जानिये आखिर क्यों सर पर लगी चोट हो सकती है आपके लिए जानलेवा | Head Injury can be very dangerous, know why

जानिये आखिर क्यों सर पर लगी चोट हो सकती है आपके लिए जानलेवा | Head Injury can be very dangerous, know why

Head Injury can be very dangerous, know why

मोहन लगातार अपने सर दर्द को नजरअंदाज (ignoring head injury) कर रहा था। लेकिन अब उसे पता चला है कि उसे ब्रेन ट्यूमर (brain tumor) हो गया है। ये ब्रेन ट्यूमर दो साल पहले सर पर लगी चोट का परिणाम (result of injury) थी। वर्तमान में मोहन को ऑपरेशन (operation) कराना है और कई तरह की एहतियात बरतनी है। मोहन की तरह अगर आपने भी सर पर लगी चोट को नजरअंदाज (ignore) कर दिया है तो इस शोध (research) पर एक सरसरी नजर डालें।

केस-कंट्रोल स्टडी (case control study) के अनुसार हेड इंजरी (head injury) के बाद अगले 13 सालों तक उसका खतरा (danger) बना रहता है। ग्लासगो के अस्पताल (Glasgow hospital) में हेड इंजरी के लिए एडमिट हुए युवाओं में से 40 प्रतिशत से अधिक युवाओं की 13 साल बाद मौत हो गई।

अगर आप वर्किंग वुमन है तो अपनाएं यह डाइट-चार्ट | Diet chart for working womens

स्वस्थ लोग जीतें है अधिक – Healthy Peoples Lives More

शोध में 602 पुरुष और 155 महिलाओं को शामिल किया गया जिनकी औसत उम्र (average age) 43 थी। इन लोगों को शामिल करने के बाद इन्हें कुछ सालों तक फॉलो (follow for few years) किया गया। इन कुछ सालों में और शोध के अंत में 305 लोगों की मौत हो गई। ये लोग हेड इंजरी के शिकार (victims) थे। वहीं हॉस्पीटलाइज (hospitalized) होने वाले 215 लोगों की मौत होती है जबकि स्वस्थ लोगों (healthy patients) में केवल 135 लोगों की मौत होती है।

ब्रेन स्टेम एरिया है संवेदनशील – Brain Stem Area is Very Sensitive

हेड इंजरी का सीधा कनेक्शन ब्रेन स्टेम एरिया (brain stem area) से होता है जो शरीर के अन्य भागों की तुलना में ज्यादा संवेदनशील (sensitive)  होता है। सिर के किसी भी हिस्से में (any part of head) लगी कोई भी चोट खतरनाक होती है, लेकिन ब्रेन स्टेम एरिया ज्यादा संवेदनशील होता है, क्योंकि शरीर की सभी नसों का संपर्क (contact with all veins) यहीं से होता है। इसलिए ब्रेन स्टेम एरिया को नुकसान होने से मौत की संभावना अधिक (more possibilities of death) हो जाती है।

कई बार तो बिना बाहरी चोट के भी ब्रेन में गहरी इंजरी (deep injury) हो जाती है। ऐसी स्थिति (situation) में बाहर से घाव दिखाई नहीं देता, लेकिन मस्तिष्क को नुकसान हो सकता है।

आखिर क्यों जरूरत से ज्यादा सोचना है सेहत के लिए नुकसानदेय जानिये 8 कारण

Click here to read:-  10 Symptoms and Natural Treatment of Piles | Hemorrhoids क्या करें- What To Do

 

सर पर चोट लगने को कभी भी हल्के (never take head injury lightly) में ना लें। सिर पर लगी किसी भी प्रकार की चोट में तुरंत चिकित्सक से संपर्क (contact the doctor) करें।  एक बार सीटी स्कैन (citi scan) करा लें तो बेहतर है।

आयुर्वेदिक उपचार, घरेलू उपचार, natural healing in hindi, household remedies in hindi, Head Injury can be very dangerous, know why

, , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , ,

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *