अगर ठंड में एक्सरसाइज़ कर रहे है तो इन 7 बातों पर अवश्य ध्यान दे , Agar thand mein exercise kar rahe hai to in 7 baaton par avashya dhyaan de
अगर ठंड में एक्सरसाइज़ कर रहे है तो इन 7 बातों पर अवश्य ध्यान दे , Agar thand mein exercise kar rahe hai to in 7 baaton par avashya dhyaan de

अगर ठंड में एक्सरसाइज़ कर रहे है तो इन 7 बातों पर अवश्य ध्यान दे , Agar thand mein exercise kar rahe hai to in 7 baaton par avashya dhyaan de

अगर ठंड में एक्सरसाइज़ कर रहे है तो इन 7  बातों पर अवश्य ध्यान दे | Agar thand mein exercise kar rahe hai to in 7 baaton par avashya dhyaan de

कड़ाके की ठंड में एक्सरसाइज़ (doing exercise in sheer cold) करना किसी चुनौती से कम नहीं है। इन दिनों आपको खासकर दिल के मरीजों को एक्सरसाइज़ (know few things before doing exercise in winter season)करने से पहले कुछ बातों को जान लेना जरूरी है।

  1. आपको सर्दियों में एक्सरसाइज़ करने के कुछ सेफ्टी टिप्स दे रहे हैं (we are giving few safety tips) जिनसे आपको किसी भी तरह की हेल्थ प्रॉब्लम्स से बचने में (help you to keep safe in any health problem) मदद मिल सकती है।
  1. लॉन्ग वाक (long walk) पर जाने से पहले पानी पिएं- ठंड के मौसम में एक्सरसाइज़ करने से हवा ड्राई होती है, जो वायुमार्ग में पहुंचती है जिससे आपको सांस लेने में परेशानी (problem in taking oxygen) हो सकती है। इसलिए आपको लॉन्ग वाक पर जाने से पहले घर के तापमान में ही पानी पी (drink water before going) लेना चाहिए।

यह भी पढ़ें :- आयुर्वेद से शरीर की प्रतिरोधक क्षमता ऐसे बढ़ाएं सर्दियों में

 

  1. हॉट ड्रिंक्स या अल्कोहल के बाद वाक ना करें- एक्सरसाइज़ से पहले शराब या हॉट ड्रिंक्स पीने (drinking wine or hot drinks) से आपको डिहाइड्रेशन की समस्या (problem of dehydration) हो सकती है। ऐसी चीजें पीने से ब्लड वेसल्स रिलैक्स (relaxes blood vessels) हो जाती हैं और शरीर के खुले हिस्सों जैसे हाथ ड्राई होने लगते हैं।
  1. ज्यादा ठंड में एक्सरसाइज़ ना करें- हार्ट डिजीज पीड़ित (heart patients) या ऐसे लोग जिनकी हार्ट सर्जरी (heart surgery) हुई है अधिक ठंड में बाहर एक्सरसाइज़ ना करें। इससे हार्ट रेट बढ़ (it can increase heart rate) सकती है। यानि अगर विन्ड चिल्ड इंडेक्स 10 डिग्री से नीचे है, तो बाहर एक्सरसाइज़ ना करें।
  1. हल्की एक्सरसाइज़ करें- थोड़ी देर तक हल्की एक्सरसाइज़ करने से दस गुना गर्मी का उत्पादन होता है, जो ठंड पर काबू पाने के लिए (enough to control cold) काफी है। हालांकि कठोर एक्सरसाइज़ (hard exercise) करने से शरीर की गर्मी कम होने का खतरा रहता है जिससे ब्लड वेसल्स का फैलाव होता है। गर्मी पैदा करने के लिए इससे दिल पर अतिरिक्त भार पड़ता है (increase extra weight on heart) इसलिए हल्की एक्सरसाइज़ करें।

यह भी पढ़ें :- वजन घटाने के चक्कर में महिलाएं कर बैठती हैं यह गल्तियां

 

  1. वाटर स्पोर्ट्स से बचें- ठंडे पानी में स्विमिंग करने से बचें। पानी गर्मी का एक अच्छा कंडक्टर है और इसलिए इससे शरीर की गर्मी को नुकसान होता है। यानि आपका शरीर ठंड पड़ जाता है और गर्मी का उत्पादन नहीं कर पाता है।
  2.  हवा के साथ चलें- हवा के रुख के विरुद्ध चलने से विंड चिल इंडेक्स (wind chill index) बढ़ता है और एंजाइना का खतरा रहता है। अगर तेज हवा चल रही है, तो आप धीमी गति (Walk slow) से चलें। इससे आखिरी में आपको पसीना आने लग जाएगा और उसके बाद घर जाएं।

आयुर्वेदिक उपचार, घरेलू उपचार, dadi maa ke nuskhe in hindi, gharelu nukshe in hindi, ayurvedic gharelu upchar in hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*