आहार संबंधी गलतियां जो पुरुषों की आंतो को करती है खराब , Diet related mistakes jo karti hai purusho ki aanto ko kharaab
आहार संबंधी गलतियां जो पुरुषों की आंतो को करती है खराब , Diet related mistakes jo karti hai purusho ki aanto ko kharaab

आहार संबंधी गलतियां जो पुरुषों की आंतो को करती है खराब | Diet related mistakes jo karti hai purusho ki aanto ko kharaab

आहार संबंधी गलतियां जो पुरुषों की आंतो को करती है खराब | Diet related mistakes jo karti hai purusho ki aanto ko kharaab

 

क्या आप जानते हैं कि कुछ आहार संबंधी गलतियां आपके पेट की वसा को कम करने की कोशिशों पर पानी फेर सकती हैं (wash out your chances to remove fat) और आंतों को भी नुकसान पहुंचा सकती हैं?

  1. आहार संबंधी गलतियां – diet related mistakes

क्या आप वजन घटाने की मुहीम पर हैं, लेकिन आप के मोटे पेट पर अभी तक कोई फर्क (no change on your fat stomach) नहीं पड़ा है। हो सकता है कि आप इन गलतियों में से किसी एक को कर (might be you are doing one of these mistakes) रहे हैं। पेट की वसा को कम करना दिल की बीमारी (heart attack), मधुमेह (sugar), उच्च रक्तचाप (high blood pressure) तथा अन्य कई समस्याओं के आपके जोखिम को कम कर सकता है। लेकिन ये आहार संबंधी गलतियां आपके पेट की वसा को कम करने की कोशिशों पर पानी फेर सकती हैं और आंतों को भी नुकसान पहुंचा सकती हैं।

Click here to read: भगवान और इनसान | Bhagwan aur Insaan

  1. इमोशनल ईटिंग – emotional eating

भोजन करने के पीछे हमेशा भूख ही कारण नहीं होती। कई बार सुकून, तनाव से मुक्ति (relief from stress) और ईनाम (prize) भी हमें खाने के लिए मजबूर कर देता है। हालांकि जज्बाती (emotional) होकर खाने से हमारी भावनात्मक समस्याओं (emotional problems) का हल नहीं होता, बल्कि समस्याएं और (increases the problems) बढ़ जाती हैं। ऐसा करने से न केवल दिक्कत ज्यों की त्यों बनी रहती है, बल्कि हमें ओवरईटिंग (overeating) को लेकर ग्लानि भी होती है। इस आदत से पुरुषों की आंतो को भी नकसान पहुंचता है।

  1. वजन घटाने के लिए केवल व्‍यायाम – only exercise for reducing weight

स्‍वास्‍थ्‍य तथा स्‍वास्‍थ्यकर वजन बनाए रखने के लिए नियमित एक्सरसाइज (regular exercise is important) जरूरी है, लेकिन जब तक आप अपने द्वारा ली जा रही कैलोरी में कटौती (not reducing calories in food) नहीं करेंगे, इससे वजन कम करने में सहायता नहीं मिलेगी। बल्कि बिना कैलोरी में कटौती (without reducing calories) किये व्यायाम बढ़ाते जाने (increase in exercise) से तो अन्य कई अंगों के साथ-साथ आंतों को भी नुकसान हो सकता है।

  1. सो‍डियम न लेना – not taking sodium

अक्सर फिटनेस (fitness) की मुहीम पर पुरुष शक्‍कर की जगह ऐस्‍पार्टेम जैसे कम कैलोरी वाले मीठे से किए गए भोजन और पेय शामिल (food and liquid) करके अपनी कैलोरी पर पैनी नज़र रखते हैं। वे संतृप्‍त वसा से भरपूर भोजन से भी परहेज (Avoiding high fat food) करते हैं। लेकिन सोडियम का क्या? इसकी कमी से आंतो को नुकसान हो सकता है।

Click here to read: 10 aise Nukshe jo kahi bhi kabhi bhi kaam mein aa sakte hai- Jaroor padhe aur yaad rakhe

  1. ओवर इटिंग व सोड़े का अधिक सेवन – over eating and taking soda

भोजन हमेशा उतना ही करना चाहिये, जितना आपका शरीर आराम से हजम (your body can digest easily) कर सके। क्योंकि इतना ही भोजन शरीर को फायदा करता है। ओवर ईटिंग करने से भी कई स्वास्थ्य संबंधी समस्‍याएं (health related problem) हो जाती हैं जैसे मधुमेह (sugar), हाई ब्‍लड प्रेशर (high blood pressure) आदि। ओवर ईटिंग करने से शरीर को बहुत नुकसान (effects your body badly) पहुंचता है मोटापा बढ़ जाता है और हमें अपच और आंतों में समस्या हो सकती है। वहीं किसी भी रूप में सोड़े का अधिक सेवन भी आंतो (having too much soda also bad for body) को नुकसान पहुंचाता है।

  1. फाइबर न लेना व कम पानी पीना – not taking fiber and drinking less water

भोजन में रेशेदार पदार्थों का सेवन न करना (not eating fiber foods) भी आहार के संदर्भ में बुरी आदतों (its a bad habit) में शामिल होता है और आंतों को नुकसान पहुंचा सकता है। इसलिए ब्रेड (bread), बिस्किट (biscuit) आदि के स्थान पर रोटी व दलिया (oats), सब्जियों के सूप (vegetable soup), कच्चा सलाद व फलों (fruit and salad) का सेवन करें। इन सभी चीजों को धीरे-धीरे अपने आहार (add them in your diet slowly) में शामिल करें ताकि आंतों की समस्या से बचा जा सके और पूरा शरीर स्वस्थ्य रहे। वहीं कम पानी पीने से कॉन्स्टिपेशन (constipation), बदहजमी (indigestion), पेट व आंतों की समस्या, जलन (acidity), थकान जैसी समस्याएं होती हैं। इसलिए दिन भर में कम से कम तीन से चार लीटर पानी पीना (drink some good quantity of water daily) चाहिए।

  1. ओवर इटिंग की आदत – habit of over eating

किसी ने सही कहा है, ‘जीने के लिए खाएं, खाने के लिए न जिएं’। खासतौर पर जब आप बढ़ते वजन का शिकार हों तो ओवर इटिंग की आदत आपको परेशानी (over eating can cause big problem) में डाल सकती है और आपकी आंतों को भी नुकसान पहुंचा सकती है। ओवर इटिंग में लोग खाना खाने के बावजूद भी खाने की तरफ चलते रहते हैं। ऐसा करने से आंतो में समस्या सहित कई प्रकार की स्वास्थ्य सबंधी समस्याएं (you can get lots of health related problems) हो सकती हैं। ये समस्याएं तब और कई गुना गंभीर (it increase if you eat junk food) हो जाती हैं, जब आहार जंक फूड हो।

Click here to read: सुंदरकांड की यह करिश्माई चौपाई आपको हर मुसीबत से बचा सकती है

  1. आहार से जुड़ी अन्य बुरी आदतें – diet related other bad habits

पुरुषों में आहार से जुड़ी बुरी आदतें सेहत (bad habits about food) के लिए खतरे का सबब बन सकती हैं। लेकिन कई बार इन्हें चाहकर भी बदलना आसान (sometimes not eay to change) नहीं होता, लेकिन नामुम्किन भी नहीं (but its not impossible)। इसलिए सारी आदतों को एक साथ बदलने के बजाए एक-एक करके आदतों को (change the habit one by one) बदलाना शुरू करें। सभी आदतों को एक समय में बदलने की कोशिश में सफलता मिलने की संभावना (very less possibility) कम होती है। बेड टी (bed tea) अर्थात बिस्तर पर सुबह की चाय पीना, जंक फूड का अधिक सेवन (eating more junk food), कम पानी पीना, भोजन में फाइबर डाइट न लेना, बाहर की वस्तुएं खाना और खाने का कोई निश्चित समय (no proper time of eating food) न होना बुरी आदतें होती हैं, जिन्हें एक-एक कर बदला जा सकता है।

gharelu nuskhe, dadi maa ke nuskhe, desi nuskhe, दादी माँ के नुस्खे , देसी नुस्खे,how to stop smoking, how to quit smoking, marijuana in hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*