कोलॅस्ट्रोल घटाने व कार्य क्षमता बढ़ाने का अचूक आयुर्वेदिक नुस्खा , Control Your Cholesterol by using these natural remedies
कोलॅस्ट्रोल घटाने व कार्य क्षमता बढ़ाने का अचूक आयुर्वेदिक नुस्खा , Control Your Cholesterol by using these natural remedies

कोलॅस्ट्रोल घटाने व कार्य क्षमता बढ़ाने का अचूक आयुर्वेदिक नुस्खा | Control Your Cholesterol by using these natural remedies

कोलॅस्ट्रोल घटाने व कार्य क्षमता बढ़ाने का अचूक आयुर्वेदिक नुस्खा | Control Your Cholesterol by using these natural remedies

 

अपनी कार्य क्षमता बढ़ा कर सफल होने, स्फूर्तिवान होने व चर्बी घटा (reducing fat) कर तन्दरूस्त होने का यह आजमाया हुआ नुस्खा है। अनेक लोगों ने इसका प्रयोग कर सफलता पाई है।

नुस्खा निम्न प्रकार है:

मिश्रण: 50 ग्राम मेथी$ 20 ग्राम अजवाइन$10 ग्राम काली जीरी

बनाने की विधिः- मेथी, अजवाइन तथा काली जीरी को इस मात्रा में खरीद कर साफ कर लें। तत्पश्चात् प्रत्येक वस्तु को धीमी आंच (Low Gas) में तवे के उपर हल्का सेकें। सेकने के बाद प्रत्येक को मिक्सर-ग्राइंडर (Mixer Grinder)  में पीसकर पाउडर बनालें। तीनों के पाउडर (powder) को मिला कर पारदर्शक डिब्बे में भर लेवें। आपकी अमूल्य दवाई (priceless Medicine) तैयार है।

दवाई लेने की विधिः– तैयार दवाई को रात्रि (night) को खाना खाने के बाद सोते समय 1 चम्मच गर्म पानी के साथ लेवें। याद रखें इसे गर्म पानी के साथ ही लेना है। इस दवाई को रोज लेने से शरीर के किसी भी कोने में अनावश्यक चर्बी/ गंदा मैल मल मुत्र के साथ शरीर से बाहर निकल जाता है, तथा शरीर सुन्दर स्वरूपमान बन जाता है। मरीज को दवाई 30 दिन से 90 दिन तक लेनी होगी।

CLICK HERE TO READ: जानिये कोलेस्ट्राल घटाने के बहुत ही आसान नुस्खे

लाभः– इस दवाई (medicine) को लेने से न केवल शरीर में अनावश्यक चर्बी दूर हो जाती है बल्किः-

 शरीर में रक्त का परिसंचरण (blood circulation) तीव्र होता है। ह्नदय रोग से बचाव होता है तथा कोलेस्ट्रोल घटता है।

    1 पुरानी कब्जी (Constipation) से होेने वाले रोग दूर होते है। पाचन शक्ति बढ़ती है।

    2 गठिया वादी हमेशा के लिए समाप्त होती है।

   3  दांत मजबूत बनते है। हडिंया (bones) मजबूत होगी।

    4 आॅख का तेज बढ़ता है कानों से सम्बन्धित रोग व बहरापन (duffness) दूर होता है।

    5 शरीर में अनावश्यक कफ (cough) नहीं बनता है।

   6  कार्य क्षमता बढ़ती है, शरीर स्फूर्तिवान (energetic) बनता है। घोड़े के समान तीव्र चाल बनती है।

    7 चर्म रोग दूर होते है, शरीर की त्वचा की सलवटें दूर होती है, टमाटर (tomato) जैसी लालिमा लिये शरीर क्रांति-ओज मय बनता है।

    8 स्मरण शक्ति (brain memory power) बढ़ती है तथा कदम आयु भी बढ़ती है, यौवन चिरकाल तक बना रहता है।

CLICK HERE TO READ: Cholesterol ko kam karne ki ayurvedic vidhi aur nuskhe

    9 पहले ली गई एलोपेथिक दवाईयां के साइड इफेक्ट को कम करती है।

    10 इस दवा को लेने से शुगर (डायबिटिज) नियंत्रित (control) रहती है।

    11 बालों की वृद्धि तेजी से होती है।

    12 शरीर सुडौल, रोग मुक्त बनता है।

 परहेजः– 1. इस दवाई को लेने के बाद रात्रि मंे कोई दूसरी खाद्य-सामग्री नहीं खाएं।

  – यदि कोई व्यक्ति धुम्रपान (smoking) करता है, तम्बाकू-गुटखा खाता या मांसाहार करता है तो उसे यह चीजे छोड़ने पर ही दवा फायदा पहुचाएंगी।

  – शाम का भोजन करने के कम-से-कम दो घण्टे बाद दवाई लें।

gharelu nuskhe, dadi maa ke nuskhe, desi nuskhe, दादी माँ के नुस्खे , देसी नुस्खे,metabolism booster, metabolism definition, fast metabolism, high cholesterol, how to reduce cholesterol

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*