जानिये पेट की मालिश के सेहत के लिए यह 9 फायदे , Jaaniye pet ki maalish ke sehat ke liye yeh 9 faayde, Top 9 Benefits of Abdominal Stomach Massage
जानिये पेट की मालिश के सेहत के लिए यह 9 फायदे , Jaaniye pet ki maalish ke sehat ke liye yeh 9 faayde, Top 9 Benefits of Abdominal Stomach Massage

जानिये पेट की मालिश के सेहत के लिए यह 9 फायदे | Jaaniye pet ki maalish ke sehat ke liye yeh 9 faayde| Top 9 Benefits of Abdominal / Stomach Massage

जानिये पेट की मालिश के सेहत के लिए यह 9 फायदे |Jaaniye pet ki maalish ke sehat ke liye yeh 9 faayde| Top 9 Benefits of Abdominal / Stomach Massage

 

पेट की मालिश का प्रयोग (use) हमारे यहां प्राचीन काल से ही चला आ रहा है। इसके चिकित्सकीय गुणों (medical benefits) से आज का समाज अभी तक अंजान है। पेट की मालिश करने से जिंदगी सेहतमंद (healthy life) बन सकती है। यह दर्द, तनाव (stress) और पेट की खराबी से आराम (relief) दिलाता है।

पेट की मालिश करने के लिये ज्‍यादा मेहनत नहीं करनी पड़ती। आप इसे रोजाना (regular) कर सकती हैं और शारीरिक तथा मानसिक रूप (physically and mentally fit) से फिट हो सकती हैं। पेट की मालिश या मसाज करने से पहले सबसे पहले पीठ के बल जमीन पर लेट जाएं (lay down on your back)। उसके बाद हाथों में तेल लगाएं और गोलाई में घुमाते हुए मसाज करें। 3 मिनट में 30 से 40 बार गोलाई में मजाज करें।

● इसकी गर्माहट को महसूस करें (feel the heat) और दिमाग को पूरी तरह से शांत (calm) कर के अपना ध्‍यान (concentration) मालिश में लगाएं। हफ्ते भर की जाने वाली यह 3 मिनटों की मसाज आपको कई पेट संबन्‍धित रोगों से छुटकारा दिलाएगी (can give relief from stomach problems)।

CLICK HERE TO READ: जानिये तनाव से मुक्ति के 20 उपाय| Jaaniye tanaav se mukti ke 20 upaaye

आइये जानते हैं पेट की मालिश करने के स्‍वास्‍थ्‍य लाभों के बारे में नीचे…

1) मोटापा घटाए – पेट की मालिश करने से चयापचय दर बढ़ती है और पाचन को बढ़ावा (improves digestion system) मिलता है। यह उन लोगों के लिये अच्‍छी हो सकती है जो लोग वेट कम करने की बहुत मेहनत करते हैं (working hard) और उन्‍हें किसी भी चीज का कोई फायदा नहीं (no benefit from anything) मिलता।

2) पेट फूलने की समस्‍या – खाना ठीक से हजम न होने की वजह से पेट फूलना और उसमें गैस बनने की समस्‍या (problem of gas) होती है। लेकिन पेट की मालिश करने से पेट की गैस आराम से निकल जाती है और अपच (no problem of indigestion) भी नहीं होता।

3) कब्‍ज से छुटकारा – कब्‍ज और पेट के दर्द से छुटकारा मिलता है (Relief from constipation)। पेट की मालिश रोजाना करें।

4) पेट दर्द से छुटकारा – पेट में अगर दर्द होता हो तो, मालिश करने से उस जगह का ब्‍लड सर्कुलेशन बढ़ (growing blood circulation) जाता है। इससे पेट की मासपेशियों को गर्माहट (muscles getting warm) मिलती है, जिससे आपको आराम (rest) मिलेगा।

5) गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल की सेहत में सुधार – नियमित रूप से पेट की मालिश करने (regular massage( पर आपको कभी भी पेट का कोई रोग नहीं होगा। पेट फूलना, पेट में दर्द (stomach ache), गैस आदि सब ठीक हो जाएगी और पेट की मासपेशियां पूरी तरह से टोन्‍ड (toned) हो जाएंगी। साथ ही अपच की समस्‍या भी दूर होगी।

CLICK HERE TO READ: सावधान कहीं आपके साथ भी तो ऐसा नही हो रहा ?

6) तनाव और चिंता से छुटकारा – मालिश से तनाव कम होता है (reduces stress) और दिमाग पूरी तरह से शांत और रिलैक्‍स (calm and relax) हो जाता है। इससे दिमागी सुकून (mental relief) मिलता है

7) होती है पतली कमर – पेट पर मसाज करने से वहां की मासपेशियां टोन्‍ड हो जाती हैं। आपकी लटकती हुई कमर कुछ ही दिनों में शेप (come back in shape) में आ जाती है। इसके साथ टम्‍मी टाइट बन जाती है।

8) पीरियड्स क्रैंप – Periods Cramps- मालिश करते वक्‍त लौंग, लेवेंडर या दालचीनी का तेल प्रयोग करने से पेडु के दर्द में लाभ मिलेगा।

9) कब नहीं करनी चाहिये पेट की मालिश – अगर आप प्रेगनेंट हैं (pregnant), किडनी स्‍टोन (kidney stone), गॉलस्‍टोन (gallbladder stone), पेट में अल्‍सर (ulcer), प्रजनन अंगों में सूजन (swelling) या फिर आंतरिक रक्तस्राव (internal bleeding) हो रहा हो तो मालिश न करें।

gharelu nuskhe, dadi maa ke nuskhe, desi nuskhe, दादी माँ के नुस्खे , देसी नुस्खे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*