करें ये 4 चीजें अगर अपनी उम्र से 6 साल ज्यादा जीना चाहते हो तो , Do these things if you want to live 6 years more
करें ये 4 चीजें अगर अपनी उम्र से 6 साल ज्यादा जीना चाहते हो तो , Do these things if you want to live 6 years more

करें ये 4 चीजें अगर अपनी उम्र से 6 साल ज्यादा जीना चाहते हो तो | Do these things if you want to live 6 years more

करें ये 4 चीजें अगर अपनी उम्र से 6 साल ज्यादा जीना चाहते हो तो | Do these things if you want to live 6 years more

जीवन अनमोल (life is precious) है, इसे जितनी जिंदादिली के साथ जिएंगे उतना ही जीवन का आनंद (enjoy the life) उठा पाएंगे। जिंदगी को खुशहाल बनाने के लिए शरीर और मन का स्‍वस्‍थ (healthy body and mind) होना बहुत जरूरी है। अगर आप स्‍वस्‍थ नही हैं तो जीवन कष्‍टकारी (painful life) ही रहेगा। आज हम आपको जिंदगी जीने की ऐसी 4 बातें बताने जा रहें हैं, जिनका अनुशरण (follow) कर आप अपनी उम्र से 6 साल अधिक जीवित रह सकते हैं। यह हम नही कह रहे हैं बल्कि ऐसा वैज्ञानिकों ने अलग-अलग रिसर्च (scientists prove this in research) में साबित किया है।

यह भी पढ़ें :- जानिये क्या होता है जब एक दूसरे से नज़रे मिलती है

कम खाएं और ज्यादा जियें- Eat Less love More

अगर आप ज्यादा दिन जीना (want to live more) चाहते है तो कम खाना चाहेंगे ? यह प्रश्न विस्कोनीसन यूनिवर्सिटी के द्वारा उठाया गया है जिसमे उन्होंने कम कैलोरी युक्त भोजन के लाभ (benefits of less calorie food) के बारे में अपनी शोध प्रक्रिया की है। शोध में पाया गया है की रेहसुस बन्दर (monkey) को जब उसकी नियमित खुराक से कम भोजन दिया गया तो उसके जीवनकाल (lifetime) में लगभग 6 वर्ष की बढ़ोत्तरी (growth) पायी गयी। और यूनिवर्सिटी के जर्नल में ये भी प्रकाशित (printed) हुआ की इनमे अन्य बीमारियो जैसे हृदयाघात (heart attack), डायबिटीज (diabetes) और अन्य बीमारियो का खतरा भी कम हुआ। पहले कैज्ञानिको (scientists) का कहना था की अच्छे और लंबे जीवन(long life) के लिए 30 % कैलोरी कम किया जाना चाहिए पर अब वो मानते है की इसे और भी कम करना चाहिए। पर इसके लिए अभी और शोध (need more research) होना चाहिए।

यह भी पढ़ें :- जानिये के आखिर शरीर की नसों में दर्द होने का मतलब क्या है

नियमित जांच कराएं- Regular Medical Checkup

अगर हम अपने डॉक्टर से नियमित जाँच (regular checkup) करवाते रहे तो अपने शरीर में होने वाली कुछ बीमारियो का पता पहले से लग जाने के कारण ये हमारे स्वाथ्य के लिए लाभदायक (health benefits) होगा जैसे की हमे अगर डायबिटीज के लक्षण (symptoms of diabetes) होंगे तो हम पहले से परहेज़ कर के इस बीमारी से काफी हद तक बच सकते है। सेंटर ऑफ़ डिजीज कण्ट्रोल एंड प्रिवेंशन (center of disease control and prevention) के डेटा के अनुसार 37 % पुरुष जिनकी उम्र 18 से 29 वर्ष के बीच है जल्दी अपने डॉक्टर से नियमित जाँच क लिए संपर्क (never contact doctor for checkup) ही नही करते।

जेनाइटल हर्पस की समस्‍या- Suffering from Genital Herpes

सीडीसी के अनुसार प्रति 6 में से 1 व्यक्ति 14 से 49 की उम्र तक में जननांग दाद (Genital Herpes) से ग्रसित (infected) होता है। कंडोम का प्रयोग (using condom) करके इसके वायरस को संक्रमण से रोक जा सकता है परंतु ये पूरी तरह से सुरक्षित (not safe) नहीं है। पेनिंसिलविन्या यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं ने  एक trivalent वैक्सीन के बारे में पता लगाया है जो की वायरस के तीन विभिन्न भागो पर आघात (attacking 3 parts) करती है अभी इसका परिक्षण केवल monkeys और Guiana pigs पर किया गया है और मनुष्यो (soon test will be done on humans) पर बीएचई जल्दी किया जाएगा।

CLICK HERE TO READ: मसाज रखती है आपके पूरे शरीर, दिल और दिमाग को स्वस्थ

फोन से बनाएं दूरी- Stay away from Mobile Phone

दुनिया भर के लोग अकाउंट हैकिंग (account hacking) जैसी समस्या से ग्रसित है। 24% लोगो ने ये मन है की उनका सोशल अकाउंट (social account) उनके पार्टनर या फ्रैंड्स के द्वारा हैक (hack) किया जाता है। ब्रिटिश कोलंबिया यूनिवर्सिटी (british Columbia university) के रिसर्चर्स कहते है की पहले लोग केवल प्रोफाइल पिक्‍चर (profile picture) या स्टेटस बदलने के लिए करते थे परंतु अब लोग पर्सनल मेसेज (personal message) पढ़ने के लिए करते है। इससे बचने के लिए आप ये कर सकते है की अपने पासवर्ड को समय समय (change your password on time to time) पर बदलते रहे। ऑस्ट्रेलियाई रिसर्च (Australian research) में बताया गया है की काम की अधिकता से समय पर कुछ दिनों की छुट्टी ले कर शारीर को मानसिक अवं शारीरिक आराम (give mental and physical rest to yourself) देना चाहिए इससे रक्त चाप और मानसिक चिंता से आराम (relief from blood pressure and mental stress) मिलता है।

आयुर्वेदिक उपचार, घरेलू उपचार, natural healing in hindi, household remedies in hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*