जानिये गर्भावस्था के बाद पेट का मोटापा- वजन कम करने के 10 नुस्खे , Jaaniye garbhavastha ke baad pet ka motapa ya weight loss karne ke 10 nuskhe , Few Tips for Lossing Weight After Pregnancy
जानिये गर्भावस्था के बाद पेट का मोटापा- वजन कम करने के 10 नुस्खे , Jaaniye garbhavastha ke baad pet ka motapa ya weight loss karne ke 10 nuskhe , Few Tips for Lossing Weight After Pregnancy

जानिये गर्भावस्था के बाद पेट का मोटापा- वजन कम करने के 10 नुस्खे | Jaaniye garbhavastha ke baad pet ka motapa ya weight loss karne ke 10 nuskhe | Few Tips for Loosing Weight After Pregnancy

जानिये गर्भावस्था के बाद पेट का मोटापा- वजन कम करने के 10 नुस्खे  | Jaaniye garbhavastha ke baad pet ka motapa ya weight loss karne ke 10 nuskhe | Few Tips for Loosing Weight After Pregnancy

 

मां बनना बड़ा ही सुखद एहसास (happy felling) होता है, लेकिन उसके बाद जब शरीर भारी (heavy body) हो जाता है तब बड़ी परेशानी (problem) होती है। आप बहुत प्रयास करती हैं कि आपका वजन कम हो जाए लेकिन आपको केवल नाकामयाबी के और कुछ हाथ नहीं लगता। लेकिन अगर आप अपनी डाइट में परिवर्तन (changes in diet) लाकर रेगुलर एक्‍सरसाइज (regular exercise) करें तो जरुर फरक पडे़गा।

● आपको ध्‍यान में रखना होगा कि वजन तुरंत नहीं घटेगा बल्कि इसके लिये कुछ महीने (it take few months) लगेंगे। आपको हर हफ्ते का प्‍लान (make weekly plan) बना कर चलना होगा, कि आप हर हफ्ते कम से कम 1 किलो वजन तो कम कर के ही रहेंगी। अगर आप ऐसा करने में कामयाब (successful) रहीं तो आप अपना वजन 6-8 महीने में ही कम कर लेंगी। अगर आपकी डिलवरी आपरेशन (delivery from operation) से हुई है, तो इस मामले में आपको अपने डॉक्‍टर से सलाह (take suggestion from doctor) ले कर वजन कम करने की सोचनी चाहिये।

यहां पर कुछ तरीके दिये गए हैं, जिनको आजमा कर आप अपने वजन पर काबू पा सकती हैं-

CLICK HERE TO READ: जानिये माहवारी -मासिक धर्म के सभी दुःख- दोषों को दूर करने के नुस्खे

1) कोई भी फिटनेस प्रोग्राम (fitness program) शुरु करने से पहले हमेशा अपनी डॉक्‍टर की सलाह लें।

2) रोजाना 10 से 12 ग्‍लास पानी (drink water) कम से कम पिएं।

3) स्‍नैक (snacks) में हमेशा पौष्‍टिक चीज़ खाएं जैसे, किशमिश, पॉपकार्न (popcorn), गेहूं के बिस्‍कुट और खूब सारे मेवे।

4) साबुत अनाज से बना ब्रेड, पास्‍ता (pasta) आदि खाएं ना कि सफेद ब्रेड (white bread)।

5) कभी भी बाजार के उन प्रोडक्‍ट्स (products) से प्रभावित ना हों , जिसपे नॉन फैट (non fat) लिखा हो। ज्‍यादातर प्रोडक्‍ट में कैलोरीज़ (calories) और मोटापा बढाने वाले तत्‍व मिले होते हैं।

CLICK HERE TO READ: Pregnancy mein diet and health ke nuskhe

6) अपने आपको फास्‍ट फूड (fast food) और सड़क किनारे का भोजन (road side food) खाने से बचाएं।

7) डिलवरी के बाद हमेशा लाइट एक्‍सरसाइज से शुरुआत (start with light exercise) करनी चाहिये। अपने बच्‍चे को रोजाना 10 मिनट की वॉक (walk) पर ले कर जाएं और धीरे-धीरे अपनी वॉक को 10 मिनट से 20 मिनट की करें। इससे आपका बच्‍चा भी खुश रहेगा और आपकी वॉक भी हो जाएगी।

8) अगर आप ने ऑफिस office) जाना शुरु कर दिया है तो अपनी कार (car) या स्‍कूटी (scooty) को पार्किंग वाली जगह (parking place) से कुछ दूर पर खड़ा करें और पैदल चलना शुरु करें। इसके अलावा लिफ्ट (lift) लेने की बजाए हमेशा सीढ़ियों का प्रयोग (use ladders) करें।

9) ब्रेस्‍टफीडिंग (breast feeding) करवाने से 500 कैलोरी रोजाना बर्न होती है। इसलिये अगर आप अपने शिशु को ज्‍यादा देर तक स्‍तनपान करवाएंगी, आपकी कैलोरी उतनी ही ज्‍यादा बर्न (calories burn) होगी।

gharelu nuskhe, dadi maa ke nuskhe, desi nuskhe, दादी माँ के नुस्खे , देसी नुस्खे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

error: Content is protected !!