यह है वह 10 तरिके जिनसे बहुत तेज रफ्तार से बढ़ता है मेटाबॉलिज्म- Increase Metabolism Faster With These 10 Tricks

यह है वह 10  तरिके जिनसे बहुत तेज रफ्तार से बढ़ता है मेटाबॉलिज्म- Increase Metabolism Faster With These 10 Tricks

कभी सोचा है कि आप जो खाते (things you eat) हैं, उसका फायदा (benefit) क्यों नहीं मिलता? आपने अपना रहन-सहन (life style) बदल दिया, सबकुछ ठीक से कर रहे हैं, लेकिन फिर भी कोई अंतर (no difference) नहीं आता. ऐसे में क्या किया जाए?

कैलोरी लेने या खर्च होने से मेटाबॉलिज्म (metabolism) पर कोई फर्क नहीं पड़ता. मेटाबॉलिज्म एक ऐसा वैज्ञानिक (scientific word) शब्द है, जिसका अक्सर गलत प्रयोग (wrong use) किया जाता है. हर कोई एक ‘सेट प्वाइंट’(set point)  के साथ जन्म (birth) लेता है, जिसे हमारा शरीर हमारे आदर्श वजन (weight) और मेटाबॉलिक रेट (metabolic weight) के तौर पर स्थापित करता है.

जब हम शारीरिक गतिविधि‍ (physical activities) बढ़ाए बिना, जरूरत से ज्यादा (over eating) खा लेते हैं, तो ये ‘सेट प्वांइट’ अपनी जगह से हिल जाता है. एक स्वस्थ मेटाबॉलिज्म (healthy metabolism) के लिए खाना बेहद जरूरी है. कुछ खाने की चीजों में मेटाबॉलिज्म बढ़ाने की क्षमता (increasing capacity) भी होती है.

यह भी पढ़ें :- अगर अपने लिवर को रखना है साफ तो खाइये यह फूड

यह भी पढ़ें :- यह 10 सब्जियां है मधुमेह के रोगियों के लिये दवाई के समान

इन 10 बातों पर ध्यान देना जरूरी है – Care About These 10 Things.

     1. नाश्ता कभी छोड़ें – Never Skip Your Breakfast

नाश्ता (breakfast) न करने से आपका शरीर (your body) भूखा रह जाता है और वह आपका मेटाबॉलिज्म कम कर इनर्जी (saving energy) बचाने की कोशिश करता है.

अपने आप से वादा (promise) करें कि आप स्वास्थ्यवर्धक नाश्ता (healthy breakfast) किए बिना ऑफिस (office) नहीं जाएंगे. नाश्ता न करने से आप भूखे (hungry) रह जाते हैं. इससे थकान (fatigue) भी होती है और फिर बाद में अधिक वसायुक्त खाना (fatty food) खाने की इच्छा होती है. वास्तव (in reality) में इसलिए जो लोग नाश्ता नहीं करते, वे मोटापे के शिकार (victim of obesity) होते हैं और उनमें ट्राइग्लिसराइड्स का स्तर अधिक (increase level) होता है.

  1. जब भूख लगे, तो थोड़ा भोजन करें – Eat When Feel Hungry

आप दिन में तीन बार पूरा भोजन (take proper diet) और इस बीच में दो से तीन बार हेल्दी (eat healthy snacks) स्नैक्स खाएं. किसी भी समय का भोजन (never skip your diet) न छोड़ें, क्योंकि इससे अपच (indigestion) और एसिडिटी (Acidity) हो जाती है और आपका शरीर भूखा रह जाता है. यह मेटाबॉलिक रेट गिरा (reduces metabolism rate) देता है. अगर आपको भूख लगी है, तो खा लें.

  1. स्वास्थ्यवर्धक नाश्ता – Healthy Breakfast

नाश्ते के तौर पर नमकीन, भुजिया, तली हुई (fried things) चीजें, जैसे समोसा (samosa) और चिप्स (chips) आदि खाने से बचें. इनके बजाए फल (fruit), मेवे (dry fruits), चना खाएं और छाछ या नारि‍यल (coconut water) का पानी पिएं.

  1. अधिक से अधिक तरल पदार्थ लें – Take More and More Liquid Diet

पेय पदार्थ आपके शरीर से न सिर्फ विषाक्त तत्व (removes toxic things) बाहर निकालने में सहायक (helpful) होते हैं, बल्कि वजन घटाने (reduce weight) और त्वचा चमकदार (shiny skin) बनाने में भी मदद करते हैं. दिनभर में कम से कम 2.5 से 3 लीटर तक तरल पदार्थ लें. इसमें पानी (water) या अन्य कम कैलोरी (less calories) वाले पेय पदार्थ भी शामिल करें.

SEMrush
  1. ग्रीन टी, एवकैडो और मेवे – Green Tea, Avocado and Dry Fruits

ग्रीन टी (green tea) रोजाना पीना फायदेमंद (benefit) होता है. इसमें मौजूद कैमिकल कंपाउंड्स (chemical compounds) कैलोरीज बर्न करने में मदद (helps) करते हैं. एवकैडो (avocado) में मौजूद भरपूर ओमेगा—3 फैटी एसिड (fatty acids) ब्लड शुगर और इंफ्लेमेशन को नियंत्रित (controls inflammations) करता है, जो मेटाबॉलिज्म को स्थिर (control metabolism) रखता है. कच्चे मेवे (dry fruits) और बीज सूक्ष्म पोषक तत्वों और एंटी—ऑक्सीडेंट (anti oxidants) से भरपूर होते हैं, जो आपको अपने आहार (cant get from diet) से प्राप्त नहीं हो पाता.

  1. विषाक्त पदार्थ बाहर निकालें – Take off Toxic Food

कैफीन (caffeine), अल्कोहल (alcohol), परिष्कृत और डिब्बाबंद खाना (packed food), नमक, चीनी, गेहूं और रेड मीट (red meat) छोड़ दें. शुद्ध खाने जैसे कच्चे फल (fruits) और सब्जियां (vegetables), साबुत अनाज(सफेद चावल छोड़कर), मसूर की दाल, कच्चे मेवे व अंकुर (sprouts), मछली (fish), सब्जी का तेल और खूब सारे पेय पदार्थों (liquid diet) को खाने पर ध्यान दें.

  1. डाइट में हों सारे रंग – Verities of Color in Diet

आपकी डाइट (diet) में जितने ज्यादा रंग (colors) होंगे, उतने अधिक एंटी-ऑक्सीडेंट (anti oxidants) आपको मिलेंगे. ये कम्पाउंड्स कोशिकाओं (compounds tissues) को होने वाली क्षति को कम (reduce the damage) कर देते हैं और धमनियों को सख्त (hard) होने से रोकते (stop) हैं, जो कि दिल की बीमारी (heart disease), आघात (stroke), यहां तक की याददाश्त कम होने का कारण बनता है. हर दिन अपने खाने में कम से कम पांच अलग-अलग रंगों (add different color fruits and vegetables) के फल या सब्जियां शामिल करें.

  1. अपने वजन पर नजर रखें – Keep an Eye on Your Weight

अपने बीएमआई {BMI- बेसल मेटाबॉलिक इंडेक्स= वजन (किलो में)÷ कद(मीटर स्क्वायर में)} को जानें और इसे 23—25 के बीच रखें या विशेषज्ञ (suggestion from consultant) की सलाह लें.

यह भी पढ़ें :- यह 9 काम नहीं करने चाहिए महिलाओं को सीजेरियन डिलीवरी के बाद

यह भी पढ़ें :- संक्षेप में जानिये लड़की से दोस्ती और फ्रेंडशिप करने के नुस्खे

  1. व्यायाम – Exercise

आपके मेटाबॉलिज्म (metabolism) (और आपके सामान्य स्वास्थ्य) के लिए सबसे ज्यादा जरूरी (exercise is most important) व्यायाम करना है. इंटरवल ट्रेनिंग (interval training) और रेसिस्टेंस ट्रेनिंग (resistance training) सबसे अच्छे विकल्प हैं. इंटरवल ट्रेनिंग और वेट (वजन) ट्रेनिंग मांसपेशियों (strengthen the muscles) को मजबूत करेगी, जो अच्छे मेटाबॉलिज्म (good metabolism) के समान है.

  1. खुद को पोषण दें – Give Nutritions to Yourself

अपना ख्याल (take care of yourself) रखें, अच्छा खाएं (Eat right), पूरी नींद लें (sleep tight), अपने आप में कमी न निकालें और फिर अंत में आप जैसे हैं, वैसे ही खुद को (start loving yourself) पसंद करने लगेंगे.

आयुर्वेदिक उपचार, घरेलू उपचार, gharelu nuskhe in hindi for health, alternative medicine in hindi,metabolism booster, metabolism definition, fast metabolism, high cholesterol, how to reduce cholesterol

Loading...

Loading...
, , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , ,

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *