जानिये सुबह एक-दो मुट्ठी काले चने खाने से सेहत कैसे अच्छी हो सकती है , Jaaniye subah ek do mutthi kaale chane khaane se sehat kaise acchi ho sakti hai
जानिये सुबह एक-दो मुट्ठी काले चने खाने से सेहत कैसे अच्छी हो सकती है , Jaaniye subah ek do mutthi kaale chane khaane se sehat kaise acchi ho sakti hai

जानिये सुबह एक-दो मुट्ठी काले चने खाने से सेहत कैसे अच्छी हो सकती है | Jaaniye subah ek do mutthi kaale chane khaane se sehat kaise acchi ho sakti hai

जानिये सुबह एक-दो मुट्ठी काले चने खाने से सेहत कैसे अच्छी हो सकती है | Jaaniye subah ek do mutthi kaale chane khaane se sehat kaise acchi ho sakti hai

 

● एक सस्ता (cheap) और आसान सा दिखने वाला चना हमारे सेहत के लिए कितना फायदेमंद (helpful) है हम इस पोस्ट (post) में जानने का प्रयास करेगे. काले चने भुने हुए हों, अंकुरित हों या इसकी सब्जी बनाई हो, यह हर तरीके से सेहत के लिए बहुत ही फायदेमंद (good for health) होते हैं। इसमें भरपूर मात्रा में कार्बोहाइड्रेट्स (carbohydrates), प्रोटीन्स (protein), फाइबर (fiber), कैल्शियम (calcium), आयरन (iron) और विटामिन्स (vitamins) पाए जाते हैं।

● शरीर को सबसे ज्यादा फायदा (benefit) अंकुरित काले चने खाने से होता है, क्योंकि अंकुरित चने क्लोरोफिल, विटामिन ए, बी, सी, डी और के, फॉस्फोरस, पोटैशियम (potassium), मैग्नीशियम (magnesium) और मिनरल्स (minerals) का अच्छा स्रोत (good source) होते हैं। साथ ही इसे खाने के लिए किसी प्रकार की कोई खास तैयारी नहीं करती पड़ती। रातभर भिगोकर सुबह एक-दो मुट्ठी खाकर हेल्थ अच्छी हो सकती है।

CLICK HERE TO READ: जानिये आजीवन स्वस्थ रहने के लिए इन 19 घरेलू नुस्खे के बारे में

》 चने ज्यादा महंगे भी नहीं होते और इसमें बीमारियों से लड़ने के गुण भी छिपा हुए हैं। Not costly and effective in fighting with infections and diseases.

1) कब्ज (constipation) से राहत मिलती है चने में मौजूद फाइबर (fiber) की मात्रा पाचन के लिए बहुत जरूरी (important for digestion) होती है।* रातभर भिगोए हुए चने से पानी अलग कर उसमें नमक, अदरक (ginger) और जीरा मिक्स कर खाने से कब्ज जैसी समस्या से राहत (relief from problem) मिलती है। साथ ही जिस पानी में चने को भिगोया गया था, उस पानी को पीने से भी राहत मिलती है। लेकिन कब्ज दूर करने के लिए चने को छिलके सहित ही खाएं।

2) ये एनर्जी बढ़ाता (it grows energy) है कहा तो यहाँ तक जाता है इंस्टेंट एनर्जी (instant energy) चाहिए, तो रातभर भिगोए हुए या अंकुरित चने में हल्का सा नमक (salt), नींबू (lemon), अदरक के टुकड़े और काली मिर्च (black pepper) डालकर सुबह नाश्ते में खाएं (eat in breakfast), बहुत फायदेमंद होता है। आप चने का सत्तू भी खा सकते हैं। यह बहुत ही फायदेमंद होता है।गर्मियों (in summers) में चने के सत्तू में नींबू और नमक मिलाकर पीने से शरीर को एनर्जी तो मिलती ही है, साथ ही भूख भी शांत होती है।

3) पथरी की प्रॉब्लम दूर करता है (releases the problem of stone) दूषित पानी और खाने से आजकल किडनी (kidney) और गॉल ब्लैडर (gall bladder) में पथरी की समस्या आम (is a normal problem) हो गई है। हर दूसरे-तीसरे आदमी के साथ स्टोन की समस्या हो रहीहै। इसके लिए रातभर भिगोए हुए काले चने में थोड़ी सी शहद (honey) की मात्रा मिलाकर खाएं। रोजाना इसके सेवन से स्टोन के होने की संभावना काफी कम (very less possibility) हो जाती है और अगर स्टोन है तो आसानी से निकल जाता है। इसके अलावा चने के सत्तू और आटे से मिलकर बनी रोटी भी इस समस्या से राहत दिलाती है।

4) काला चना शरीर की गंदगी (wastage of body) को पूरी तरह से बाहर भी निकालता है ।

● एनर्जी बढ़ाता है, डायबिटीज से छुटकारा मिलता है,एनीमिया की समस्या दूर होती है, बुखार में पसीना (problem of sweat in fever) आने की समस्या दूर होती है, पुरुषोंके लिए फायदेमंद, हिचकी में राहत दिलाता है, जुकाम (cough) में आराम मिलता है, मूत्र संबंधित रोग (urine related problems) दूर होते हैं, त्वचा की रंगत निखारता (improves skin glow) है।

CLICK HERE TO READ: आजमाएं मच्छरो को दूर भगाने के अयुर्वेदिक और कुदरती नुस्खे

● डायबिटीज से छुटकारा दिलाता है चना ताकतवर (powerful) होने के साथ ही शरीर में एक्स्ट्रा ग्लूकोज की मात्रा को कम (reduce extra glucose in the body) करता है जो डायबिटीज के मरीजों के लिए कारगर होता है। लेकिन इसका सेवन सुबह-सुबह खाली पेट करना (eat early morning empty stomach) चाहिए। चने का सत्तू डायबिटीज़ से बचाता है (save you from diabetes)। एक से दो मुट्ठी चने का सेवन ब्लड शुगर की मात्रा को भी नियंत्रित (control) करने के साथ ही जल्द आराम पहुंचाता है।

● एनीमिया की समस्या दूर होती है शरीर में आयरन की कमी से होने वाली एनीमिया (anemone) की समस्या को रोजाना चने खाकर दूर किया जा सकता है। चने में शहद मिलाकर खाना जल्द असरकारक होता है। आयरन से भरपूर चना एनीमिया की समस्या को काफी हद तक कम कर देता है। चने में 27 फीसदी फॉस्फोरस (phosphorus) और 28 फीसदी आयरन होता है जो न केवल नए बल्ड सेल्स (blood cells) को बनाता है, बल्कि हीमोग्लोबिन (hemoglobin) को भी बढ़ाता है।

● हिचकी में राहत दिलाए हिचकी (hiccup) की समस्या (problem) से ज्यादा परेशान हैं, तो चने के पौधे के सूखे पत्तों का धूम्रपान (smoke) करने से हिचकी आनी बंद हो जाती है। साथ ही चना आंतों/इंटेस्टाइन (intestine) की बीमारियों के लिए भी काफी फायदेमंद होता है।

● बुखार में पसीना आने पर बुखार में ज्यादा पसीना (sweat in fever) आने पर भुने हुए चने को पीसकर, उसमें अजवायन (ajwain) मिलाएं। फिर इससे मालिश (massage) करें। ऐसा करने से पसीने की समस्या खत्म (finish) हो जाती है।

● मूत्र संबंधित रोग में आराम भुने हुए चने का सेवन करने से बार-बार पेशाब जाने की बीमारी दूर होती है। साथ ही गुड़ व चना खाने से यूरीन से संबंधित (urine related problems) किसी भी प्रकार की समस्या में राहत मिलती है। रोजाना भुने हुए चनों के सेवन से बवासीर (piles) ठीक हो जाती है।

● पुरुषों के लिए फायदेमंद चीनी-मिट्टी के बर्तन में रातभर भिगोए हुए चने को चबा-चबाकर खाना पुरुषों के लिए बहुत फायदेमंद होता है। पुरुषों की कई प्रकार की कमजोरी (some weakness of mens) की समस्या खत्म होती है। जल्द असर के लिए भीगे हुए चने के साथ दूध भी पिएं। भीगे हुए चने के पानी में शहद मिलाकर पीने से पौरुषत्व (man power) बढ़ता है।

● त्वचा की रंगत निखारता है चना केवल हेल्थ के लिए ही नहीं, स्किन के लिए भी बहुत फायदेमंद (good for skin too) है। चना खाकर चेहरे की रंगत को बढ़ाया जा सकता है। वैसे चने की फॉर्म बेसन को हल्दी (use with besan and haldi) के साथ मिलाकर चेहरे पर लगा.

gharelu nuskhe, dadi maa ke nuskhe, desi nuskhe, दादी माँ के नुस्खे , देसी नुस्खे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*