Namak ke is asaan prayog se kariye har tarah ke bukhar ki chuuti| Jaaniye bukhar ke gharelu nuskhe
Namak ke is asaan prayog se kariye har tarah ke bukhar ki chuuti| Jaaniye bukhar ke gharelu nuskhe

नमक के इस आसान प्रयोग से करिये हर तरह के बुखार की छुट्टी | जानिये बुखार के घरेलू नुस्खे | Namak ke is asaan prayog se kariye har tarah ke bukhar ki chuuti| Jaaniye bukhar ke gharelu nuskhe

नमक के इस आसान प्रयोग से करिये हर तरह के बुखार की छुट्टी | जानिये बुखार के घरेलू नुस्खे | Namak ke is asaan prayog se kariye har tarah ke bukhar ki chuuti| Jaaniye bukhar ke gharelu nuskhe

 

बुखार आना सामान्य बात (normal thing) है। बदलते मौसम (in the changing atmosphere) में बच्चों से लेकर बड़े तक बुखार की चपेट में आ जाते हैं। और ये बुखार मलेरिया (malaria) और वायरल फीवर (viral fever) के नाम से जाने जाते हैं।

कई बार हल्का बुखार होने पर भी लंबे समय (for long time)) तक बना रहता है। जिसकी वजह से शरीर अचानक से कमजोर (sudden weakness in body) हो जाता है। लेकिन अब आपको परेशान होने की जरूरत (nothing to worry) नहीं है।

इसका इलाज है नमक। कैसे आप नमक के इस्तेमाल से इस गंभीर बुखार से राहत (relief in this serious fever) और आराम पा सकते हैं।

CLICK HERE TO READ: आजमाएं मच्छरो को दूर भगाने के अयुर्वेदिक और कुदरती नुस्खे

नमक का प्रयोग बुखार भगाने में

बुखार को खत्म करने के लिए आप भुने हुए नमक का इस्तेमाल (use roasted salt) करें।

भुना नमक बनाने का तरीका

खाना बनाने वाले साधे नमक को तवे में डालकर हल्की आंच (low flame) पर तब तक सेकें जब तक इसका रंग भूरा व काला न (brown or black in color) हो जाए। अब इसे ठंडा कर लें। और किसी शीशी में भर (fill in bottle) कर रख दें।

कैसे करे इस्तेमाल – How to use

जब कभी आपको या आपके परिवार (family) में से किसी को बुखार आ रहा हो तो। एक गिलास गर्म पानी में एक चम्मच इस नमक को डालकर पीएं। और जब बुखार उतर गया हो फिर से एक बारी गर्म पानी (warm water) में एक चम्मच इस नमक को डालकर पीएं। एैसा करने से बुखार वापस पलट कर नहीं आता है।

ये उपाय आप खाली पेट करें (use this empty stomach)। और इसके आधे घंटे तक कुछ न खाएं। साथ ही इस बात का भी ध्यान रखें कि रोगी को किसी भी तरह ठंड नहीं लगनी चाहिए।

CLICK HERE TO READ: जानिये टाइफाइड बुखार से बचाव के लिए 10 घरेलू इलाज | टाइफाइड के 10 आयुर्वेदिक उपचा

चेतावनी – WARNING

जिन लोगों को हाई ब्लडपे्रशर (high blood pressure) और दिल की समस्या (heart problem) हो वे इस उपाय को न अपनाएं।

क्या करें यदि बुखार सादा हो – What to do in normal fever situation

    -रोगी को यदि प्यास अधिक लग रही हो तो उसे गर्म पानी (hot water) को ठंडा करके पिलाएं।

   – बुखार आने पर रोगी को दलिया, खिचड़ी और चाय (tea) देते रहें।

    -बुखार होने पर करेले की सब्जी जल्दी फायदा (fast relief) करती है।

    -दाल का सूप (soup) पीते रहने से बुखार में राहत (relief in fever) मिलती है।

    -बुखार में दूध का सेवन नहीं (avoid milk in fever) करना चाहिए।

    -बुखार को हल्के में न लें। यदि इन उपायों से बुखार न उतर रहा हो तो बिना देर किए रोगी को डाक्टर (go to doctor without wasting time) के पास ले जाएं।

gharelu nuskhe, dadi maa ke nuskhe, desi nuskhe, दादी माँ के नुस्खे , देसी नुस्खे,home remedies for fever, symptoms of typhoid, symptoms of dengue

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*