क्या आपको पता है मृत्यु (मौत) के बारे में यह कुछ अजब गज़ब बातें , Kya aapko pata hai maut ke bare mein yeh kuch ajab gajab baatein.
क्या आपको पता है मृत्यु (मौत) के बारे में यह कुछ अजब गज़ब बातें , Kya aapko pata hai maut ke bare mein yeh kuch ajab gajab baatein.

क्या आपको पता है मृत्यु (मौत) के बारे में यह कुछ अजब गज़ब बातें | Kya aapko pata hai maut ke bare mein yeh kuch ajab gajab baatein.

क्या आपको पता है मृत्यु (मौत) के बारे में यह कुछ अजब गज़ब बातें | Kya aapko pata hai maut ke bare mein yeh kuch ajab gajab baatein.

 

अपनी मौत से ज्यादा (fear of death) डर तो दूसरो की मौत से लगता हैं. यह एक अटल सत्य (universal truth) है कि death होगी ही होगी इसे कोई नही रोक (no one can stop death) सकता. जब किसी क मृत्यु के बारे में सुनते है तो रूह काँप (whole body shivers) जाती हैं. क्या आपको पता है कि हर दिन कितनी (how many deaths daily) मौत होती है ? नही ना.. आज हम आपको मौत के बारे में ऐसे ही कुछ बातें बताने जा रहे है (We are telling you some facts about death) जो बहुत कम लोग जानते हैं.

CLICK HERE TO READ: किसी भी कार्य में सफलता पाने के लिए अप्नाये यह 8 सूत्र

 

  1. करीब 1,59,635 लोगो की मृत्यु उसी दिन होगी, जिस दिन आपकी (Same day of your death).
  1. किसी भी व्यक्ति की मौत की वजह बुढ़ापा नही, बल्कि बुढ़ापे में होने वाले (diseases comes in old age) रोग हैं.
  1. यदि आदमी का सिर काट (head cut) दिया जाए तो भी वह 20 सेकेंड तक जिंदा (alive) रहता हैं. लेकिन अगर किसी आदमी के सिर में गोली लग (bullet in the head) जाए तो वह तुरंत मर जाता हैं. ऐसा हर बार नही (not always) होता.
  1. सुबह 3:00 से 4:00 बजे के बीच आपका शरीर सबसे कमज़ोर (very weak) होता है. यही कारण है कि ज़्यादातर लोगो की नींद में मृत्यु (death in the sleep) इसी समय होती है.
  1. धरती (land) की तुलना में पानी में शव (dead body) 4 गुना तेजी से सड़ता हैं.
  1. मौत के 3 दिन बाद ही हमारे पेट में पाए जाने वाले एन्जाइम्स (enzymes- जो भोजन को पचाने का काम करते है) वो शरीर को ही अंदर से खाने (eating your body from inside) लगते है.
  1. डाॅक्टरो की खराब लिखावट (because of bad writings of doctors) के कारण हर साल 7 हजार लोगो की मौत (7,000 people died yearly) हो जाती हैं.
  1. उल्टे हाथ (left handed) से लिखने वाले लोग सीधे हाथ (right handed) से लिखने वाले लोगो की तुलना (comparatively) में 3 साल पहले मरते है.
  1. शार्कों द्वारा हर साल (because of sharks) सिर्फ 12 मनुष्य मारे जाते है बल्कि हमारे द्वारा हर घंटे 11,417 शार्क मारी जाती हैं.
  1. इस बात की ज्यादा संभावना है (more possibility) कि आपकी मौत आतंकवादी हमले (terrorist attack) की बजाय बाथरूम में पैर फिसलने (foot slip in bathrom) या बिजली गिरने से हो.

CLICK HERE TO READ: 6 साधारण नुस्खे रातभर मे चेहरे पर ग्लो लाने के

 

  1. भारत में हर घंटे एक महिला की मौत दहेज संबधी (dowry related problems) कारणों से होती हैं.
  1. जिन बीमारियों का इलाज आसानी (easy treatment) से किया जा सकता है उनकी वजह से भी हर साल 4 लाख से ज्यादा मौतें होती हैं.
  1. प्रथम विश्वयुद्ध (1st world war) में 4 करोड़ और द्वितीय विश्वयुद्ध (2nd world war) में 6 करोड़ लोग मारे गए थे.
  1. मरे हुए आदमी (dead person) को पिछले साढ़े 3 लाख सालों से जलाते (burn) आ रहे हैं.
  1. हर साल 150 लोगो की मौत सिर पर नारियल गिरने (coconut fall on head) की वजह से होती हैं.
  1. दुनिया में हर 40 सैकेंड में एक आत्महत्या (suicide) होती हैं.
  1. हर 90 सैकेंड में एक महिला की मौत बच्चा पैदा (while giving birth to baby) करते समय होती हैं.
  1. यह भी संभव हैं, कि किसी की मौत दिल टूटने (died because of heart broken) से हो इसे “Stress Cardiomyopathy” कहते हैं.
  1. जब दिल काम करना बंद कर देता है (when heart stops) तो त्वचा का रंग सफेद या बैंगनी (white or purple) हो जाता हैं.
  1. मौत के बाद शरीर का जो अंग धरती के सबसे नजदीक (nearest to the land) होता हैं खून का बहाव (blood flow) भी उसी तरफ हो जाता हैं और फिर खून जम जाता हैं एसा शायद गुरूत्वाकर्षण (might be cause of gravity) के कायण होता हैं.
  1. शरीर के अन्य अंगो की तुलना (comparatively to other body parts) में कान सबसे ज्यादा देर में खराब होते है. यानि सुनने की क्षमता सबसे अंत (ears ends in the last) तक रहती हैं.

CLICK HERE TO READ: महाभारत की ऐतिहासिक 11 ऐसी कहानियां जिनके बारे में आपने शायद कभी भी किसी से सुना नहीं होगा

 

  1. आज तक कुल (till now total) मिलाकर 100 अरब लोग मारे जा चुके हैं.
  1. फांसी देने के बाद आदमी का लिंग सख्त (hard testicles) हो जाता है और कभी-कभी तो मरने के बाद इससे वीर्य स्खलन भी हो जाता हैं.
  1. क्या मरने के बाद भी नाखून (nail grown after death?) बढ़ते है ? मरने के बाद अंगुलियों (fingers) और पैरों (legs) के नाखून सूखने लगते हैं और सिकुड़ने (shrink) लगते हैं जिससे कभी-कभी ऐसा लगता है कि ये बढ़ गए हो.
  1. ये कैसे पता लगता है कि लाश कितने दिन (how old is dead body) पुरानी है ? मृत शरीर पर पाए जाने वाले कीड़ो की प्रजातियाँ देखकर पता लगता है कि मौत कितने दिन पहले हुई थी.

आयुर्वेदिक उपचार, घरेलू उपचार, आयुर्वेदिक उपचार, दादी माँ के नुस्खे , घरेलू नुस्खे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*