जानिये और इस्तेमाल करिये यह 8 आहार और फिर मक्‍खन की तरह पिघलेगी चर्बी , Jaaniye aur istemaal kariye yeh 8 ahaar aur fir makkhan ki tarah pighlegi charbi
जानिये और इस्तेमाल करिये यह 8 आहार और फिर मक्‍खन की तरह पिघलेगी चर्बी , Jaaniye aur istemaal kariye yeh 8 ahaar aur fir makkhan ki tarah pighlegi charbi

जानिये और इस्तेमाल करिये यह 8 आहार और फिर मक्‍खन की तरह पिघलेगी चर्बी | Jaaniye aur istemaal kariye yeh 8 ahaar aur fir makkhan ki tarah pighlegi charbi

जानिये और इस्तेमाल करिये यह 8 आहार और फिर मक्‍खन की तरह पिघलेगी चर्बी | Jaaniye aur istemaal kariye yeh 8 ahaar aur fir makkhan ki tarah pighlegi charbi

कुछ खाद्य पदार्थों (eating products) को अपने आहार में शामिल कर आप आसानी से फैट कम (easily reduce fat) कर सकते हैं, ऐसे खाद्य पदार्थ मेटाबॉलिज्‍म (metabolism) को बढ़ाकर शरीर से फैट निकालने वाले हार्मोन (hormone) को अधिक सक्रिय करते हैं, तो क्‍यों न उन आहारों का सेवन किया जाये।

1) चर्बी कम करने के उपाय :-
बढ़ते वजन से परेशान ज्‍यादातर लोगों के लिए वजन घटाने की कोशिश एक मुद्दे की तरह होती है। इसके लिए वह जिम, योग और विशेष प्रकार की डाइट (gym, yog and special diet) को भी अपनाते हैं। इन तरीकों में से अधिकांश बहुत प्रभावी होते हैं। लेकिन क्‍या आप जानते हैं कि कुछ खाद्य पदार्थों को अपने आहार में शामिल कर आप आसानी से फैट कम करने में सफल हो सकते हैं। हालांकि आपको इस बात पर विश्‍वास (believe) नहीं हो रहा होगा लेकिन यह सच है ऐसे खाद्य पदार्थ चयापचय को बढ़ाकर, फैट की रिहाई करने वाले हार्मोंन को उत्‍तेजित (attract) कर, शरीर के विषैले पदार्थों (toxic products) को बाहर कर फैट घटाने में मदद करते हैं। इसलिए इन खाद्य पदार्थों को अपने स्‍वस्‍थ आहार योजना का हिस्‍सा बनाना बहुत महत्‍वपूर्ण (very important) है। यहां जल्‍दी से फैट को कम करने वाले ऐसे ही जादुई आहार के बारे में जानकारी दी गई है।

2) बड़े काम का है केला :-
केले को हमेशा से ही वजन बढ़ाने वाला खाद्य पदार्थ माना जाता है। लेकिन आपको यह जानकर बहुत आश्‍चर्य होगा कि केला फैट को जलाने वाला फल (fruit who burn fat) है। इस फल में मौजूद प्रतिरोधी स्‍टार्च (starch) पेट में मौजूद अच्छे बैक्टीरिया के कारण, पेट में फैटी एसिड (fatty acid) में परिवर्तित हो जाती है। यह चयापचय फैट में मदद कर फैट को रोकने में मदद करता है। वजन कम करने के लिए आप इसे स्‍मूदी या फ्रूट सलाद (smoothy or fruit salad) के रूप में ले सकते हैं।

CLICK HERE TO READ: Jeere se motapa ghatane ke nuskhe, weight loss by using jeera

3) बादाम भी है फायदेमंद :-
बादाम के फायदे के बारे में भला कौन नहीं जानता। प्रोटीन से भरपूर यह नट्स (nuts) मांसपेशियों के निर्माण के साथ-साथ शरीर में फैट को भी जमा नहीं होने देते। फैट को जलाने में मदद करने के कारण बादाम को चयापचय को बढ़ावा देने के लिए भी जाना जाता है। पेंसिलवेनिया स्टेट यूनिवर्सिटी के क्लाएर बेरीमैन के अनुसार, कार्बोहाइड्रेट (carbohydrates) वाले खाद्य पदार्थों के बजाय हर रोज नाश्ते में बादाम का सेवन करने से हृदय संबंधी रोगों का खतरा तो कम (reduce heart problems) होता ही है। साथ ही शरीर में जमने वाली अतिरिक्त वसा को भी नियंत्रण (control extra fat) में रखा जा सकता है। बादाम को हर रोज नाश्ते में शामिल कर मेटाबॉलिक और हृदय रोगों के खतरों को आसानी से कम किया जा सकता है। बादाम को आप कच्‍चे या पानी में भिगोकर भी खा सकते हैं।

4) साबुत अनाज :-
साबुत अनाज फैट को कम करने का एक स्मार्ट विकल्प (smart option) है। अनाजों को अपने आहार में शामिल करने से शरीर के विषैले तत्‍व बाहर निकलते हैं और शरीर का फैट कम होता हैं। साबुत अनाज सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होते है। इसमें विटामिन ई, विटामिन बी और अन्य तत्व जैसे जिंक (zinc), सेलेनियम, कॉपर (copper), आयरन (iron), मैगनीज एवं मैग्नीशियम आदि प्राप्‍त किया जा सकते हैं। साथ ही इनमें फाइबर (fiber) भी प्रचुर मात्रा में पाया जाता है। जिससे वजन कम करने में मदद मिलती है।

5) नारियल का तेल :-
नारियल का तेल (coconut oil) मध्यम श्रृंखला ट्राइग्लिसराइड्स से समृद्ध होता है। यह फैटी एसिड शरीर द्वारा जल्‍दी पच (quick digestion) जाता है, इस तरह से यह शरीर में जमा नहीं होता, लेकिन शरीर द्वारा ऊर्जा के उत्पादन (energy production) के उपयोग कर सकते हैं। वजन घटाने के उद्देश्‍य को पूरा करने के लिए नारियल का तेल खाना पकाने के लिए तेल का एक बेहतरीन विकल्‍प (good option) है।

CLICK HERE TO READ: आइए अप्नाये इस वजन कम करने के घरेलू नुस्खों को और राह सके हमेशा चुस्त दुरुस्त

6) मक्‍खन की तरह चर्बी पिघलाती हैं दालें :-
दालें भारतीय भोजन का सबसे महत्वपूर्ण हिस्‍सा है (important part of indian diet) और इसके विभिन्‍न प्रकार के स्‍वास्‍थ्‍य लाभ (health gains) होते हैं। यह आयरन का अच्‍छा स्रोत (source) है और इसकी कमी चयापचय को धीमा (slow) कर सकती है। अपने आहार में नियमित रूप (regular use) से दालों को शामिल कर चयापचय दर को बनाये रखने और फैट को प्रभावी रूप से कम करने में मदद मिलती है। अकुरित दालों को आप सलाद के रूप में भी ले सकते हैं।

7) फैट के लिए भी तीखी है लाल मिर्च :-
लाल मिर्च में फैट को जलाने के प्रभाव होते हैं। मिर्च कैप्सेसिन से भरपूर होने के कारण ऑक्सीकरण द्वारा पेट वसा को कम करने में मदद करता है। यह चयापचय को बढ़ाकर शरीर से कैलोरी को जलाने में मदद करती है। ब्रिटेन में हुए एक शोध (research in britain) के अनुसार, लाल मिर्च शरीर में व्याप्त अवांछित कैलोरी जलाने एवं मोटापा घटाने में मददगार साबित होती है। मिर्च में मौजूद कैप्सेसिन तत्व, मिर्च को गर्मी देकर भूख कम करता है और कैलॉरी को जलाते (burning calories) हुए ऊर्जा की खपत बढ़ा सकता है।

8) ब्रोकली खाओ चर्बी मिटाओ :-
ब्रोकली खाने से न केवल स्‍वास्‍थ्‍य और पोषण मिलता है, बल्कि इस‍में लो कैलोरी (low calories) होने की वजह से वजन भी कम होता है। ब्रोकोली में मौजूद फिटोनुट्रिएंट एंजाइम को उत्‍तेजित कर, वसा कोशिकाओं में वसा को जलाने के लिए उत्तेजित करता है। अब आप जब भी सब्‍जियां खरीदने (buying vegetables) जाएं, तो ब्रोकली को कभी नजरअंदाज (Avoid) न करें। आप इसका सेवन सब्‍जी या सलाद के रूप में कर सकते हैं।

9) बड़े काम का है एवोकैडो :-
एवोकैडो के विभिन्‍न स्‍वास्‍थ्‍य लाभ (various health gains) है और यह मोनो अनसैचुरेटेड से भरपूर होता है। यह चयापचय में सुधार (improvement) करने के लिए जाना जाता है और मुक्‍त कणों से होने वाली कोशिका क्षति को रोकने में मदद करता है। आप इस फल को सलाद या स्‍मूदी के रूप में ले सकते हैं। इसका सलाद बनाने के लिए आप प्याज, टामाटर और हरी मिर्च को एक साथ मिला लें। इसमें नींबू का रस (lemon juice) डालें और साथ ही पेपर और नमक (pepper or salt) भी डालें। इन सब सामग्री (ingredients) को अच्छी तरह से मिक्स कर लें। अब एवोकैडो डालकर अच्छी तरह मिक्स (mix) कर लें।

gharelu nuskhe, dadi maa ke nuskhe, desi nuskhe, दादी माँ के नुस्खे , देसी नुस्खे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*