बनने से रोकते हैं।

3. 15 दाने बडी इलायची के एक चम्मच, खरबूजे के बीज की गिरी और दो चम्मच मिश्री, एक कप पानी (one cup water) में मिलाकर सुबह-शाम दो बार पीने से पथरी निकल जाती है।

4. अंगूर में एल्ब्यूमिन और सोडियम क्लोराइड (sodium chloride) बहुत ही कम मात्रा में होता हैं, इसलिए किडनी में स्‍टोन के उपचार के लिए अंगूर (grapes) को बहुत ही उत्तम माना जाता है। चूँकि इनमें पोटेशियम नमक और पानी भरपूर मात्रा में होते है इसलिए अंगूर प्राकृतिक मूत्रवर्धक के रूप में भी उत्कृष्ट रूप में कार्य करता है।

5. पका हुआ जामुन पथरी से निजात दिलाने में बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाता (playing important role) है। पथरी होने पर पका हुआ जामुन खाना चाहिए।

6. किडनी में स्‍टोन को निकालने में बथुए का साग भी बहुत ही कारगर होता है। इसके लिए आप आधा किलो बथुए के साग को उबाल (boil) कर छान लें। अब इस पानी में जरा सी काली मिर्च, जीरा और हल्‍का सा सेंधा नमक मिलाकर, दिन में चार बार पीने से शीघ्र ही फायदा (fast relief) होता है।

7. आंवला का पथरी में बहुत फायदा करता है। आंवला का चूर्ण मूली के साथ खाने से मूत्राशय की पथरी (urine stone) निकल जाती है।

8. प्याज (onion) में गुर्दे की पथरी के इलाज के लिए औषधीय गुण पाए जाते हैं। इसका प्रयोग (use) से हम किडनी में स्‍टोन से निजात पा सकते है। लगभग 70 ग्राम प्‍याज को पीसकर और उसका रस (juice) निकाल कर पियें। सुबह, शाम खाली पेट प्‍याज (empty stomach) के रस का नियमित सेवन करने से पथरी छोटे-छोटे टुकडे (small pieces) होकर निकल जाती है।

CLICK HERE TO READ: Gurde ki pathri – kidney stone se chutkare ke 10 nuskhe

9. जीरे और चीनी को समान मात्रा में पीसकर एक-एक चम्मच ठंडे पानी (one spoon with cold water) से रोज तीन बार लेने से लाभ होता है और पथरी निकल जाती है।

10. सहजन की सब्जी खाने से गुर्दे की पथरी टूटकर बाहर निकल जाती है। आम के पत्ते (mango leaves) छांव में सुखाकर बहुत बारीक पीस लें और आठ ग्राम रोज पानी के साथ लीजिए, फायदा होगा।

11. पथरी की समस्‍या से निपटने के लिए केला जरूर खाना (must eat banana) चाहिए क्‍योंकि इसमें विटामिन बी 6 होता है। विटामिन बी 6 ऑक्जेलेट क्रिस्टल को बनने से रोकता और तोड़ता भी है। विटामिन बी-6, विटामिन बी के अन्य विटामिन (vitamin) के साथ सेवन करना किडनी में स्‍टोन के इलाज में काफी मददगार माना जाता है ।

12. मिश्री, सौंफ, सूखा धनिया लेकर 50-50 ग्राम मात्रा में लेकर डेढ लीटर पानी में रात को भिगोकर रख दीजिए। अगली शाम को इनको पानी से छानकर पीस लीजिए और फिर पानी में मिलाकर इसका घोल बना लीजिए, इस घोल को पी‍जिए।ऐसा नियमित रूप (do it regular) से करें शीघ्र ही पथरी निकल जाएगी।

13. चाय, कॉफी व अन्य पेय पदार्थ (tea, coffee or other caffeine products) जिसमें कैफीन पाया जाता है, उन पेय पदार्थों का सेवन बिलकुल मत कीजिए। हो सके कोल्ड्रिंक ज्यादा मात्रा में पीजिए।

14. शुद्ध तुलसी का रस लेने से भी पथरी को यूरीन के रास्‍ते निकलने में मदद मिलती है। कम से कम एक म‍हीना तुलसी के पतों के रस के साथ शहद (honey) लेने से बहुत लाभ मिलता है। तुलसी के कुछ ताजे पत्तों को भी रोजाना चबाना चाहिए ।

15. जीरे को मिश्री की चासनी अथवा शहद के साथ लेने पर पथरी घुलकर पेशाब के साथ निकल जाती है।

16. नींबू का रस (lemon ras) और जैतून के तेल का मिश्रण, गुर्दे की पथरी के लिए सबसे प्रभावी प्राकृतिक उपचार (natural treatment) में से एक है। पत्‍थरी का दर्द होने पर 60 मिली लीटर नींबू के रस में उतनी ही मात्रा में आर्गेनिक जैतून का तेल (organic olive oil)  मिला कर सेवन करने से जल्दी ही आराम मिलता है। नींबू का रस और जैतून का तेल पूरे स्वास्थ्य के लिए भी बहुत अच्छा रहता है।

gharelu nuskhe, dadi maa ke nuskhe, desi nuskhe, दादी माँ के नुस्खे , देसी नुस्खे

loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*