जानिये हाई ब्लड प्रेशर के लिए कुछ घरेलू नुस्खे , Know High Blood Pressure Home Remedies
जानिये हाई ब्लड प्रेशर के लिए कुछ घरेलू नुस्खे , Know High Blood Pressure Home Remedies

जानिये हाई ब्लड प्रेशर के लिए कुछ घरेलू नुस्खे – Know High Blood Pressure Home Remedies

जानिये हाई ब्लड प्रेशर के लिए कुछ घरेलू नुस्खे – Know High Blood Pressure Home Remedies

हाई ब्लड प्रेशर आजकल सामान्य (high blood is normal these days) हो चला है। इसकी बड़ी वजह अनियमित दिनचर्या (irregular daily routine) और आधुनिक जीवन (modern life style) शैली है। ग्रामीण इलाकों (village area) की तुलना में शहरी लोग अधिक तेजी से इसके शिकार (victim) हो रहे हैं।

हाई ब्लड प्रेशर में चक्कर (swirling) आने लगते हैं, सिर घूमने लगता है। रोगी (patient) का किसी काम में मन नहीं लगता। उसमें शारीरिक काम (physical strength) करने की क्षमता नहीं रहती और रोगी अनिद्रा का शिकार (victim of sleeping disorder) रहता है। इस रोग का घरेलू उपचार (home remedy) भी संभव है, जिनके सावधानीपूर्वक इस्तेमाल करने से बिना दवाई लिए इस भयंकर बीमारी पर पूर्णत: नियंत्रण (can control this dangerous disease) पाया जा सकता है। जरूरत है संयमपूर्वक (patience) नियम पालन की। आइए जानें (lets know) हाई ब्लड प्रेशर के लिए (home remedies) घरेलू उपाय।

यह भी पढ़ें :- दिल को तंदरुस्त और सेहतमंद रखने में आयुर्वेद है मददगार| Ayurveda is helpful for maintaining health of heart

हाई ब्लड प्रेशर के लिए घरेलू उपाय – Home Remedies for High Blood Pressure

1) नमक (salt) ब्लड प्रेशर बढाने वाला प्रमुख (main source) कारक है। इसलिए यह बात सबसे महत्वपूर्ण (very important) है कि हाई बी पी वालों को नमक (use less salt in high BP) का प्रयोग कम कर देना चाहिए।

2) उच्च रक्तचाप का एक प्रमुख कारण होता है रक्त का गाढा (thick blood) होना। रक्त गाढा होने से उसका प्रवाह धीमा (low blood circulation) हो जाता है। इससे धमनियों (arteries) और शिराओं (veins) में दवाब बढ (pressure increases) जाता है। लहसुन (garlic) ब्लड प्रेशर ठीक करने में बहुत मददगार (very helpful) घरेलू उपाय है। यह रक्त का थक्का (blood clot) नहीं जमने देती है। धमनी की कठोरता में (healthy) लाभदायक है। रक्त में ज्यादा कोलेस्ट्ररोल (cholesterol) होने की स्थिति का समाधान (solution) करती है।

3) एक बडा चम्मच आंवले का रस (amla ras) और इतना ही शहद (honey) मिलाकर सुबह-शाम लेने से हाई ब्लड प्रेशर में लाभ (benefit in high blood pressure) होता है।

4) जब ब्लड प्रेशर बढा हुआ हो तो आधा गिलास मामूली गर्म पानी (luke warm water) में काली मिर्च पाउडर (black pepper powder) एक चम्मच घोलकर 2-2 घंटे के फ़ासले से पीते रहें। ब्लड प्रेशर सही करने का बढिया (good treatment) उपचार है।

5) तरबूज के बीज की गिरि (watermelon seeds) तथा खसखस अलग-अलग पीसकर बराबर मात्रा में मिलाकर रख लें। एक चम्मच मात्रा में प्रतिदिन खाली (eat one sppon everyday) पेट पानी के साथ लें।

6) बढे हुए ब्लड प्रेशर को जल्दी कंट्रोल करने के लिये आधा गिलास पानी में आधा नींबू (drink half lemon juice) निचोड़कर 2-2 घंटे के अंतर से पीते रहें। हितकारी (good treatment) उपचार है।

7) पांच तुलसी के पत्ते (basil leaves) तथा दो नीम की पत्तियों (neem leaves) को पीसकर 20 ग्राम पानी में घोलकर खाली पेट (drink empty stomach) सुबह पिएं। 15 दिन में लाभ नजर आने लगेगा।

हाई ब्लडप्रेशर के मरीजों (patients of high blood pressure) के लिए पपीता (papaya is also good) भी बहुत लाभ करता है, इसे प्रतिदिन खाली पेट (chew it daily) चबा-चबाकर खाएं।

यह भी पढ़ें :- जानिये कुछ उपयोगी घरेलू नुस्खे जो आयेंगे आपके हर वक्त काम

यह भी पढ़ें :- जानिये योग से जुड़ी ऐसी बातें है जो आप शायद नहीं जानते

9) नंगे पैर (barefoot) हरी घास पर 10-15 मिनट चलें। रोजाना चलने से ब्लड प्रेशर नार्मल (blood pressure comes to normal) हो जाता है।

10) सौंफ़, जीरा, शक्कर तीनों बराबर मात्रा (equal quantity) में लेकर पाउडर (powder) बना लें। एक गिलास पानी (one glass water) में एक चम्मच मिश्रण (mixture) घोलकर सुबह-शाम पीते रहें।

11) पालक और गाजर का रस (spinach and carrot juice) मिलाकर एक गिलास रस सुबह-शाम पीयें, लाभ (benefit to you) होगा।

12) करेला (bitter gourd) और सहजन की फ़ली उच्च रक्त चाप-रोगी के लिये परम (very helpful) हितकारी हैं।

13) गेहूं व चने के आटे (flour in equal quantity) को बराबर मात्रा में लेकर बनाई गई रोटी खूब (chew it properly) चबा-चबाकर खाएं, आटे से चोकर (bran) न निकालें।

14) ब्राउन चावल (brown rice) उपयोग में लाए। इसमें नमक, कोलेस्टरोल (cholesterol) और चर्बी (fat) नाम मात्र की होती है। यह उच्च रक्त चाप रोगी के लिये बहुत ही लाभदायक (healthy food) भोजन है।

15) प्याज (onion) और लहसुन (garlic) की तरह अदरक (ginger) भी काफी फायदेमंद होता है। बुरा कोलेस्ट्रोल (bad cholesterol) धमनियों की दीवारों पर प्लेक (plaque) यानी कि कैल्शियम युक्त मैल (dirt of calcium) पैदा करता है जिससे रक्त के प्रवाह में अवरोध (hurdle in blood circulation) खड़ा हो जाता है और नतीजा उच्च रक्तचाप (result comes as high blood pressure) के रूप में सामने आता है। अदरक में बहुत हीं ताकतवर एंटीओक्सीडेट्स (power antioxidants) होते हैं जो कि बुरे कोलेस्ट्रोल को नीचे लाने (reduces bad cholesterol) में काफी असरदार होते हैं। अदरक से आपके रक्तसंचार (improves blood flow) में भी सुधार होता है, धमनियों के आसपास की मांसपेशियों (muscles) को भी आराम (rest) मिलता है जिससे कि उच्च रक्तचाप नीचे (down high blood pressure) आ जाता है।

16) तीन ग्राम मेथीदाना पावडर सुबह-शाम पानी (morning and evening with water) के साथ लें। इसे पंद्रह दिनों तक लेने से लाभ (benefit) मालूम होता है.

दादी माँ के नुस्खे, घरेलू नुस्खे gharelu nuskhe in hindi for health, dadimaa ke nuskhe,home remedies for high blood pressure, low blood pressure in hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*