इन लोगो को लहसुन नहीं खाना चाहिये नहीं तो , in logo ko lahsun nahi khana chahiye nahi to
इन लोगो को लहसुन नहीं खाना चाहिये नहीं तो , in logo ko lahsun nahi khana chahiye nahi to

इन लोगो को लहसुन नहीं खाना चाहिये नहीं तो | in logo ko lahsun nahi khana chahiye nahi to

इन लोगो को लहसुन नहीं खाना चाहिये नहीं तो | in logo ko lahsun nahi khana chahiye nahi to

आपने सुना होगा कि लहसुन एक दवाई की (garlic works as a medicine) तरह काम करती है और अगर 1 लहसुन रोज खाली पेट खाया (empty stomach) जाए तो यह सारी बीमारी (all diseases) को दूर कर देती है। लेकिन कई बार इनका सेवन स्‍वास्‍थ्‍य के लिये घातक (sometimes it dangerous for body) भी बन जाता है।

कई बार कच्‍ची लहसुन मुंह से बदबू (bad breath), सीने में जलन (burn stomach) और शरीर से बदबू (smell from body) आने का कारण बनती है। कच्‍ची ही नहीं बल्‍कि खाने में पकाई हुई लहसुन के सेवन (eating garlic) से भी स्‍वास्‍थ्‍य खराब (unhealthy in food too) हो सकता है।

यह भी पढ़ें :-  जानिये आखिर क्या है मसल्स बढ़ाने के लिए उचित आहार

आज हम बात करेंगे कि किन्‍हें लहसुन का प्रयोग ज्‍यादा नहीं करना चाहिये। Today we are going to tell you when not to eat garlic

  1. यदि आप एंटीकॉगुलेंट दवाएं (Anticoagulant medicines) खाते हैं तो: लहसुन में खून को पतला (garlic made blood thin) करने के गुण होते हैं। अगर आप पहले से ही एंटीकॉगुलेंट दवाएं खा रहे हैं तो लहसुन ना खाएं (don’t eat garlic) नीहं तो आपको अत्‍यधिक ब्‍लीडिंग (increase bleeding) हो सकती है।
  2. डॉक्‍टर दृारा बताइ गईं दवाएं: अगर आपकी दवाई चल रही है तो बिना डॉक्‍टर से पूछे (consult doctor before eating garlic) लहसुन का ज्‍यादा सेवन ना करें।
  3. यदि आपको लीवर की समस्‍या है: लहसुन खाने से कुछ दवाइयों का असर कम (reduces the effect of medicines) पड़ जाता है। इसके अलावा लीवर दवाइयों को ब्रेकडाउन नहीं (liver cant break down medicines) कर पाता। दवाइयां, जैसे बर्थ कंट्रोल पिल्‍स (birth control pills) लहसुन के साथ खाई गई तो उल्‍टा असर (wrong effect) पड़ सकता है।
  4. अगर पेट संवेदनशील है तो: लहसुन को हजम करना थोड़ा भारी (difficult to digets garlic) हो जाता है। अगर आपका पेट हमेशा गड़बड़ (when problem in stomach) रहता है तो लहसुन कम खाएं।
  5. अगर आप प्रेगनेंट हैं: थोड़ी मात्रा में लहसुन खाना ठीक (Eating very less is fine) है लेकिन इसे घरेलू नुस्‍खे पर नियमित लेना सही (eating regular is not good) नहीं है।
  6. लो ब्‍लड प्रेशर: अगर आपका ब्‍लड प्रेशर (blood pressure) नॉर्मल की रेंज (normal range) में रहता है या फिर लो (loe BP) रहता है, तो लहसुन का कम (avoid garlic) सेवन करें। यह आपके बीपी (reduces BP) को और भी ज्‍यादा कम कर सकता है।

natural remedies in hindi, alternative medicine in hindi, natural healing in hindi, household remedies in hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*