पेट के कैंसर से संबंधित इन लक्षणों को इग्नोर करना हो सकता है आपने लिए घातक , Stomach cancer se related in lakshano ko ignore karna ho sakta hai aapke liye ghaatak.
पेट के कैंसर से संबंधित इन लक्षणों को इग्नोर करना हो सकता है आपने लिए घातक , Stomach cancer se related in lakshano ko ignore karna ho sakta hai aapke liye ghaatak.

पेट के कैंसर से संबंधित इन लक्षणों को इग्नोर करना हो सकता है आपने लिए घातक | Stomach cancer se related in lakshano ko ignore karna ho sakta hai aapke liye ghaatak.

पेट के कैंसर से संबंधित इन लक्षणों को इग्नोर करना हो सकता है आपने लिए घातक | Stomach cancer se related in lakshano ko ignore karna ho sakta hai aapke liye ghaatak.

 

हाल ही में हुए एक अध्‍ययन (research) के अनुसार, पेट में होने वाले कैंसर के बढ़ने की मुख्‍य वजह (main reason), उनके बारे में लक्षणों का पता न होना है।

दुनिया में तेजी से पेट का कैंसर फैलता (stomach cancer growing very fast) जा रहा है। पेट में कैंसर होते ही ये शरीर के अन्‍य अंगों (other body parts) में भी फैल जाता है। आपको बता दें कि अब तक पेट के कैंसर से ग्रसित लोगों में से 90 प्रतिशत लोग सर्वाइव करने की स्थिति (90% peoples are in situation of survive) में होते हैं। जिनमें से कई लोग एडवांस स्‍टेज (advance stage) तक पहुँचने के बाद भी सही हो जाते हैं।

पुरुषों को जरुर पता होने चाहिये यूरिनरी ब्‍लैडर में कैंसर (urinary blood cancer) के ये 9 लक्षण कई बार समय रहते लोग इन लक्षणों से अवगत न होने के कारण इसके भयानक रूप (dangerous shape) तक पहुँच जाते हैं और तब कुछ नहीं हो पाता है। इससे बेहतर है कि लक्षणों को कभी नकारा न जाएं (cant ignore the symptoms) और तुंरत ही डॉक्‍टर से सम्‍पर्क (contact the doctor) किया जाएं। हफ्ते में दो बार कच्‍ची लहसुन का सेवन बचाएगा फेफड़ों के कैसर (lungs cancer) से हाल ही में हुए एक अध्‍ययन के अनुसार, पेट में होने वाले कैंसर के बढ़ने की मुख्‍य वजह, उनके बारे में लक्षणों का पता न होना है।

यह भी पढ़ें :- जानिये पेट की मालिश के सेहत के लिए यह 9 फायदे

जानिए इस आर्टिकल में इन लक्षणों के बारे में: Jaaniye is article se cancer ki symptoms ke baare mein

  1. अपच या पेट में जलन- Indigestion ya acidity- पेट में हर समय जलन महसूस (always feeling acidity) होना या अपच की समस्‍या होना, पेट में कैंसर होने का एक लक्षण (symptoms of cancer) हो सकता है।
  2. पेट में दर्द या असहजता – Uncomfortable ya stomach pain- पेट में दर्द (sudden pain in stomach) लगातार बने रहना या अचानक से तेजी से होना व असहज महसूस (sometimes feeling uncomfortable) होना भी पेट के कैंसर का एक लक्षण है।
  3. उल्‍टी या मतली – Vomiting- कई बार इसमें मतली महसूस होती रहती है। खाने की महक पसंद नहीं आती है (sometimes not like the smell of the food) और उल्‍टी भी हो जाती है।
  4. डायरिया या कब्‍ज – Diarrhea or Constipation – कुछ भी बेकार न खाया हो लेकिन फिर भी डायरिया हो गया हो या कब्‍ज (not eaten anything bad but still feel bad in stomach) की समस्‍या हमेशा बनी रहती हो, तो पेट में कैंसर हो सकता है।
  5. पेट में ऐंठन – Stiffness in Stomach- अगर पेट में हमेशा ऐंठन बनी रहती है तो ये दिक्‍कतदायी (painful) हो सकता है। इसे नकारें नहीं बल्कि डॉक्‍टर से इसकी जांच (go to doctor for checkup) करवाएं।      यह भी पढ़ें :- जानिये कैंसर के लक्षण एवं घरेलु देसी नुस्खे
  6. भूख न लगना – Not willing to eat food- भूख न लगना, इस बीमारी का प्राथमिक लक्षण है। अत: अगर कोई खाना खाने में लम्‍बे समय से (ignoring the food) कोताही बरत रहा है तो उसे डॉक्‍टर को अवश्‍य दिखाएं।
  7. कमजोरी और थकान – Weakness- शरीर में सक्रिय हुई कैंसर कोशिकाएं (cancer tissues), शरीर की सारी ऊर्जा को खींच (sucks all the energy of body) लेती हैं और रोगी को कमजोर महसूस (feeling weak) होता है। साथ ही उसे छोटा सा काम करने में भी बहुत ज्‍यादा थकान लगती है।
  8. ब्‍लीडिंग – Bleeding- पेट का कैंसर होने पर ब्‍लीडिंग (cause of cancer sometimes bleeding starts) हो सकती है। महिलाओं की मासिक धर्म की तरह रक्‍त आ सकता है जिससे वो भ्रम में पड़ जाती हैं। साथ ही उल्‍टी या मल में भी खून (blood comes in vomit) आने लगता है।

आयुर्वेदिक उपचार, घरेलू उपचार, आयुर्वेदिक उपचार, दादी माँ के नुस्खे , घरेलू नुस्खे ,कैंसर के लक्षण, कैंसर के प्रकार, गले के कैंसर के लक्षण, मुंह के कैंसर के लक्षण

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*