जानिये अगर रहना है निरोगी तो रोज सुबह गर्म पानी, शहद और नींबू के साथ मिक्स करे हल्‍दी फिर देखिये कमाल, Jaaniye agar rehna hai nirogi to roj subah garam pani, shahad aur nimboo ke saath mix kare haldi phir dekhiye kamaal.
जानिये अगर रहना है निरोगी तो रोज सुबह गर्म पानी, शहद और नींबू के साथ मिक्स करे हल्‍दी फिर देखिये कमाल, Jaaniye agar rehna hai nirogi to roj subah garam pani, shahad aur nimboo ke saath mix kare haldi phir dekhiye kamaal.

जानिये अगर रहना है निरोगी तो रोज सुबह गर्म पानी, शहद और नींबू के साथ मिक्स करे हल्‍दी फिर देखिये कमाल, Jaaniye agar rehna hai nirogi to roj subah garam pani, shahad aur nimboo ke saath mix kare haldi phir dekhiye kamaal.

जानिये अगर रहना है निरोगी तो रोज सुबह गर्म पानी, शहद और नींबू के साथ मिक्स करे हल्‍दी फिर देखिये कमाल, Jaaniye agar rehna hai nirogi to roj subah garam pani, shahad aur nimboo ke saath mix kare haldi phir dekhiye kamaal.

 

ज्‍यादातर लोग (mostly people) सुबह उठते ही गर्म पानी (warm water) और नीबू का सेवन करते हैं। इससे उनका पेट साफ (clean stomach) रहता है और शरीर की गंदगी (toxic come out from body) बाहर निकलती है। डाइट (diet) में ज्‍यादा हल्‍दी से हो सकते हैं ये साइड इफेक्‍ट (side effects) हम सभी नींबू और गर्म पानी पीने का फायदा जानते हैं मगर क्‍या आप जानते हैं कि अगर इसी मिश्रण (mixture) में थोड़ी सी हल्‍दी भी मिक्‍स कर दी जाए तो इसके गुण और भी बढ़ जाते हैं।

CLICK HERE TO READ: आइए संक्षेप में जाने के जागने के तुरंत बाद क्यों पियें ताजा पानी

आइये जानते हैं हल्‍दी वाला पानी कैसे बनाते हैं : Lets know how to make turmeric water for drinking.

सामग्री- 1/2 नींबू
1/4 – 1/2 टी स्‍पून हल्‍दी
गरम पानी
थोड़ी सी शहद (वैकल्पिक)

विधि – एक गिलास (one glass) में आधा नींबू निचोड़ कर उसमें हल्‍दी और गरम पानी मिला कर चलाएं। फिर उसमें स्‍वादअनुसार शहद मिलाएं। आप चाहें तो चम्‍मच को गिलास (glass) में ही रहने दें क्‍योंकि हल्‍दी कुछ ही समय बाद नीचे बैठ जाती है, जिसको बार बार हिलाना पड़ता है(mix again and again)। अब आइये जानते हैं हल्‍दी और नींबू पानी पीने के क्‍या स्‍वास्‍थ्‍य लाभ (health benefits) हैं.

1. शरीर की सूजन घटाए (reduce swelling in body)- शरीर में चाहे जितनी भी सूजन क्‍यूं ना हो, इसे पीने से वह भी कम हो जाती है। इसमें करक्यूमिन (cir-cumin) नामक एक रसायन (chemical) पाया जाता है जो दवा (medicine) के रूप में काम करता है।

CLICK HERE TO READ: नमक के इस आसान प्रयोग से करिये हर तरह के बुखार की छुट्टी | जानिये बुखार के घरेलू नुस्खे

2. दिमाग की सुरक्षा करे- भूलने की बीमारी जैसे डिमेंशिया और अल्‍जाइमर (Alzheimer) को भी इसके नियमित सेवन (by taking regular) से कम किया जा सकता है। हल्‍दी दिमाग के लिये काफी अच्‍छी होती है (turmeric is good for health)।

3. एंटी-कैंसर (anti cancer) के गुणो से भरा- करक्यूमिन होने के नाते हल्‍दी एक ताकतवर एंटीऑक्‍सीडेंट (strong antioxidant) होती है। यह कैंसर पैदा करने वाली कोशिकाओं से लड़ती है (fighting with the cancer tissues).

4. पेट ठीक रखे- रिसर्च (research) के मुताबिक हल्‍दी रोजाना खाने से पित्‍त ज्‍यादा बनता है, जिसे खाना आराम से हजम (food digest easily) होता है।

5. दिल की सुरक्षा करे- हल्‍दी वाला पानी पीने से खून नहीं जमता और खून की धमनियों में जमाव भी हट जाता है।

6. अर्थराइटिस के लक्षणों को मिटाए- करक्यूमिन की वजह से यह जोड़ों के दर्द (joint pain) और सूजन को दूर करने में दवाइयों से भी ज्‍यादा अच्‍छा काम करता है।

7. उम्र घटाए- हल्‍दी का पानी नियमित रूप से पीने पर फ्री रैडिकल्‍स (free radical) से लड़ने में सहायता मिलती है जिससे शरीर पर उम्र का असर (reduces age effect) धीरे पड़ता है।

CLICK HERE TO READ: Nimbu ek, Faayde Anek- Jaaniye aur apnaiye nimbu ke yeh asaan nuskhe

8. टाइप 2 डायबिटीज का खतरा टले- बायोकेमिस्‍ट्री (biochemistry) और बायोफिजिकल रिसर्च (biophysical research) की स्‍टडी के अनुसार हल्‍दी के नियमित सेवन से ग्‍लूकोज का लेवल कम हो सकता है और टाइप 2 डायबिटीज का खतरा टल सकता है।

9. लिवर को बचाए- हल्‍दी का पानी जिगर की रक्षा टॉक्‍सिक चीज़ों से करता है और खराब हो चुके लिवर सेल्‍स (liver cells) को दुबारा ठीक करने में मदद करता है। यह पित्ताशय के काम को ठीक करने में मदद (help) करता है।

gharelu nuskhe, dadi maa ke nuskhe, desi nuskhe, दादी माँ के नुस्खे , देसी नुस्खे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*