अजीनोमोटो:यह धीमा जहर है | Ajinomoto Yeh Dheema Zehar hai (a slow poison)
अजीनोमोटो:यह धीमा जहर है | Ajinomoto Yeh Dheema Zehar hai (a slow poison)

अजीनोमोटो:यह धीमा जहर है | Ajinomoto Yeh Dheema Zehar hai (a slow poison)

अजीनोमोटो:यह धीमा जहर है  |  Ajinomoto Yeh Dheema Zehar hai (a slow poison)

अजीनोमोटो- Ajinomoto

सफेद रंग का चमकीला सा दिखने वाला मोनोसोडि़यम ग्लूटामेट यानी अजीनोमोटो, एक सोडियम साल्ट (sodium salt) है। अगर आप चाइनीज़ डिश (chinese dish) के दीवाने हैं तो यह आपको उसमें जरूर मिल जाएगा क्योंकि यह एक मसाले के रूप में उनमें इस्तमाल किया जाता है। शायद ही आपको पता हो कि यह खाने का स्वाद बढ़ाने वाला मसाला वास्तव में जहर यह धीमा खाने का स्वाद नहीं बढ़ाता बल्कि हमारी स्वाद ग्रन्थियों के कार्य को दबा देता है जिससे हमें खाने के बुरे स्वाद (bad taste) का पता नहीं लगता। मूलतः इस का प्रयोग खाद्य की घटिया गुणवत्ता को छिपाने के लिए किया जाता है। यह सेहत के लिए भी बहुत खतरनाक (very dangerous for health) होता है।

CLICK HERE TO READ: एक अद्भुत औषधि ईसबगोल

जान लें कि कैसे- Know it how-

* सिर दर्द, पसीना आना और चक्कर आने जैसी खतरनाक बीमारी आपको अजीनोमोटो से हो सकती है। अगर आप इसके आदि हो चुके हैं और खाने में इसको बहुत प्रयोग करते हैं तो यह आपके दिमाग को भी नुकसान (can injured your brain) कर सकता है।

* इसको खाने से शरीर में पानी की कमी हो सकती है। चेहरे की सूजन (swelling) और त्वचा में खिंचाव महसूस होना इसके कुछ साइड इफेक्ट (side effects) हो सकते हैं।

* इसका ज्यादा प्रयोग से धीरे धीरे सीने में दर्द, सांस लेने में दिक्कत और आलस (laziness) भी पैदा कर सकता है। इससे सर्दी-जुखाम और थकान भी महसूस होती है। इसमें पाये जाने वाले एसिड सामग्रियों की वजह से यह पेट और गले में जलन भी पैदा कर सकता है।

* पेट के निचले भाग में दर्द, उल्टी आना (vomiting) और डायरिया इसके आम दुष्प्रभावों में से एक हैं।

* अजीनोमोटो आपके पैरों की मासपेशियों और घुटनों में दर्द पैदा (pain in joints) कर सकता है। यह हड्डियों को कमज़ोर (weaken bones) और शरीर द्वारा जितना भी कैल्शिम (calcium) लिया गया हो, उसे कम कर देता है।

* उच्च रक्तचाप (high blood pressure) की समस्या से घिरे लोगों को यह बिल्कुल नहीं खाना चाहिए क्योंकि इससे अचानक ब्लड प्रेशर (blood pressure) बढ़ और घट जाता है।

* व्यक्तियों को इससे माइग्रेन (migraine) होने की समस्या भी हो सकती है। आपके सिर में दर्द (headache) पैदा हो रहा है तो उसे तुरंत ही खाना बंद कर दें।

* अजीनोमोटो की उत्पादन प्रक्रिया भी विवादास्पद है : कहा जाता है कि इसका उत्पादन जानवरों के शरीर से प्राप्त सामग्री से भी किया जा सकता है।

CLICK HERE TO READ: लहसुन- मसाला भी और दवाई भी

*अजीनोमोटो बच्चों के लिए बहुत हानिकारक है (dangerous for kids)। इसके कारण स्कूल जाने वाले ज्यादातर बच्चे सिरदर्द के शिकार हो रहे हैं। भोजन में एमएसजी का इस्तेमाल या प्रतिदिन एमएसजी युक्त जंकफूड (junk food) और प्रोसेस्ड फूड (processed food) का असर बच्चों के शारीरिक और मानसिक विकास पर पड़ता है। कई शोधों (research) में यह बात साबित हो चुकी है कि एमएसजी युक्त डाइट बच्चों में मोटापे की समस्या का एक कारण है। इसके अलावा यह बच्चों को भोजन के प्रति अंतिसंवेदनशील बना सकता है। मसलन, एमएसजी युक्त भोजन अधिक खाने के बाद हो सकता है कि बच्चे को किसी दूसरी डाइट से एलर्जी (allergy) हो जाए। इसके अलावा, यह बच्चों के व्यवहार (behavior) से संबंधित समस्याओं का भी एक कारण है। छिपा हो सकता है अजीनोमोटो अब पूरी दुनिया में मैगी नूडल (maggi noodles) बच्चे बड़े सभी चाव से खाते हैं, इस मैगी में जो राज की बात है वो है Hydrolyzed groundnut protein और स्वाद वर्धक 635 Disodium ribonucleotides यह कम्पनी यह दावा करती है कि इसमें अजीनोमोटो यानि MSG नहीं डाला गया है। जबकि Hydrolyzed groundnut protein पकने के बाद अजीनोमोटो यानि MSG में बदल जाता है और Disodium ribonucleotides इसमें मदद करता है।

gharelu nuskhe, dadi maa ke nuskhe, desi nuskhe, dadi maa ke nuskhe in hindi,gharelu nukshe in hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*